Home » Market » StocksNifty may create new high if seen extreme global bullish environment

FY18 की दूसरी छमाही में निफ्टी बना सकता है नया हाई, 5 सेक्टर्स कर सकते हैं आउटपरफॉर्म

मार्केट अभी उतार-चढ़ाव के मूड में है, लेकिन फाइनेंशियल ईयर 2018 की दूसरी छमाही में यह नया हाई बना सकता है।

1 of

नई दिल्ली। मार्केट पिछले कुछ महीनों ने उतार-चढ़ाव के मूड में है। लेकिन फाइनेंशियल ईयर 2018 की दूसरी छमाही में यह प्रीवियस हाई को पार कर नया रिकॉर्ड बना सकता है। कॉरपोरेट अर्निंग उम्मीद के मुताबिक रहने, बेहतर जीडीपी नंबर से इकोनॉमी में ग्रोथ के संकेत, बेहतर मानसून के चलते मार्केट को मजबूती मिलने की उम्मीद है। एक्सपर्ट्स का कहना है कि आने वाले दिनों में डिमांड बढ़ेगी, जिससे कंपनियों का प्रदर्शन बेहतर रहेगा। हालांकि इस दौरान राजनीतिक अनिश्चितता एक मुद्दा रहेगा। आने वाले चुनावों में बीजेपी का प्रदर्शन कमजोर रहा तो मार्केट एक दायरे में आ सकता है। फिलहाल अगले एक साल के दौरान निवेशकों को ऑटो, कंस्ट्रक्शन, फार्मा, आईटी और एग्री शेयरों में अच्छा रिटर्न मिल सकता है। 

 

 

 

नदीम मुस्तफा, सीईओ, एपिक रिसर्च  
एपिक रिसर्च के नदीम मुस्तफा का कहना है कि अभी कुछ दिन मार्केट 5 से 7 फीसदी की रेंज में रेंज बाउंड में रहेगा। लेकिन फाइनेंशियल ईयर की दूसरी छमाही में डिमांड बढ़ने से इसमें तेजी आएगी। उनका कहना है कि कॉरपोरेट अर्निंग बेहतर रहा है। चौथी तिमाही में जीडीपी ग्रोथ 7.7 फीसदी एक अच्छा नंबर है, जिससे मार्केट शॉर्ट टर्म से मिड टर्म में पॉजिटिव रिएक्ट करेगा।

 

जीडीपी ग्रोथ की बात करें तो 7 फीसदी पर एक बेस बन गया है, जो इकोनॉमी फिर से ट्रैक पर आने के संकेत हैं। वहीं, आगे मानसून बेहतर रहा तो मार्केट को अच्छा सपोर्ट मिलेगा। हालांकि महंगाई एक चिंता है लेकिन ओवरऑल डिमांड बढ़ने से मार्केट में अच्छी तेजी आएगी। पॉजिटिव मार्केट सेंटीमेंट पर निफ्टी पुराने हाई को क्रॉस कर नया हाई बना सकता है। 

 

क्या करें निवेशक: नदीम मुस्तफा का कहना है कि कंस्ट्रक्शन, ऑटोमोबाइल और आईटी सेक्टर में मिडकैप और स्मालकैप में आगे अच्छा रिटर्न मिल सकता है। एनसीसी, अशोक लेलैंड, KPIT और टाटा एलेक्सी में निवेश किया जा सकता है। 

 

 

जिमित मोदी, सीईओ और फाउंडर, सैमको सिक्युरिटीज 
सैमको सिक्युरिटीज के फाउंडर और सीईओ जिमित मोदी का कहना है कि पीएसयू बेंकों ने निराश किया है, लेकिन ओवरऑल कॉरपोरेट अर्निंग ठीक रही है। जनरल कंपनियों ने पिछली तिमाही से अच्छी ग्रोथ दिखाई है। उनका कहना है कि आने वाले दिनों की बात करें तो निफ्टी 11000 का स्तर क्रॉस कर सकता है। फाइनेंशियल ईयर 2018 में निफ्टी 10000 से 11100 के रेंज में कारोबार करता दिख रहा है। लेकिन इस बीच एक्सट्रीम ग्लोबल बुलिश एन्वायरमेंट बनने पर यह यह प्रीवियस हाई को भी क्रॉस कर सकता है। 


हालांकि उन्होंने आने वाले दिनों में चुनावों को एक कंसर्न बताया है। जिमित मोदी के अनुसार सेंटर गवर्नमेंट कंपनियों और निवेशकों दोनों के लिए ग्रोथ अपॉर्च्युनिटी के लिए महत्वपूर्ण है। ऐसे में आने वाले दिनों में चुनावों पर मार्केट की नजर होगी। रिजल्ट के आधार पर मार्केट में रिएक्शन दिख सकते हैं। 


क्या करें निवेशक: जिमित मोदी का कहना है कि निवेशक अभी हाउसिंग फाइनेंस सेक्टर, सीमेंट सेक्टर, फार्मा के अलावा पीएसयू बैंक में लो रिस्क इन्वेस्टमेंट स्ट्रैटेजी बना सकते हैं।  

 

 

निताशा शंकर, सीनियर वाइस प्रेसिडेंट एंड रिसर्च हेड, यस सिक्युरिटीज

इस साल मार्केट पर आने वाले चुनावों का असर दिखेगा। इस पूरे साल मार्केट रेंज बाउंड में रहने की उम्मीद है। वहीं, साल के अंतिम महीनों में जब चुनाव नजदीक आएंगे, मार्केट में फिनिवेशकों के लिए मार्केट में फिर से वोलेटिलिटी बढ़ सकती है। हालांकि बड़ी गिरावट का डर नहीं है।

 

क्या करें निवेशक: निताशा शंकर के अनुसार शॉर्ट टर्म वोलेटिलिटी से घबराने की जरूरत नहीं है। निवेशकों को एग्री, ऑटो, कंजम्पशन, हाउसिंग और इंफ्रा सेक्टर में अच्छे फंडामेंटल वाले स्टॉक में निवेश करना चाहिए। सरकार का फोकर एग्री और इंफ्रा सेक्टर के अलावा अफोर्डेबल हाउसिंग पर है। जिससे इन सेक्टर में कंपनियों को फायदा मिल सकता है। वहीं आगे डिमांड बढ़ने से कंजम्पशन बेस्ड स्टॉक में अच्छा रिटर्न मिल सकता हैफ

 

 

प्रकाश गडगानी, सीईओ, 5Paisa.com

प्रकाश गडगानी के अनुसार इस साल मार्केट रेंज बाउंड दिख रहा है, जिसें बीच-बीच में उतार-चढ़ाव दिख सकता है। आने वाले दिनों में 3 राज्यों में और आम चुनाव होने हैं। माके्रट की नजर इन चुनावों पर है। जिन राज्यों में चुनाव होने हैं, वहां अगर सेंटर में रूलिंग पार्टी जीतती है तो मार्केट में बढ़त देखी जाएगी। लेकिन विपरीत परिणाम पर वोलेटिलिटी तेज हो जाएगी।

 

क्या करें निवेशक: हालांकि निेवशकों के पास सेलेक्टेड लॉर्जकैप में बेहतर रिटर्न मिल सकता है। कोल इंडिया, पावरग्रिड, बीपीसीएल और थरमैक्स में निवेश की सलाह है।

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट