बिज़नेस न्यूज़ » Market » Stocks2018 में अच्छी इनकम के ये हैं 5 बेस्ट ऑप्शन, जानें कहां लगाएं पैसे

2018 में अच्छी इनकम के ये हैं 5 बेस्ट ऑप्शन, जानें कहां लगाएं पैसे

2018 के लिए हम यहां 5 ऐसे ऑप्शन बताएंगे, जहां आपके पैसे सुरक्षित रहे ही, उस पर बेहतर रिटर्न भी मिले।

1 of

नई दिल्ली। नए साल पर हर शख्‍स नई-नई प्लानिंग करता है। इसमें निवेश की प्लानिंग भी शामिल है जो सुरक्षित भविष्‍य के लिए बहुत जरूरी है। बहुत से लोगों के पास पैसे तो होते हें, लेकिन उन्हें निवेश करने के बेहतर विकल्पों का पता नहीं होता है। हो सकता है कि वह ज्यादा इनकम की चाह में अपने पैसे ऐसी जगह निवेश कर दे, जहां रिस्क ज्यादा हो। ऐसे में

आपके लिए यह जरूरी है कि अपनी गाढ़ी कमाई ऐसी जगह निवेश करें, जहां दूसरे विकल्प की तुलना में आपको ज्यादा इनकम हो और आपके पैसे भी सुरक्षित भी रहें। साथ ही निवेश विकल्प का चयन करते समय उसपर लगने वाले टैक्स का भी ध्यान रखें। 

 

 

साल 2018 के लिए हम यहां 5 ऐसे बेस्ट ऑप्शन बताएंगे, जहां आपके पैसे दूसरी कुछ स्कीम से सुरक्षित रहे ही, उस पर बेहतर रिटर्न भी मिले। साथ ही आपके निवेश में रिस्क भी न हो। जानते हैं साल 2018 में पैसे लगाने के ऐसे विकल्प जहां आपको सेफ्टी के साथ-साथ अच्छा रिटर्न मिल सकता है। 

 

किन 5 जगहों पर लगाएं पैसे

 

लिक्विड फंड 
 

2018 में निवेश का बेहतर ऑप्शन लिक्विड फंड है। ये फंड आपको सेविंग्स अकाउंट पर मिलने वाली ब्याज दर के मुकाबले ज्यादा रिटर्न देते हैं। साथ ही, इससे पैसा आसानी से निकाला जा सकता है। पिछले एक साल में ज्यादातर लिक्विड फंड योजनाओं ने 9 फीसदी से ज्यादा रिटर्न दिया है, जो एफडी पर मिल रहे मौजूदा रिटर्न से भी ज्यादा है। 

 

आगे पढ़ें,  जानें फंड के बारे में पूरी जानकारी

 

 

 

क्या है यह फंड   
-लिक्विड फंड एक तरह के म्यूचुअल फंड हैं, जिनमें जोखिम कम होता है। लिक्विड फंड का दूसरा नाम है कैश फंड और इसका मकसद है - ज्यादा लिक्विडिटी, कम जोखिम और स्थिर रिटर्न। 

 

जब चाहें निकालें पैसे 
-इनकी कोई लॉक-इन अवधि नहीं होती। मतलब आप निवेश करने के दूसरे दिन भी पैसे निकाल सकते हैं। पैसे आपको उसी दिन मिल जाएंगे। आप एक हफ्ते के लिए भी अपने पैसों का निवेश यहां कर सकते हैं।
-जब चाहें एक्स्‍ट्रा पैसे जमा कराएं या निकालें
-यह योजना बैंक या पोस्ट ऑफिस की आरडी की तरह काम करेगी। 

 

ऐसे शुरू करें निवेश 
अगर आप म्यूचुअल फंड में पहली बार निवेश कर रहे हैं तो फंड मैनेजर आपका केवाईसी तैयार करेगा। इसके बाद पहले महीने की किस्त के लिए एक चेक, ईसीएस के लिए ऑटो डेबिट फॉर्म और एक कॉमन फॉर्म भरवाया जाएगा। इसके साथ ही आपकी लिक्विड फंड में एसआईपी शुरू हो जाएगी।

 

आगे पढ़ें, निवेश का एक और बेहतर विकल्प 

 

 

सुकन्या समृद्धि योजना 
 

इनकम टैक्‍स से छूट

सुकन्या समृद्धि योजना केन्‍द्र सरकार की योजना है। इस वजह से इसमें निवेश करने वालों के पैसे सुरक्षित हैं। योजना के तहत अपनी 10 साल से कम उम्र की बेटी के नाम पर बैंक या पोस्ट ऑफिस में अकाउंट खुलवाया जा सकता है। योजना में 14 साल तक निवेश करना है। वहीं, बेटी के 21 साल होने पर अकाउंट मेच्योर हो जाता है। अकाउंट में निवेश किए गए पैसों पर इनकम टैक्‍स की धारा 80C के तहत छूट भी ली जा सकती है।

 

योजना पर 8.1 फीसदी ब्‍याज
सुकन्या समृद्धि योजना में 8.1 फीसदी ब्‍याज मिल रहा है। इस योजना में ब्‍याज की गणना हॉफ ईयरली कंपाउंडिड आधार पर की जाती है, जिससे रियल रिटर्न थोड़ा ज्‍यादा हो जाता है। योजना में हर साल मिनिमम 1000 रुपए और अधिकतम 1.5 लाख रुपए निवेश किया जा सकता है। 

 

 

आगे पढ़ें, निवेश का एक और बेहतर विकल्प 

 

पीपीएफ


रिटर्न: 7.6 फीसदी 

साल 2018 में बैंक सेविंग अकाउंट की तुलना में पीपीएफ अकाउंट में पैसे डालना बेहतर विकल्प है। मौजूदा समय में पीपीएफ पर सालाना 7.6 फीसदी रिटर्न मिल रहा है। सरकार हर तीन माह पर पीपीएफ पर ब्‍याज दर की समीक्षा करती है।

 

एक शख्‍स पर एक ही अकाउंट  
एक शख्‍स के नाम पर सिर्फ एक पीपीएफ अकाउंट ही खुल सकता है। अकाउंट को बनाए रखने के लिए आपको न्‍यूनतम 500 रुपए सालाना और अधि‍कतम 150000 रुपए सालाना जमा करा सकते हैं। 

 

टैक्‍स पर छूट  
पीपीएफ का सबसे बड़ा फायदा यह है कि‍ इसमें जमा की गई रकम पर मिलने वाला ब्याज टैक्स फ्री होता है। इतना ही नहीं उस पर मि‍लने वाला ब्‍याज और मैच्‍योरि‍टी पर मि‍लने वाली रकम तीनों ही टैक्‍स फ्री होती है। 

 

आगे पढ़ें, निवेश का एक और बेहतर विकल्प 

 

 

पोस्ट ऑफिस

ब्याज: 7.9  फीसदी


बैंक तो डिपॉजिट रेट घटाने में लगे हुए हैं,  लेकिन फिलहाल डाकघर की बचत योजनाओं की ब्याज दरों में कमी नहीं की गई है। इनवेस्टर्स को बैंक डिपॉजिट पर अभी मैक्सिमम 6  से 7 फीसदी के बीच ब्याज मिल रहा है। जबकि, डाकघर की जमा योजनाओं पर 7.9  फीसदी ब्याज मिल रहा है।  इस लिहाज से आपकी रकम इस स्कीम में 9 साल में दोगुनी हो जाएगी। 

 

 

आगे पढ़ें, निवेश का एक और बेहतर विकल्प 

 

 

सरकारी ब्रॉन्ड्स


सरकारी बॉन्ड्स में पैसा लगाना आपके लिए बैंक से बेहतर विकल्प हो सकता है। जहां बैंकों में अधिकतम 7 फीसदी तक ब्याज मिल रहा है, वहीं, सरकारी बॉन्ड्स पर अभी 7.8 फीसदी ब्याज दर है। इस लिहाज से आपकी रकम भी बैंक की तुलना में यां जल्दी डबल हो जाएगी। 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट