बिज़नेस न्यूज़ » Market » Stocksबढ़ती महंगाई में भी होगी कमाई, फॉलो करें वारेन बफे के ये 5 रूल्स

बढ़ती महंगाई में भी होगी कमाई, फॉलो करें वारेन बफे के ये 5 रूल्स

महंगाई बढ़ने से आम आदमी ही सरकार, बैंकों और सेंट्रल बैंकों की चिंताएं भी बढ़ जाती हैं।

1 of

 

नई दिल्ली. महंगाई बढ़ने से आम आदमी ही सरकार, बैंकों और सेंट्रल बैंकों की चिंताएं भी बढ़ जाती हैं। इससे जहां आम आदमी को ज्यादा खर्च करना पड़ता है, वहीं उसके निवेश की स्ट्रैटजी बिगड़ने की आशंकाएं बढ़ जाती हैं। दुनिया के सबसे बड़े इन्वेस्टर वारेन बफे ने कुछ ऐसे रूल्स बताए हैं, जिन्हें फॉलो करने पर महंगाई के दौरान में आपकी जेब भरी रहेगी। मनीभास्कर उनके ऐसे 5 रूल्स के बारे में ही बता रहा है।

 

वारेन बफे माइक्रोसॉफ्ट के फाउंडर बिल गेट्स के दोस्त हैं और निवेश के लिहाज से दुनिया के तमाम बड़े इन्वेस्टर उन्हें फॉलो करते हैं। ब्लूमबर्ग के मुताबिक बफे 86 अरब डॉलर (5.6 लाख करोड़ रुपए) की दौलत के साथ फिलहाल दुनिया के तीसरे बड़े अमीर हैं।

 

 

1. अच्छे वक्त में महंगाई को रखें याद

बफे के मुताबिक, अगर आपका वक्त अच्छा चल रहा है तो समझ लें कि महंगाई को याद करने का सही समय है। उन्होंने कहा, 'अगर अच्छे दौर में आपकी खूब तारीफ हो रही है तो आपको अलर्ट हो जाना चाहिए। कुछ साल पहले तक एक बिजनेस की नेटवर्थ प्रति शेयर सालाना 20 फीसदी की दर से बढ़ रही थी, जो उसके मालिकों के लिए रिटर्न की गारंटी के समान था। हालांकि ऐसा टिकाऊ नहीं है। महंगाई दर बढ़ने के साथ टैक्स रेट जोड़ लें तो क्या नतीजे इतने ही शानदार रहेंगे।'

महंगाई बढ़ने की स्थिति में कैपिटल पर 20 फीसदी की अर्निंग उसके मालिक के लिए वास्तव में निगेटिव रिटर्न साबित हो सकता है।

 

 

2.बिजनेस को बदतर बना देती है महंगाई

महंगाई किसी भी खराब बिजनेस को बदतर बना सकती है। बफे ने कहा, 'महंगाई बढ़ने पर एक कम रिटर्न वाले बिजनेस के लिए हालात बदतर हो सकते हैं।' उन्होंने कहा कि जब कीमतें लगातार बढ़ती हैं तो ऐसे बिजनेस के सामने कोई भी ऑप्शन नहीं बचता है।

उन्होंने कहा, 'महंगाई ऐसे बिजनेस की पूरी एसेट को निगलती जाती है। प्रॉफिट कितना भी हो रहा हो, कंपनी की वेल्थ लगातार घटती जाती है। महंगाई का कीड़ा सब कुछ खा जाता है।'

 

आगे भी पढ़ें

 

 

3.कैश जेनरेट करने वाली कंपनियों पर रखें फोकस

बफे ने कहा, 'हम हमेशा ही ज्यादा से ज्यादा कैश जेनरेट करने वाली कंपनियों को तरजीह देते रहे हैं, न कि कैश को कंज्यूम करने वाली कंपनियों को। जैसे-जैसे महंगाई बढ़ती है तो कंपनियों का खर्च भी बढ़ने लगता है। ऐसे में कंपनी की क्वालिटी पर भी काफी कुछ निर्भर करता है। हालांकि सेल्स अच्छी हो तो महंगाई का असर कम होता है।'

 

 

4.ऐसी कंपनियों में लगाएं पैसाजो बढ़ा सकती हैं प्रोडक्ट्स की कीमतें

निवेश के लिए ऐसी कंपनियों पर फोकस करना चाहिए, जिन्हें महंगाई बढ़ने की स्थिति में अपने प्रोडक्ट्स की कीमतें बढ़ाने में समस्या न हो। बफे ने कहा, 'ऐसी कंपनियां जो सिर्फ बिजनेस को खरीदा करती हैं, तो उनके लिए महंगाई बढ़ने से बदले हालात से निबटना आसान होता है। इनकी दो खूबियां होती हैं, एक तो उनके लिए कीमतें बढ़ाना आसान होता है और दूसरा वे अपनी वेल्थ को वॉल्यूम बढ़ाने में इस्तेमाल कर सकते हैं।' हालांकि ये दोनों ही खूबियां कम कंपनियों में ही होती हैं।

 

 

5.हमेशा कल की सोचकर करें निवेश

बफे के मुताबिक, हमेशा फ्यूचर के बारे में सोचकर ही निवेश करना चाहिए। उन्होंने कहा, 'कई दशक पहले तक इक्विटी पर 10 फीसदी रिटर्न वाली कंपनी को अच्छा बिजनेस माना जाता था, लेकिन अब ऐसा नहीं है। सरकार की नीतियों, टैक्स, इनपुट कॉस्ट आदि के आधार पर आकलन करें कि आपके कितना रिटर्न सही है।'

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट