Home » Market » StocksQ4 result: L&T Q4 profit rose to 3167 cr rs, announce dividend of 16 rs/share

L&T को 3167 करोड़ रुपए का हुआ मुनाफा, 16 रुपए प्रति शेयर डिविडेंड देने का ऐलान

फाइनेंशियल ईयर 2018 की चौथी तिमाही में इंफ्रा सेक्टर की बड़ी कंपनी एलएंडटी का मुनाफा 4.7 फीसदी बढ़ गया है। इस दौरान कंपन

1 of

नई दिल्ली। फाइनेंशियल ईयर 2018 की चौथी तिमाही में इंफ्रा सेक्टर की बड़ी कंपनी एलएंडटी का मुनाफा 4.7 फीसदी बढ़ गया है। इस दौरान कंपनी को 3167 करोड़ रुपए का मुनाफा हुआ है। फाइनेंशियल ईयर 2017 की चौथी तिमाही में एलएंडटी का मुनाफा 3025 करोड़   रुपए रहा था। वहीं, चौथी तिमाही में कंपनी की आय सालाना आधार पर 11.5 फीसदी बढ़कर 36619 करोड़ से  40678 करोड़ रुपए हो गई है। 
 

 

16 रुपए प्रति शेयर डिविडेंड 
एलएंडटी के बोर्ड ने फाइनेंशियल ईयर 2018 के लिए 16 रुपए प्रति शेयर डिविडेंड देने का ऐलान किया है। सालाना आधार पर चौथी तिमाही में एलएंडटी का एबिटडा 4382 करोड़ रुपए से बढ़कर 5390 करोड़ रुपए रहा है। वहीं, चौथी तिमाही में एलएंडटी का एबिटडा मार्जिन 12 फीसदी से बढ़कर 13.2 फीसदी रहा है। 

 

FY18 में 1.5 लाख करोड़ का ऑर्डर मिला 
एलएंडटी के मुताबिक फाइनेंशियल ईयर 2018 में 1.5 लाख करोड़ रुपए का ऑर्डर हासिल हुआ है। इस दौरान इंटरनेशनल मार्केट से 35853 करोड़ रुपए का ऑर्डर मिला। चौथी तिमाही की बात करें तो जनवरी से मार्च के दौरान कंपनी को 49557 करोड़ रुपए का ऑर्डर मिला। इस दौरान इंटरनेशनल मार्केट से 8679 करोड़ रुपए का ऑर्डर मिला। कंपनी का फाइनेंशियल ईयर 2018 के अंत तक ऑर्डरबुक 2.6 लाख करोड़ रुपए हो गया। 

 

इंफ्रा कारोबार की आय बढ़ी
चौथी तिमाही में एलएंडटी के इंफ्रा कारोबार की आय सालाना आधार पर 14 फीसदी बढ़कर 20301 करोड़ से 22136 करोड़ रुपए रही है। सालाना आधार पर चौथी तिमाही में एलएंडटी के इंफ्रा कारोबार का एबिटडा 2519 करोड़ रुपए से बढ़कर 2945 करोड़ रुपए रहा है। चौथी तिमाही में एलएंडटी के पावर कारोबार की आय 18.7 फीसदी बढ़कर 1507 करोड़ रुपए रही है। पावर कारोबार का एबिटडा 59 करोड़ रुपए से घटकर 52 करोड़ रुपए रहा है।

 

हैवी इंजीनियरिंग कारोबार की आय 14.4 फीसदी बढ़कर 1183.5 करोड़ रुपए रही है। हैवी इंजीनियरिंग कारोबार का एबिटडा 225 करोड़ रुपए से घटकर 174 करोड़ रुपए रहा है। इलेक्ट्रिकल एवं ऑटोमेशन कारोबार की आय 1679 करोड़ रुपए से घटकर 1643 करोड़ रुपए रही है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट