बिज़नेस न्यूज़ » Market » Stocksसरकारी बैंकों में आपने किया है निवेश, तो जान लें अपने-अपने बैंक का हाल

सरकारी बैंकों में आपने किया है निवेश, तो जान लें अपने-अपने बैंक का हाल

सरकारी बैंकों को प्रदर्शन खराब रहने की वजह से जिन्होंने इन बैंकों में निवेश किए थे, उन्हें भी घाटा उठाना पड़ा है।

1 of

नई दिल्ली। सरकारी बैंकों के लिए अच्छी खबर नहीं है। जनवरी-मार्च तिमाही के दौरान सरकारी बैंकों का कुल घाटा 50 हजार करोड़ रुपए के पार चला गया है। देश के दो सबसे बड़े और भरोसेमंद बैंकों में शामिल स्टेट बैंक ऑफ इंडिया और पंजाब नेशनल   बैंक को अब तक का सबसे बड़ा घाटा हुआ है। बैंकों का कुल फंसा हुआ कर्ज भी बढ़कर करीब 6 लाख करोड़ रुपए के आस-पास पहुंच गया है। ऐसे में सरकारी बैंकों का प्रदर्शन खराब रहने की वजह से जिन्होंने इन बैंकों के स्टॉक्स में निवेश किए थे, उन्हें भी घाटा उठाना पड़ा है। बैंकों के खराब प्रदर्शन की वजह से इस साल अब तक निवेशकों के हजारों करोड़ रुपए डूब चुके हैं। 

अगर आपने भी सरकारी बैंकों में निवेश किया है तो आपको यह जानना जरूरी है कि किस बैंक का क्या हाल है, किस बैंक में निवेशकों का कितना पैसा डूब गया। हमने कुछ प्रमुख बैंकों के प्रदर्शन के आधार पर ये रिपोर्ट तैयार की है। 

 

आगे पढ़ें, किस बैंक में निवेशकों को कितना नुकसान......

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI)
-जनवरी से अब तक निवेशकों को स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में 34360 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है। 
-1 जनवरी को बैंक के एक शेयर की कीमत 307 रुपए थी जो घटकर 24 मई तक 268 रुपए रह गई है। 

-इस दौरान मार्केट कैप 273984 करोड़ से घटकर 239625 करोड़ रुपए रह गई है। 
-स्टेट बैंक ऑफ इंडिया को जनवरी से मार्च के बीच 7718 करोड़ रुपए का घाटा हुआ है। 
-बैंक का फंसा हुआ कर्ज यानी बैड लोन (ग्रॉस एनपीए) 2.02 लाख करोड़ और नेट एनपीए 1.11 लाख करोड़ रुपए हो गया है। 

 

पंजाब नेशनल बैंक (PNB)

-जनवरी से अब तक निवेशकों को पंजाब नेशनल बैंक में 24196 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है। 
-1 जनवरी को बैंक के एक शेयर की कीमत 169.75 रुपए थी जो घटकर 24 मई तक 82.10 रुपए रह गई है। 

-इस दौरान मार्केट कैप 46860  करोड़ से घटकर 22,664 करोड़ रुपए रह गई है। 
-पंजाब नेशनल बैंक को जनवरी से मार्च के बीच 13417 करोड़ रुपए का घाटा हुआ है। 
-बैंक का फंसा हुआ कर्ज यानी बैड लोन (ग्रॉस एनपीए) 86620 करोड़ रुपए और नेट एनपीए 48684 करोड़ रुपए हो गया है। 

 

आगे पढ़ें, 2 और सरकारी बैंकों का हाल 

 

केनरा बैंक
-जनवरी से अब तक निवेशकों को केनरा बैंक में 8498 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है। 
-1 जनवरी को बैंक के एक शेयर की कीमत 361 रुपए थी जो घटकर 24 मई तक 245 रुपए रह गई है। 

-इस दौरान मार्केट कैप 26470 करोड़ से घटकर 17972 करोड़ रुपए रह गई है। 
-केनरा बैंक को जनवरी से मार्च के बीच 4860 करोड़ रुपए का घाटा हुआ है। 
-बैंक का फंसा हुआ कर्ज यानी बैड लोन (ग्रॉस एनपीए) 40312 करोड़ और नेट एनपीए 28542 करोड़ रुपए हो गया है। 

 

बैंक ऑफ बड़ौदा
-जनवरी से अब तक निवेशकों को बैंक ऑफ बड़ौदा में 6045 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है। 
-1 जनवरी को बैंक के एक शेयर की कीमत 161.55 रुपए थी जो घटकर 24 मई तक 138.70 रुपए रह गई है। 

-इस दौरान मार्केट कैप 42738 करोड़ से घटकर 36693 करोड़ रुपए रह गई है। 
-बैंक ऑफ बड़ौदा को जनवरी से मार्च के बीच 112 करोड़ रुपए का मुनाफा हुआ है। 
-बैंक का फंसा हुआ कर्ज यानी बैड लोन (ग्रॉस एनपीए) 48000 करोड़ और नेट एनपीए 19852 करोड़ रुपए हो गया है। 

 

आगे पढ़ें, 2 और सरकारी बैंकों का हाल 

 

इलाहाबाद बैंक
-जनवरी से अब तक निवेशकों को इलाहाबाद बैंक में 2827 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है। 
-1 जनवरी को बैंक के एक शेयर की कीमत 73.65 रुपए थी जो घटकर 24 मई तक 40.15 रुपए रह गई है। 

-इस दौरान मार्केट कैप 6216 करोड़ से घटकर 3389 करोड़ रुपए रह गई है। 
-इलाहाबाद बैंक को जनवरी से मार्च के बीच 3509 करोड़ रुपए का घाटा हुआ है। 
-बैंक का फंसा हुआ कर्ज यानी बैड लोन (ग्रॉस एनपीए) 26563 करोड़ और नेट एनपीए 12229 करोड़ रुपए हो गया है। 

 

 

OBC 
-जनवरी से अब तक निवेशकों को ओरिएंटल बैंक में 2825 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है। 
-1 जनवरी को बैंक के एक शेयर की कीमत 122 रुपए थी जो घटकर 24 मई तक 77 रुपए रह गई है। 

-इस दौरान मार्केट कैप 7719 करोड़ से घटकर 4894 करोड़ रुपए रह गई है। 
-ओरिएंटल बैंक को जनवरी से मार्च के बीच 1650 करोड़ रुपए का घाटा हुआ है। 
-बैंक का फंसा हुआ कर्ज यानी बैड लोन (ग्रॉस एनपीए) बढ़कर 17.63 फीसदी और नेट एनपीए 10.48 फीसदी हो गया है। 

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट