बिज़नेस न्यूज़ » Market » Stocksएक फैसले ने बदल दी इस शख्‍स की किस्मत, 1 साल में कमा लिए 50 हजार करोड़

एक फैसले ने बदल दी इस शख्‍स की किस्मत, 1 साल में कमा लिए 50 हजार करोड़

आप कौन सा फैसला किस समय लेते हैं, कई बार यह बहुत बड़ा मिसाल बन जाता है।

1 of

नई दिल्ली। आप कौन सा फैसला किस समय लेते हैं, कई बार यह बहुत बड़ा मिसाल बन जाता है। जैसा कि इस शख्‍स के मामले में हुआ। इस शख्‍स के एक फैसले ने न सिर्फ इसकी किस्मत बदल दी, बल्कि भारत के अमीर लोगों की लिस्ट में भी शामिल कर दिया है। उस फैसले का ऐसा कमाल था कि महज कुछ महीनों में इसकी अपनी फैमिली की दौलत 50 हजार करोड़ रुपए बढ़ गई। इस शख्‍स के बारे में तो यह भी कहा जाता है कि इन्होंने जहां भी अपने पैसे लगाए, ज्यादातर जगहों पर फायदा ही हुआ। यह शख्‍स अब भारत के टॉप अमीरों की लिस्ट में शामिल है। 

 

किस फैसले ने बदली किस्मत
हम यहां बात कर रहे हैं रिटेल किंग और बड़े निवेशक राधाकृष्‍ण दमानी की। राधाकृष्‍ण दमानी की कंपनी का नाम एवेन्यू सुपरमार्केट (डी-मार्ट) है। पिछले साल मार्च में दमानी ने डी-मार्ट का आईपीओ लाने यानी शेयर बाजार में कंपनी को लिस्ट किए जाने का फैसला किया। बस यही फैसला उनके लिए गेमचेंजर साबित हुआ। शुरू में कंपनी के शेयर के लिए ऑफर प्राइस 295 से 299 रुपए के बीच रखा गया था। लेकिन, 21 मार्च को शेयर की लिस्टिंग 642 रुपए पर हुई। अब शेयर की कीमत बढ़कर 1486 रुपए हो गई है। यानी इश्‍यू प्राइस से 397 फीसदी ज्यादा। वहीं, लिस्टिंग प्राइस से 131 फीसदी ज्यादा। 
 
आगे पढ़ें, IPO के फैसले के बाद से दौलत कैसे बढ़ी ..... 

53000 करोड़ बढ़ी कंपनी की दौलत 
21 मार्च को डी-मार्ट की लिस्टिंग हुई थी, उस दौरान शेयर का भाव 642 रुपए के आस पास था। इस भाव पर कंपनी की कुल दौलत 40294 करोड़ रुपए था। लिस्टिंग के बाद से डीमार्ट का शेयर 131 फीसदी बढ़कर 1486 रुपए हो चुका है। इस भाव पर कंपनी की दौलत बढ़कर 93363 करोड़ रुपए हो गई है। यानी करीब 53 हजार करोड़ रुपए कंपनी की दौलत बढ़ गई। 
 
79000 करोड़ हुई फैमिली की दौलत
फोबर्स की लिस्ट के अनुसार दमानी की खुद की दौलत जिसमें फैमिली भी शालिम है, बढ़कर 79 हजार करोड़ रुपए हो गई है। जुलाई 2016 में दमानी की दौलत 9281 करोड़ रुपए थी। जो जुलाई 2017 में बढ़कर 29700 करोड़ रुपए हो गई है। अब यह बढ़कर 1200 करोड़ डॉलर यानी करीब 79 हजार करोड़ रुपए हो गई है। 
 

आगे पढ़ें, मार्केट में एक छोटे निवेशक से टॉप अमीर बनने की कहानी........

 

भारत का वॉरेन बफे कहा जाता है
राधाकिशन दमानी ने शेयर बाजार में अपनी शुरूआत 1980 के दशक में की थी, जब पिता की डेथ के बाद उन्हें इस क्षेत्र में आना पड़ा। धीरे-धीरे उन्हें शेयर बाजार में महारत हासिल हो गई कि दूसरे निवेशक भी उन्हें फॉलो करने लगे। शेयर बाजार में निवेशक बनकर ही दमानी ने इतनी कमाई की कि उन्होंने बाद में अपना रिटेल कारोबार शुरू किया। 
 
कैसे बढ़ती गई दमानी की दौलत 
दामनी ने 2001 में डी मार्ट नाम से अपना रिटेल कारोबार शुरू किया। दमानी ने 6 साल तक शेयर बाजार में निवेश करना छोड़ दिया और अपने रिटले कारोबार पर ही ध्‍यान दिया। धीरे-धीरे उनका यह बिजनेस भी चल निकला और दमानी एक बड़े कारोबारी के रूप में अपनी पहचान बनाने में कामयाब रहे। 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट