बिज़नेस न्यूज़ » Market » Stocksगुजरात इलेक्शन तक मार्केट में रहेगा उतार-चढ़ाव, इन शेयरों पर रखें नजर

गुजरात इलेक्शन तक मार्केट में रहेगा उतार-चढ़ाव, इन शेयरों पर रखें नजर

एक्सपर्ट्स का मानना है कि मार्केट में अगले कुछ और दिनों तक बिकवाली दिख सकती है।

1 of

 

नई दिल्ली। पिछले हफ्ते शेयर बाजार पर बिकवाली का दबाव दिखा और सेंसेक्स और निफ्टी दोनों में 2.5 फीसदी गिरावट रही। एक्सपर्ट्स का मानना है कि मार्केट में अगले कुछ और दिनों तक यह बिकवाली दिख सकती है। फिलहाल गुजरात इलेक्शन तक मार्केट में उतार-चढ़ाव बना रहेगा। गुजरात के नतीजे मार्केट की उम्मीद के मुताबिक रहे तो शेयर मार्केट में फिर रैली दिखेगी। ऐसे में कुछ गुजरात बेस्ड कंपनियों के शेयर हैं, जिनमें अच्छा रिटर्न मिल सकता है। 

 

 

एक्सपर्ट्स का कहना है कि मार्केट के लिए अगले 2 हफ्ते हलचल भरे रह सकते हैं। गुजरात इलेक्शन के अलावा क्रूड की कीमतें, ब्याज दरों को लेकर आरबीआई और यूएस फेड की पॉलिसी मीटिंग और एफआईआई इसके पीछे बड़े फैक्टर हैं। 

 

गुजरात इलेक्शन और क्रूड 
गुजरात इलेक्शन को लेकर अभी क्लेरिटी नहीं है, जिससे पिछले कुछ दिनों से एफआईआई ने बिकवाली की है। उनका यह एक्शन रिजल्ट तक जारी रहने की उम्मीद है। वहीं, पेक देशों ने आगे भी क्रूड प्रोडक्शन कम रखने का फैसला लिया है, जिससे आने वाले दिनों में क्रूड में हलचल दिख सकती है जो मार्केट के लिए अहम होगा। 

 

ब्याज दरों पर अहम फैसले 
5-6 दिसंबर को आरबीआई की पॉलिसी मीटिंग है, जिसमें ब्याज दरों पर फैसला लिया जाना है। बेहतर जीडीपी आंकड़े आने से माना जा रहा है कि आरबीआई पर दरें कम करने का दबाव घटा है। आरबीआई द्वारा ब्याज दरों में कटौती न करने के फैसले से भी बैंक शेयरों में बिकवाली दिख सकती है। वहीं, 12-13 दिसंबर को होने वाली बैठक में यूएस फेड द्वारा ब्याज दरें बढ़ाने का फैसला होता है तो इसका दुनियाभर के मार्केट के अलावा इंडियन मार्केट पर भी असर होगा। 

 

गुजरात के नतीजे देंगे मार्केट को दिशा  
एक्सपर्ट्स की नजर गुजरात इलेक्शन पर है। एक्सपर्ट्स का कहना है कि मार्केट गुजरात में बीजेपी की जीत की उम्मीद कर रहा है। रिजल्ट बीजेपी के पक्ष में रहा तो मार्केट में रिकॉर्ड तेजी आएगी। लेकिन फाइनल रिजल्ट आने तक मार्केट में दबाव रहेगा। 

 

कॉरपोरेट स्कैन डॉट कॉम के सीईओ विवेक मित्तल का कहना है कि गुजरात इलेक्शन इस साल के लिए सबसे बड़ा पॉलिटिकल डेवलपमेंट है, जो मार्केट को नई दिशा दे सकता है। अगर बीजेपी वहां जीतती है तो मार्केट के लिए पॉजिटिव सेंटीमेंट होगा। लेकिन जबतक क्लेरिटी नहीं आती, मार्केट में दबाव रहेगा। अगर रिजल्ट उल्टा होता है तो मार्केट में बड़ी गिरावट दिखेगी। स्टैलियन एसेट्स डॉट कॉम के सीआईओ अमीत जेसवानी का कहना है कि मोदी सरकार ने रिफॉर्म को लेकर बहुत सी योजनाएं शुरू की हैं। आगे स्पेंडिंग और बढ़ने की उम्मीद है। ऐसे में अगर स्टेबिलिटी का संकेत जाता है तो मार्केट में तेजी आएगी। 

 

किन शेयरों पर रखें नजर 
 

GNFC


गुजरात नर्मदा वैली फर्टिलाइजर्स एंड केमिकल स्टेट पीएसयू है जो फर्टिलाइजर और केमिकल बिजनेस में है। इसके अलावा आईटी के स्माल बिजनेस में भी है जो कई सरकारी विभाग को सपोर्ट करती है। भरूच और दाहेज में कंपनी का प्लांट है। कंपनी का दूसरी तिमाही में नेट सेल्स 1506 करोड़ रुपए रहा है। वहीं, पैट में 23 फीसदी ग्रोथ रही है। कंपनी को केमिकल बिजनेस से ज्यादा प्रॉफिट हुआ है। कंपनी केमिकल बिजनेस पर ज्यादा फोकस भी कर रही है। टीडीआई इंपोर्ट पर एंटी डंपिंग ड्यूटी लगने से भी कंपनी को फायदा होगा। वहीं, सरकार की न्यू फर्टिलाइजर पॉलिसी से भी कंपनी को फायदा होगा। ब्रोकरेज हाउस ज्वॉएंड्रे कैपिटल ने शेयर के लिए 600 रुपए का लक्ष्‍य दिया है। वहीं, एसएमसी इन्वेस्टमेंट्स एंड एडवाइजर्स लिमिटेड के रिसर्च हेड सचिन सर्वदे ने शेयर में 520 रुपए का लक्ष्‍य दिया है। शेयर की मौजूदा कीमत 437 रुपए है। 

 

 

 

और किन शेयरों पर रखें नजर 

 

अडानी पावर


अडानी पावर गुजरात बेस्ड पावर कंपनी है। कंपनी ने हाल ही में बांग्लादेश पावर डेवलपमेंट बोर्ड के साथ 1496 मेगावाट का पीपीए साइन किया है, जिससे कंपनी को अपना पोर्टफोलियो डाइवर्सिफाइड करने में मदद मिलेगी। कंपनी को दूसरी तिमाही में करीब 298 करोड़ का मुनाफा हुआ है। कंपनी इस फाइनेंशियल ईयर के पहले 6 महीने में अपना घाटा कम किया है। सरकार का फोकस घर-घर बिजली पहुंचाने के अलावा बिजली चोरी रोकने पर भी है। वहीं, पिछले एक साल में पावर सेक्टर अंडरपरफॉर्मर रहा है, जिससे शेयर का वैल्युएशन आकर्षक है। विवेक मित्तल ने शेयर में 53 रुपए का लक्ष्‍य रखा है। शेयर की कीमत 34 रुपए है। 

 

गुजरात स्टेट फर्टिलाइजर एंड केमिकल लिमिटेड

 

जीएसएफसी फर्टिलाइजर और इंडस्ट्रियल केमिकल बनाने वाली कंपनी है। कंपनी को हेडक्वार्टर बडोदरा में है। कंपनी प्लास्टिक, नॉयलॉन, फाइबर्स, इंडस्ट्रियल गैस, यूरीया, अमोनिया और कई तरह के केमिकल बनती है। कंपनी में ग्रोथ है। दूसरी तिमाही में कंपनी को 120 करोड़ का नेट प्रॉफिट हुआ था। वहीं, नेट सेल्स 1590 करोड़ रुपए रही थी। सचिन सर्वदे ने शेयर के लिए 160 रुपए का लक्ष्‍य दिया है। शेयर की मौजूदा कीमत 137 रुपए है। 

 

सिंटेक्स इंडस्ट्रीज


सिंटेक्स इंडस्ट्रीज गुजरात बेस्ड टेक्सटाइल कंपनी है। यह मोटा सूती कपड़ा बनाने वाली एशिया की सबसे बड़ी कंपनी है। इसके अलावा कंपनी प्लास्टिक वाटर टैंक बनाती है। कंपनी अपनी कैपेसिटी में लगातार विस्तार कर रही है, जिसका आगे रिजल्ट मिलना है। गुजरात सरकार ने हाल ही में टेक्सटाइल सेक्टर को राहत देने की बात कही है, जिसका फायदा सिंटेक्स इंडस्ट्रीज को होगा। वहीं कंपनी का एक्सपोर्ट बढ़ाने पर फोकस है, सरकार भी एक्सपोर्ट को बढ़ावा देने में मदद कर रही है। कंपनी की प्रेजेंस फ्रांस, जर्मनी और यूएसए जैसे देशों में है। विवेक मित्तल ने शेयर के लिए 37 रुपए का टारगेट दिया है। शेयर की मौजूदा कीमत 24 रुपए है। 


 

(नोट-निवेश की सलाह एक्सपर्ट्स व ब्रोकरेज हाउस के द्वारा दी गई हैं। कृपया अपने स्तर पर या अपने एक्सपर्ट्स के जरिए किसी भी तरह की सलाह की जांच कर लें। मार्केट में निवेश के अपने जोखिम हैं, इसलिए सतर्कता जरूरी है।)

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट