Home » Market » StocksDena Bank loss widen to 1225 cr in Q4 as provisioning rise

देना बैंक का घाटा दोगुने से ज्यादा बढ़कर 1225 करोड़ रुपए हुआ

FY18 की चौथी तिमाही में देना बैंक का घाटा और बढ़ गया है। इस दौरान बैंक को 1225.4 करोड़ रुपए का घाटा हुआ है।

1 of

नई दिल्ली। फाइनेंशियल ईयर 2018 की चौथी तिमाही में देना बैंक का घाटा और बढ़ गया है। इस दौरान बैंक को 1225.4 करोड़ रुपए का घाटा हुआ है। जबकि एक‍ साल पहले की समान अवधि में देना बैंक को करीब 575 करोड़ रुपए का घाटा हुआ था। बैंक की प्रोविजनिंग बढ़ने से नतीजों पर असर हुआ है। 

 

 

प्रोविजनिंग 1991 करोड़ हुई 
तिमाही आधार पर चौथी तिमाही में देना बैंक की प्रोविजनिंग 1099 करोड़ रुपए से बढ़कर 1991.3 करोड़ रुपए रही है। फाइनेंशियल ईयर 2017 की चौथी तिमाही में देना बैंक की प्रोविजनिंग 972 करोड़ रुपए रही थी।
 

बैड लोन बढ़कर 16361 करोड़ 
तिमाही आधार परचौथी तिमाही में देना बैंक का ग्रॉस एनपीए 19.56 फीसदी से बढ़कर 22.04 फीसदी रहा है। वहीं, रुपए में ग्रॉस एनपीए 14169 करोड़ रुपए से बढ़कर 16361 करोड़ रुपए रहा है। वहीं, नेट एनपीए 11.52 फीसदी से बढ़कर 11.95 फीसदी रहा है। रुपए में नेट एनपीए 7564 करोड़ रुपए से बढ़कर 7839 करोड़ रुपए रहा है। 
 

नेट इंटरेस्ट इनकम 11.2% बढ़ा 
चौथी तिमाही में देना बैंक का नेट इंटरेस्ट इनकम 11.2 फीसदी बढ़कर 500.5 करोड़ रुपए रहा है। जबकि एक साल पहले की समान अवधि में नेट इंटरेस्ट इनकम 450 करोड़ रुपए रहा था। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट