बिज़नेस न्यूज़ » Market » Stocksबिटक्वॉइन 18000 डॉलर के लेवल तक पहुंचा, 24 घंटे में 50% बढ़ी कीमत

बिटक्वॉइन 18000 डॉलर के लेवल तक पहुंचा, 24 घंटे में 50% बढ़ी कीमत

क्रिप्टोकरंसी बिटक्वॉइन में निवेश को लेकर भले ही RBI आगाह कर रहा हो, इसकी कीमत 24 घंटे में 50 फीसदी बढ़ गई है।

1 of
 
नई दिल्ली. क्रिप्टोकरंसी बिटक्वॉइन गुरुवार के कारोबार में पहली बार 18,000 डॉलर यानी 11.70 लाख रुपए तक पहुंच गया। पिछलेे 24 घंटे में इसकी कीमत 50 फीसदी तक बढ़ चुकी है। खास बात यह है कि बिटकॉइन में निवेश को लेकर रिजर्व बैंक कई बार आगाह कर चुका है। बता दें, बिटकॉइन एक वर्चुअल करंसी है और यह फिलहाल भारत में किसी भी रेग्‍युलेशन के अधीन नहीं है। इसलिए रिजर्व बैंक ने इसमें निवेश को जोखिम भरा बताया है।

 
बिटक्वॉइन की बुधवार को कीमत 12000 डॉलर थी। इसमें इस साल 18 गुना यानी 1800 फीसदी से ज्यादा ग्रोथ हो चुकी है। 2017 के शुरू में यह 1000 डॉलर के लेवल पर कारोबार कर रहा था। गुरुवार के कारोबार में क्वॉइनबेस एक्सचेंज पर कारोबार के दौरान बिटक्वॉइन 18000 डॉलर को पार कर गया। क्वॉइनबेस एक्सचेंज क्रिप्टोकरंसी की ट्रेडिंग के सबसे बड़े एक्सचेंज में एक है। 
 
निवेशकों ने एक दिन में कमाए 3.25 लाख रुपए 
24 घंटे के अंदर बिटक्वॉइन 12000 डॉलर से बढ़कर 17000 डॉलर पर पहुंच गया। यानी सिर्फ एक दिन में निवेशकों को 3.90 लाख रुपए की कमाई हो गई। बता दें कि इस साल की शुरुआत में बिटक्वॉइन 1000 डॉलर के लेवल पर था, जो पिछले हफ्ते ही 10000 डॉलर के लेवल को पार किया था। 
 
RBI ने किया है आगाह 
बिटक्वॉइन और ऐसी दूसरी वर्चुअल करंसी को लेकर रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने हाल ही में आगाह किया था। रिजर्व बैंक का कहना था कि इस तरह की करंसी में ट्रेड करने के लिए किसी भी कंपनी को न तो लाइसेंस दिया गया है और न ही अधिकृत किया गया है। इसके पहले भी आरबीआई ने फरवरी 2017 और दिसंबर 2013 में इसे लेकर आगाह किया था। आरबीआई ने कहा है कि वर्चुअल करंसी में ट्रेडिंग को मान्यता नहीं दी गई है। फिर भी यहां इनमें ट्रेडिंग हो रही है, ऐसे में यह रिस्की है। बता दें कि दुनियाभर के तमाम देशों में बिटक्वॉइन और दूसरी वर्चुअल कंरसी में ट्रेडिंग बढ़ रहा है, लेकिन भारत में इसे मान्यता नहीं है। वर्चुअल करंसी में ट्रेडिंग को रेग्युलराइज्ड किए जाने की बात हो रही है। 
 
इसकी लीगल वैल्‍यू नहीं
जानकारों के अनुसार इस वर्चुअल करंसी से न तो किसी ट्रांजैक्‍शन को सेटल किया जा सकता है और न ही इसकी कोई लीगल वैल्‍यू है। इसका रिकॉर्ड सिर्फ ब्‍लॉकचेन टेक्‍नॉलजी से रखा जाता है। यह अभी तक नहीं पता चला है कि यह करेंसी को किसने बनाई है। इसके कोड को अभी तक तोड़ा नहीं जा सका है।
 
मार्केट वैल्यू 14.95 लाख करोड़ 
बिटक्वॉइन की मार्केट वैल्यू 230 अरब डॉलर यानी 14.95 लाख करोड़ रुपए पहुंव गई है। यह दुनिया के कई देशों की इकोनॉमी से ज्यादा है। वहीं,  मार्केट वैल्यू के हिसाब से एस एंड पी 500 में यह टॉप 20 स्टॉक में शामिल है। 
 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट