बिज़नेस न्यूज़ » Market » Stocksयहां 17 दिन में 1 लाख रु बने 3 लाख रु, सरकार भी रह गई हैरान

यहां 17 दिन में 1 लाख रु बने 3 लाख रु, सरकार भी रह गई हैरान

क्या आप इस बात पर यकीन करेंगे कि किसी जगह किया गया 1 लाख रुपए का निवेश महज 17 दिन में 3 लाख रुपए बन जाए, शायद नहीं।

1 of

 

नई दिल्ली. क्या आप इस बात पर यकीन करेंगे कि किसी जगह किया गया 1 लाख रुपए का निवेश महज 17 दिन में 3 लाख रुपए बन जाए, शायद नहीं। लेकिन अप्रैल के महीने में ही ऐसा हुआ है। यहां पर अगर किसी ने 9 अप्रैल को 1 लाख रुपए का निवेश किया होता तो 17 दिन यानी 26 अप्रैल तक 3 लाख रुपए से ज्यादा हो जाता। इतने ज्यादा रिटर्न ने मार्केट रेग्युलेटर को भी हैरान कर दिया है।

 

17 दिन में 1 लाख बने 3 लाख रुपए

हम यहां बीएसई में लिस्टेड जेनिथ एक्सपोर्ट्स की बात कर रहे हैं। इस स्टॉक की कीमत बीती 9 अप्रैल को महज 39 रुपये का था। इसके बाद से इसमें ऐसी तेजी आई, जो 17 दिन बाद भी जारी है। 26 अप्रैल को यह स्टॉक लगभग 5 फीसदी चढ़कर 126 रुपए का हो गया है। इस प्रकार यह स्टॉक बीते 17 दिन में 223 फीसदी का रिटर्न दे चुका है। इसका मतलब है अगर किसी ने इस स्टॉक में 39 रुपए के भाव पर 1 लाख रुपए लगाए होते तो रकम बढ़कर 3.23 लाख रुपए हो गई होती।

 

मार्केट रेग्युलेटर भी हुआ हैरान

स्टॉक में इतनी ज्यादा तेजी पर मार्केट रेग्युलेटर सेबी भी हैरान है। सेबी ने जेनिथ एक्सपोर्ट्स को नोटिस भेजकर स्टॉक में तेजी की वजह पूछी। इस पर कंपनी ने भेजे जवाब में कहा, ‘ऐसी कोई घटना, जनाकारी आदि नहीं है, जो कंपनी के ऑपरेशन या परफॉर्मैंस से संबंधित हो। इसमें ऐसी कोई प्राइस सेंसिटिव इन्फोर्मेशन भी नहीं हैं, जिसका स्टॉक एक्सचेंज के सामने खुलासा किए जाने की जरूरत हो।’

 

आगे भी पढ़ें

 

 

 

13 दिन से लगा हुआ अपर सर्किट

इस स्टॉक में बीते 13 ट्रेडिंग सेशंस से अपर सर्किट लगा हुआ है। बीएसई ने 13 अप्रैल को इस स्टॉक के लिए सर्किट फिल्टर 20 फीसदी से घटाकर 10 फीसदी कर दिया था और फिर 18 अप्रैल को इसे घटाकर 5 फीसदी कर दिया था।

 

घाटे से मुनाफे में आई कंपनी

मार्च, 2018 तक जेनिथ एक्सपोर्ट्स की कुल इक्विटी कैपिटल 5.39 करोड़ रुपए थी, जिसमें 51.75 फीसदी स्टेक (27.9 लाख शेयर) प्रमोटर्स के पास थे। इंडिविजुअल शेयरहोल्डर्स की होल्डिंग 5.36 फीसदी थी, वहीं 42.9 फीसदी स्टेक अन्य कॉरपोरेट्स बॉडी के पास थी। दिसंबर, 2017 में समाप्त 9 महीनों के दौरान कंपनी को 17 लाख रुपए का प्रॉफिट हुआ था, जबकि बीते साल समान अवधि के दौरान उसे 81 लाख का घाटा हुआ था।

 

आगे भी पढ़ें

 

क्या करती है कंपनी

जेनिथ एक्सपोर्ट्स इंडस्ट्रियल लेदर हैंड ग्लोव्स और हैंडलूम सिल्क फैब्रिक्स सहित अन्य प्रोडक्ट्स बनाती है। कंपनी की कई रेशम बुनकरों के साथ भागीदारी है। साथ ही भागलपुर, वाराणसी और बेंगलूरू के कई सिल्क फैब्रिक मैन्युफैक्चरर से जॉब वर्क बेसिस पर काम करवाती है।

 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट