विज्ञापन
Home » Market » StocksIndex of industrial production may affect share market in next week

औद्योगिक उत्पादन के सुस्त आंकड़े बिगाड़ेंगे शेयर बाजार की चाल

सोमवार को आएंगे थोक महंगाई के आंकड़े

Index of industrial production may affect share market in next week
  • बीते सप्ताह गिरावट में बंद हुए हैं भारतीय शेयर बाजार
  • बैंकिंग और वित्तीय कंपनियों के शेयरों में रहा मिलजुला रूख

नई दिल्ली। घरेलू शेयर बाजार के लिए बीता सप्ताह उतार-चढ़ाव भरा रहा जिसमें प्रमुख सूचकांकों में शुद्ध रूप से गिरावट देखी गई। इसके बाद आने वाले सप्ताह में आर्थिक आंकड़े और कंपनियों के तिमाही परिणाम निवेशकों का रुख तय करेंगे। 

थोक महंगाई के आंकड़ों पर रहेगी निवेशकों की नजर
गत सप्ताह शुक्रवार को खुदरा महंगाई और औद्योगिक उत्पादन के आंकड़े आए हैं। खुदरा महंगाई बढ़ने के बावजूद नियंत्रण में बनी हुई है, लेकिन औद्योगिक उत्पादन के आंकड़े निराशाजनक रहे हैं। इसका असर आने वाले सप्ताह में बाजार पर देखा जा सकता है। सोमवार को थोक महंगाई के आंकड़े भी जारी होने हैं। इस पर भी निवेशकों की नजर होगी। आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, मार्च में खुदरा महंगाई बढ़कर 2.83 प्रतिशत पर पहुंच गई जो पांच महीने का उच्चतम स्तर है। वहीं फरवरी में औद्योगिक उत्पादन की वृद्धि दर 0.1 प्रतिशत पर सिमट कर रह गई।

सप्ताह के दौरान 95 अंक गिरकर बंद हुआ सेंसेक्स
बीते सप्ताह के दौरान शेयर बाजार में दो दिन गिरावट और तीन दिन बढ़त के रहे। अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) की ओर भारत का विकास अनुमान घटाने से बुधवार को रही भारी गिरावट के कारण प्रमुख सूचकांक साप्ताहिक गिरावट में चले गए। सप्ताह के दौरान बीएसई सेंसेक्स 95.12 अंक यानी 0.24 प्रतिशत लुढ़ककर सप्ताहांत पर 38,767.11 अंक पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 22.50 अंक यानी 0.19 प्रतिशत टूटकर 11,643.45 अंक रह गया। मझौली और छोटी कंपनियाँ भी दबाव में रहीं। बीएसई का मिडकैप 0.47 प्रतिशत और स्मॉलकैप 0.16 प्रतिशत फिसल गया। 

सोमवार को रहे मिश्रित रुझान
गत सोमवार को वैश्विक बाजार से मिले मिश्रित रुझानों के साथ ही घरेलू स्तर पर रिलायंस इंडस्ट्रीज, स्टेट बैंक और वेदांता जैसी दिग्गज कंपनियों में हुई बिकवाली से सेंसेक्स 161.70 अंक और निफ्टी 61.45 अंक टूट गया। मंगलवार को उतार-चढ़ाव से होते हुए सेंसेक्स 238.69 अंक और निफ्टी 67.45 अंक की बढ़त बनाने में कामयाब रहा। आईएमएफ का विकास अनुमान जारी होने के बाद बुधवार को बाजार में शुरू से ही गिरावट रही। दूरसंचार, बैंकिंग और वित्तीय, आईटी एवं टेक तथा धातु क्षेत्र की कंपनियों में बिकवाली से सेंसेक्स 353.87 अंक और निफ्टी 87.65 अंक लुढ़क गया। गुरुवार को अंतिम घंटे में हुई लिवाली के बल पर सेंसेक्स 21.66 अंक और निफ्टी 12.40 अंक चढ़ा। शुक्रवार को सेंसेक्स में 160.10 अंक और निफ्टी में 46.75 अंक की बढ़त रही। 

बीते सप्ताह सेंसेक्स में 30 में से 16 कंपनियों में बढ़त रही 
बीते सप्ताह सेंसेक्स की 30 में से 16 कंपनियां बढ़त में और शेष 14 गिरावट में रहीं। वाहन निर्माता कंपनियों के शेयरों में तेजी रही। बजाज ऑटो ने सेंसेक्स में सबसे ज्यादा 5.09 प्रतिशत का साप्ताहिक मुनाफा कमाया। टाटा मोटर्स के शेयर 4.91 फीसदी, मारुति सुजुकी के 3.17, महिंद्रा एंड महिंद्रा के 2.95 और हीरो मोटोकॉर्प के 0.88 प्रतिशत चढ़े। एफएमसीजी क्षेत्र की दिग्गज कंपनी आईटीसी के शेयर में 3.72 प्रतिशत और हिंदुस्तान यूनिलिवर में 3.68 प्रतिशत की तेजी रही। ऊर्जा क्षेत्र की कंपनियों में कोल इंडिया के शेयर 2.28 प्रतिशत, एनटीपीसी के 1.15 प्रतिशत, ओएनजीसी के 0.86 प्रतिशत और पावर ग्रिड के 0.36 प्रतिशत चढ़ गए। 

बैंकिंग और वित्तीय कंपनियों में मिलाजुला रुख
बैंकिंग एवं वित्तीय कंपनियों में मिलाजुला रुख रहा। आईसीआईसीआई बैंक में 1.01 प्रतिशत, कोटक महिंद्रा बैंक में 0.80, एक्सिस बैंक में 0.29 और यस बैंक में 0.28 प्रतिशत की बढ़त रही। वहीं, बजाज फाइनेंस के शेयर 3.26 फीसदी, एचडीएफसी बैंक के 1.59, एचडीएफसी के 1.47, इंडसइंड बैंक के 1.46 और भारतीय स्टेट बैंक के 0.54 प्रतिशत गिरे। आईटी एवं टेक क्षेत्र की कंपनियों मं टीसीएस को 1.84 प्रतिशत, इंफोसिस को 1.11 प्रतिशत और एचसीएल टेक्नोलॉजीज को 0.93 प्रतिशत का साप्ताहिक नुकसान हुआ। आलोच्य सप्ताह के दौरान एशियन पेंट्स ने सेंसेक्स में सर्वाधिक 5.09 प्रतिशत, भारती एयरटेल ने 4.22, वेदांता ने 4.02, टाटा स्टील ने 2.66, रिलायंस इंडस्ट्रीज ने 0.97 और एलएंडटी ने 0.91 प्रतिशत का नुकसान उठाया। सनफार्मा के शेयर 0.35 प्रतिशत की बढ़त में रहे।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन