विज्ञापन
Home » Market » StocksGoyal seeks Rs 750-cr lifeline from Etihad, warns delay may ground Jet Airways

Jet Airways के सामने ऑपरेशन बंद होने का संकट, गोयल ने एतिहाद से मांगे 750 करोड़ रु

जेट एयरवेज (Jet Airways) के विमानों का परिचालन बंद होने का खतरा पैदा हो गया है।

Goyal seeks Rs 750-cr lifeline from Etihad, warns delay may ground Jet Airways

मुंबई. जेट एयरवेज (Jet Airways) के विमानों का परिचालन बंद होने का खतरा पैदा हो गया है। कंपनी के चेयरमैन नरेश गोयल (Naresh Goyal) ने इस संकट के चलते जेट एयरवेज (Jet Airways) की इक्विटी पार्टनर एतिहाद (Etihad) से 750 करोड़ रुपए की अर्जेंट फंडिंग की डिमांड की है। उन्होंने हालात की ‘गंभीरता’ का हवाला देते हुए कहा कि 50 से ज्यादा प्लेन का परिचालन बंद होने के बाद अब संकट खासा बढ़ गया है।

 

एतिहाद को गोयल ने भेजा लेटर

गल्फ बेस्ड एयरलाइन के ग्रुप चीफ एग्जीक्यूटिव टोनी डगलस (Tony Douglas) को भेजे लेटर में गोयल ने यह भी कहा कि उसे एंटरिम फंडिंग के लिए जेटप्रिवलिज (JetPrivelege) में अपने शेयर गिरवी रखने के लिए एविएशन मिनिस्ट्री से भी मंजूरी मिल गई है।

 

एतिहाद की भी चल रही मीटिंग

एयरलाइन की लॉयल्टी प्रोग्राम में 49.9 फीसदी हिस्सेदारी है, जबकि बहुलांश हिस्सेदारी एतिहाद के पास है। गौरतलब है कि एतिहाद का बोर्ड जेट के वास्ते रिजॉल्यूशन प्लान को लेकर सोमवार को अबूधाबी में चर्चा कर रहा है। जेट एयरवेज में एतिहाद की अप्रैल, 2014 से 24 फीसदी हिस्सेदारी बनी हुई है।

 

अगले हफ्ते तक देने होंगे 750 करोड़ रुपए

गोयल ने 8 मार्च को भेजे लेटर में कहा, ‘मैं अब एयरलाइन को बचाने में अगले हफ्ते तक 750 करोड़ रुपए के निवेश के तौर पर आपसे सहयोग की उम्मीद कर रहा हूं। रिजॉल्यूशन प्लान के तहत इतना ही अंशदान बैंकों द्वारा किया जाएगा।’

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन