Home » Market » StocksGN Bajpai resigns from IL&FS board

IL&FS के रिवाइवल को झटका, जीएन बाजपेयी ने बोर्ड से दिया इस्तीफा

कर्ज में डूबी IL&FS के हाल में बनाए गए बोर्ड से जी एन बाजपेयी ने डायरेक्टर पद से इस्तीफा दे दिया है।

GN Bajpai resigns from IL&FS board

 

मुंबई. नियुक्ति के एक महीने के भीतर कर्ज में डूबी इन्फ्रास्ट्रक्चर लीजिंग एंड फाइनेंशियल सर्विसेस (IL&FS) के बोर्ड से जी. एन. बाजपेयी ने गुरुवार को इस्तीफा दे दिया। हालांकि उन्होंने ‘व्यक्तिगत वजहों’ से इस्तीफा देने की बात कही है। उनका इस्तीफा 30 अक्टूबर से प्रभावी माना जाएगा। बाजपेयी के इस फैसले को आईएलएंडएफएस के रिवाइवल के लिए झटका माना जा रहा है। सेबी और एलआईसी के पूर्व चेयरमैन बाजपेयी उन 7 डायरेक्टर्स में से एक हैं, जिन्हें एनसीएलटी के आदेश के बाद बोर्ड में नियुक्त किया गया है। नए बोर्ड ने पुराने बोर्ड की जगह ले ली है।


30 अक्टूबर से लागू होगा इस्तीफा

कंपनी ने एक रेग्युलेटरी फाइलिंग में कहा, ‘कंपनी मामलों के मंत्रालय ने 30 अक्टूबर, 2018 के अपने लेटर के माध्यम से कंपनी को बताया है कि व्यक्तिगत कारणों से आईएलएंडएफएस के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स से जीएन बाजपेयी ने इस्तीफा दे दिया है। उनका इस्तीफा 30 अक्टूबर, 2018 से लागू माना जाएगा।’

इस बीच एक अलग फाइलिंग में आईएलएंडएफएस ट्रांसपोर्टेशन ने कहा कि उसने गुरुवार को नॉन कन्वर्टिबल डिबेंचर्स पर 2.29 करोड़ रुपए का डिफॉल्ट किया है। कंपनी ने यह भी कहा कि उसके इंडिपेंडेंट डायरेक्टर नीरू सिंह ने उसके बोर्ड के सदस्य के तौर पर इस्तीफा दे दिया है, जो गुरुवार से प्रभावी है।

 

 

बोर्ड में बचे अब ये सदस्य

बाजपेयी के इस्तीफे के बाद कंपनी के बोर्ड में बैंकर उदय कोटक, आईसीआईसीआई बैंक के एग्जीक्यूटिव चेयरमैन जी सी चतुर्वेदी, आईएएस अधिकारी और पोत परिवहन महानिदेशक मालिनी शंकर, महिंद्रा ग्रुप के विनीत नायर, वेटरन ऑडिटर नंदकिशोर और राजस्थान के पूर्व चीफ सेक्रेटरी सीएस राजन बचे हैं। उदय कोटक बोर्ड के चेयरमैन हैं।

 

 

नए बोर्ड ने बनाई थीं चार कमेटियां

कमान संभालने के बाद नए बोर्ड ने चार कमेटियां बनाई थीं और बाजपेयी शेयरहोल्डर्स रिलेशनशिप कमिटी और कॉरपोरेट सोशल रिस्पॉन्सिबिलिटी का हिस्सा थे।



 


prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट