बिज़नेस न्यूज़ » Market » StocksFPI निवेश 8 महीने के हाई पर, नवंबर में स्टॉक मार्केट में लगाए 19700 करोड़

FPI निवेश 8 महीने के हाई पर, नवंबर में स्टॉक मार्केट में लगाए 19700 करोड़

एफपीआई ने नवंबर महीने में उन्होंने स्टॉक मार्केट में 19,700 करोड़ रुपए का निवेश किए हैं।

1 of

नई दिल्ली. फॉरेन पोर्टफोलियो इन्वेस्टर्स (एफपीआई) ने नवंबर महीने में उन्होंने स्टॉक मार्केट में 19,700 करोड़ रुपए का निवेश किए हैं। यह पिछले 8 महीने का हाइएस्ट लेवल है। इसकी अहम वजह वर्ल्ड बैंक की ईज ऑफ डुइंग बिजनेस रैंकिंग में भारत की स्थिति में सुधार के साथ सरकार का सरकारी बैंकों के रिकैपिटलाइजेशन की घोषणा करना है। इस दौरान एफपीआई ने डेट मार्केट में 530 करोड़ रुपए निवेश किए।

 

 

यह भी पढ़ें- पहली बार: ईज ऑफ डूइंग बिजनेस में भारत को 100 वीं रैंक, 30 पायदान की

 

डिपॉजिटरी डेटा के मुताबिक, पिछले महीने एफपीआई ने इक्विटी में कुल 19,728 करोड़ रुपए का निवेश किया। यह एफपीआई का मार्च के बाद किया गया सबसे ज्यादा निवेश है। मार्च में विदेशी निवेशकों ने स्टॉक मार्केट में 30,906 करोड़ रुपए का निवेश किया था।

 

घरेलू स्टॉक मार्केट के लिए यह साल बेहतर रहा है। अगस्त और सितंबर महीने में घरेलू स्टॉक्स में खरीददारी कम रहने के बाद अक्तूबर से इसमें फिर सुधार देखने को मिला है और नंवबर महीने में एफपीआई ने अच्छी मात्रा में निवेश किया।

 

ये फैक्टर्स रहे पॉजिटिव

मॉर्निंगस्टार इंडिया के सीनियर एनालिस्ट मैनेजर (रिसर्च) हिमांशु श्रीवास्तव ने कहा कि सरकारी बैंकों के लिए रिकैपिटलाइजेशन प्लान के सरकार के फैसले को फॉरेन इन्वेस्टमें में तेजी का श्रेय दिया जा सकता है। उन्होंने कहा कि वर्ल्ड बैंक की ईज ऑफ डुइंग बिजनेस में भारत की रैंकिंग सुधरना भी भारत के पक्ष में रहा। वर्ल्ड बैंक की ईज ऑफ डुइंग बिजनेस रैंकिंग में भारत ने 30 पायदानों की छलांग लगाई है।

 

2.11 लाख करोड़ का बैंक रिकैपटिलाइजेशन प्लान 

24 अक्टूबर वित्त मंत्री अरुण जेटली ने पीएसयू बैंकों के लिए 2.11 लाख करोड़ रुपए रिकैपिटलाइजेशन प्रोग्राम की घोषणा की थी। इसके लिए 1.35 लाख करोड़ रुपए रिकैप बॉन्ड से से और बाकी की रकम मार्केट्स और बजटीय सपोर्ट द्वारा जुटाए जाएंगे।

 

 

यह भी पढ़ें- बैंक रिकैप प्लान से GDP को मिलेगा बूस्ट, FY19 में 8% हो सकती है ग्रोथः गौल्डमैन सैक्स

 

 

मूडीज ने 13 साल बाद बढ़ाई रैंकिंग

इसके अलावा अमेरिकी ग्लोबल रेटिंग एजेंसी मूडीज द्वारा नवंबर में भारत की रेटिंग बढ़ाए जाने का भी फायदा मिला है। मूडीज ने करीब 13 साल बाद भारत की रेटिंग Baa3 बढ़ाकर Baa2 की है। GST समेत मोदी सरकार की ओर से इकोनॉमिक रिफॉर्म के लिए उठाए गए कदमों से भारत में ग्रोथ की रफ्तार बनी रहने की संभावना है।

 

कुल मिलाकर 2017 में अब तक फॉरेन पोर्टफोलियो इन्वेस्टर्स ने स्टॉक मार्केट में 53,800 करोड़ रुपए और डेट मार्केट में 1.46 लाख करोड़ रुपए का निवेश किया है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट