बिज़नेस न्यूज़ » Market » Stocksसरकार ने डेट ETF के लिए मांगे सलाहकारों से प्रस्‍ताव, 16 मई तक कर सकते हैं आवदेन

सरकार ने डेट ETF के लिए मांगे सलाहकारों से प्रस्‍ताव, 16 मई तक कर सकते हैं आवदेन

फाइनेंस मिनिस्‍ट्री ने डेट एक्‍सचेंज ट्रेडिड फंड (ETF) के लिए सलाहकार नियुक्‍त करने की प्रक्रिया शुरू की है।

1 of

 

नई दिल्‍ली. फाइनेंस मिनिस्‍ट्री ने डेट एक्‍सचेंज ट्रेडिड फंड (ETF) के लिए सलाहकार नियुक्‍त करने की प्रक्रिया शुरू की है। मिनिस्‍ट्री का कहना है कि इस तरीके से सरकारी कंपनियां और बैंक पूंजी जुटा सकेंगे। पिछले तीन सालों में सरकारी कंपनियों ने 3 लाख रुपए बॉन्‍ड के रूप में जुटाए हैं।

 

 

16 मई तक मांगे प्रस्‍ताव

डिपार्टमेंट फॉर इन्‍वेस्‍टमेंट एंड पब्लिक आसेट मैनेजमेंट (DIPAM) ने रिक्‍वेस्‍ट फॉर प्रापोजल (RFP) जारी किया है। इसमें डेट ETF शुरू करने के लिए एडवाइजर या कंसलटेंट के लिए प्रस्‍ताव मांगे गए हैं। यह प्रस्‍ताव 16 मई 2018 तक दिए जा सकते हैं। इस तरह के फंड से सरकारी कंपनियों की लिक्विडिटी और निवेशकों का आधार बढ़ाने में मदद मिलेगी। इस माध्‍यम से सरकारी कंपनियां और बैंक अपनी जरूरत के हिसाब से बाजार से पूंजी जुटा सकेंगे। इससे कंपनियों और निवेशकों दोनों का फायदा होगा।

 

 

3 साल के लिए होगी तैनाती

मांगे गए प्रस्‍ताव के अनुसार सलाहकार की नियुक्ति शुरूआत में 3 साल के लिए की जाएगी, जिसे बाद में 2 साल के लिए बढ़ाया जा सकता है। यह सलाहकार डेट ETF की शुरुआत के अलावा इनको मैनेज करने पर अपनी सलाह देंगे। इसके अलावा बाद में भी पैसा जुटाने के तरीकों पर नियमों को तैयार करेंगे।

 

 

ये है योग्‍यता

इन सलाहकार पद के लिए योग्‍यता का भी विवरण जारी किया गया है। इसके अनुसार सेबी रजिस्‍टर्ड मर्चेंट बैंकर या सलाहकर फर्म जिसने ETF के लिए सलाह दी हो या ऐसे फंड लांच किए हों। इसके अलावा वह लोग जिन्‍होंने डेट म्‍युचुअल फंड या 5 हजार करोड़ से ज्‍यादा के कार्पोरेट बॉन्‍ड का इश्‍यु संभाला हो। नियमों के अनुसार यह अनुभव 1 अप्रैल 2015 से 31 मार्च 2018 के बीच का हो। जो लोग या कंपनियां ऐसी योग्‍यता रखते हैं वह 16 मई तक अपना प्रस्‍ताव सरकार को दे सकते हैं।

 

 

सरकारी कंपनियों ने बाजार से जुटाया है 3 लाख करोड़ रुपए

सरकारी आंकड़ों के अनुसार 15 सरकारी कंपनियों ने संयुक्‍त रूप से पिछले 3 साल में करीब 3 लाख करोड़ रुपए बॉन्‍ड के रूप में जुटाया है। इनमें से 12 कंपनियों के बॉन्‍ड की रेटिंग AAA थी। इस ग्रेड के बॉन्‍ड में निवेश सबसे सुरक्षित समझा जाता है।

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट