Home » Market » StocksFacebook Stock Continue to Plummet, Investors Lost 1.23 Lakh Crore

डाटा लीक: फेसबुक नि‍वेशकों के डूबे 1.23 लाख करोड़ रु, स्‍टॉक में आई 2.66 % की गि‍रावट

करोड़ों यूजर्स के डाटा लीक के मामले में फेसबुक को भारी झटका लगा।

1 of

नई दि‍ल्‍ली। करोड़ों यूजर्स के डाटा लीक के मामले में फेसबुक को लगातार दूसरे दि‍न भारी झटका लगा। कंपनी के स्‍टॉक में गुरूवार को 2.66 फीसदी की गि‍रावट दर्ज की गई। इससे फेसबुक के मार्केट कैप में करीब 1.23 लाख करोड़ रुपए की कमी आ गई। इस मामले में अमेरिका और कई यूरोपीय देशों की सरकारों ने भी सवाल उठाए हैं। हालांकि‍ फेसबुक के संस्थापक मार्क जुकरबर्ग ने डाटा लीक के मामले में सार्वजनि‍क तौर पर माफी भी मांगी है। 

 

भारत ने भी दी चेतावनी 
चुनावों में फेसबुक के डाटा के इस्‍तेमाल को  लेकर बीते दो दि‍नों से भारत में सि‍यासी घमासान मचा हुआ है। कांग्रेस और भाजपा ने एक दूसरे पर कैंब्रि‍ज एनालि‍टीका की सेवाएं लेने का आरोप लगाया है, जि‍सने फेसबुक से यूजर्स डाटा हासि‍ल कि‍या। बुधवार को केंद्रीय सूचना एवं प्रौद्यौगि‍की मंत्री रवि‍शंकर प्रसाद ने फेसबुक को चेतावनी दी थी कि‍ अगर देश की चुनावी प्रक्रि‍या को प्रभावि‍त करने की कोशि‍श की गई तो उसके खि‍लाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। 

 

अमेरिकी और यूरोपीय अधिकारियों ने उठाए सवाल
न्यूयॉर्क टाइम्स और लंदन के ऑब्जर्वर के अनुसार, 2016 में अमेरिका के राष्ट्रपति चुनाव में डोनाल्ड ट्रम्प की मदद करने वाली एक फर्म ‘कैम्ब्रिज एनालिटिकल’ पर लगभग 5 करोड़ फेसबुक यूजर्स के निजी जानकारी चुराने के आरोप लगे हैं। इस जानकारी को चुनाव के दौरान इस्तेमाल किया गया है। इस खबर के बाद अमेरिकी और यूरोपीय अधिकारियों ने भी फेसबुक से जवाब-तलब किया है। इसका खासा असर कंपनी के स्टॉक पर दिखा।
 
 2.66 फीसदी  टूटा स्टॉक

गुरूवार को अमेरिकी स्टॉक मार्केट खुलने के साथ ही नैस्डैक पर फेसबुक का शेयर में गि‍रावट होने लगी। गुरूवार के कारोबार के दौरान कंपनी का स्‍टॉक 2.66 फीसदी गि‍रकर 164.89 डॉलर पर आ गया। बीते 4 दि‍नों से कंपनी के शेयरों में गि‍रावट आ रही है। बीते 4 दि‍नों में फेसबुक के शेयर की कीमत 184.49 से घटकर 164.89 डॉलर तक आ गई। इसका असर फेसबुक के फाउंडर और सीईओ मार्क जुकरबर्ग की पर्सनल वेल्थ पर भी पड़ा। 

 

3.79 लाख करोड़ रु घटा मार्केट कैप

डाटा लीक का मामला उजागर होने के बाद फेसबुक का स्टॉक्स 10.83 फीसदी टूटा है। स्टॉक्स में गिरावट से पिछले 4 ट्रेडिंग सेशन में फेसबुक का मार्केट कैप 379730.68 करोड़ रुपए घटा गया।

 

ट्रम्प के कैम्पेन में अहम रोल निभाने वाली कंपनी का आया नाम


बीबीसी के अनुसार, फेसबुक के डिप्टी लीगल एडवाइजर पॉल ग्रेवाल ने अपने ब्लॉग में कहा कि इस मामले की जांच की जा रही है और जांच पूरी होने तक ‘कैम्ब्रिज एनालिटिकल’ का निलंबन जारी रहेगा। इसी फर्म ने ट्रम्प के इलेक्शन कैंपेन में अहम भूमिका निभाई थी। उन्होंने कहा कि जरूरत पड़ने पर कानूनी कदम भी उठाया जा सकता है।
 
डाटा बेचने के लगे आरोप
रिपोर्ट्स के अनुसार कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर अलैक्जेंडर कोगन ने वर्ष 2015 में एक 'पर्सनालिटी ऐप' बनाया था और उससे चुनाव को लेकर वोटर्स के रुझान और पसंद-नापसंद के बारे में खासी डिटेल्स जुटाई थीं। उन्होंने बाद में डाटा को कैम्ब्रिज ऐनालिटिकल और उसकी मुख्य कंपनी स्ट्रैटजिक कम्युनिकेशंस समेत तीसरी पार्टी को बेच दिया था।
 
ऐप के सहारे हुआ खेल
ग्रेवाल ने कहा, 'हमें जानकारी मिली थी कि प्रोफेसर कोगन ने वर्ष 2013 में योरडिजिटललाइफ नामक ऐप बनाया था और करीब 2.70 लाख लोगों तक इससे पहुंच बनी थी। लोगों ने चुनाव से संबंधित विभिन्न मुद्दों पर राय दी थी और अन्य लोगों का कॉन्ट्रैक्ट सोर्स और एड्रेस मुहैया कराया था। प्रोफसर कोगन ने डाटा डिलीट नहीं किया और उसे बेच दिया था, जो फेसबुक की नीतियों के खिलाफ है।
 
 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट