बिज़नेस न्यूज़ » Market » Stocksइक्विटी MF में 1.7 लाख करोड़ रुपए का निवेश, 32 लाख नए निवेशक जुड़े

इक्विटी MF में 1.7 लाख करोड़ रुपए का निवेश, 32 लाख नए निवेशक जुड़े

वर्ष 2017-18 के दौरान म्‍युचुअल फंड्स की इक्विटी योजनाओं में 1.7 लाख करोड़ रुपए का निवेश आया है।

1 of

 

नई दिल्‍ल्‍ली. वर्ष 2017-18 के दौरान म्‍युचुअल फंड्स की इक्विटी योजनाओं में 1.7 लाख करोड़ रुपए का निवेश आया है। एसोसिएशन ऑफ म्‍युचुअल फंड इन इंडिया (एम्‍फी) के अनुसार यह लगतार चौथा साल जब इक्विटी म्‍युचुअल फंड में निवेश पॉजिटिव रहा है। इस प्रकार इक्विटी म्‍युचुअल फंड में कुल में निवेश में 37 फीसदी की ग्रोथ दर्ज की गई है। 31 मार्च 2018 तक इक्विटी म्‍युचुअल फंड में कुल निवेश 7.5 लाख करोड़ रुपए हो गया था। इस साल इक्विटी म्‍युचुअल फंड में 32 लाख नए निवेशक जुड़े हैं।

 

निवेशक जागरूकता कार्यक्रम से मिली मदद

ऑनलाइन म्‍युचुअल फंड प्‍लेटफार्म Groww के सीओओ हर्ष जैन के अनुसार म्‍युचुअल फंड को लेकर लगातार जागरूकता कार्यक्रम चलाए गए, जिसका फायदा मिला है। इसके अलावा नोटबंदी, रिटेल निवेशकों की बढ़ती भागीदारी से भी इक्विटी म्‍युचुअल फंड में निवेश बढ़ा है। इसके अलावा अब निवेशक रियल स्‍टेट और गोल्‍ड जैसे ट्रेडिशनल आसेट क्‍लास की जगह इक्विटी म्‍युचुअल फंड में निवेश कर रहे हैं।

 

SIP में बढ़ रहा निवेश  

उन्‍होंने कहा कि इक्विटी म्‍युचुअल फंड में सबसे अच्‍छी बात सिस्‍टेमैटिक इन्‍वेस्‍टमेंट प्‍लान (SIP) के माध्‍यम से निवेश का बढ़ना है। इसकी लोकप्रियता इतनी बढ़ रही है कि लोग एक बार में निवेश करने की जगह अब इस माध्‍यम का इस्‍तेमाल कर रहे हैं।

 

पिछले साल से ढाई गुना अाया निवेश

एम्‍फी की तरफ से जारी डाटा के अनुसार वर्ष 2017-18 में इक्विटी म्‍युचुअल फंड में 1,71,069 करोड़ रुपए का निवेश आया है। पिछले साल यह निवेश 70 हजार करोड़ रुपए से कुछ ज्‍यादा था। वहीं वर्ष 2015-16 में 74,024 हजार करोड़ रुपए और 2014-15 में 71,029 करोड़ रुपए का निवेश आया था।

 

7.5 लाख करोड़ रुपए के पार निकली AUM

इक्विटी म्‍युचुअल में मार्च 2018 तक 7.5 लाख करोड़ रुपए के पार AUM निकल गई। मार्च 2017 में यह आसेट 5.43 लाख करोड़ रुपए थी। पिछले साल म्‍युचुअल फंड से 32 लाख नए निवेशक जुड़े हैं। इनको मिलाकर अब इक्विटी म्‍युचुअल फंड में फोलियो की संख्‍या बढ़कर 1.05 लाख करोड़ रुपए हो गई है।

 
 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट