Home » Market » StocksAUM of MF industry increased to more than Rs 23 lakh crore

MF में अप्रैल में आया 12400 करोड़ रुपए का निवेश, AUM बढ़कर हुई 23.25 लाख करोड़

निवेशकों ने अप्रैल में इक्विटी म्‍युचुअल फंड में 12400 करोड़ रुपए का निवेश किया है।

1 of

 

नई दिल्‍ली. निवेशकों ने अप्रैल में इक्विटी म्‍युचुअल फंड में 12400 करोड़ रुपए का निवेश किया है। इसके चलते इक्विटी म्‍युचुअल फंड की आसेट अंडर मैनेजमेंट (AUM) 8 लाख करोड़ रुपए के ऊपर निकल गई है। मार्च की तुलना में यह निवेश लगभग दोगुना रहा है। मार्च में कुल मिलाकर 6650 करोड़ रुपए का निवेश आया था। इसके साथ ही म्‍युचुअल फंड इंडस्‍ट्री की आसेट अंडर मैनेजमेंट बढ़कर 23.25 लाख करोड़ रुपए हो गई। देश में इस वक्‍त 42 म्‍युचुअल फंड कंपनियां हैं।



 

एम्‍फी ने डाटा किया जारी

एसोसिएशन ऑफ म्‍युचुअल फंड इन इंडिया (Amfi) की तरफ से जारी आंकड़ों में यह जानकारी दी गई है। इन आंकड़ों के अनुसार इक्विटी म्‍युचुअल फंड की अासेट 6 फीसदी से ज्‍यादा बढ़कर 8 लाख करोड़ रुपए के पार निकल गई। यह अासेट मार्च के अंत में 7.5 लाख करोड़ रुपए थी।

 

 

अप्रैल की शुरुआत में हुआ था करेक्‍शन

एस्‍सेल म्‍युचुअल फंड के सीआईओ विरल बेरावाला के अनुसार अप्रैल की शुरुआत में मार्केट में करेक्‍शन आया था। इसका फायदा उठाने के लिए वैल्‍यू इन्‍वेस्‍टर्स ने निवेश किया। वहीं मार्च में इनकम टैक्‍स बचाने के लिए ज्‍यादातर लोग बीमा कराते हैं या प्रीमियम पे करते हैं, इस कारण भी आमतौर पर निवेश कम आता है। इसके अलावा कई सारे एनएफओ भी में कई निवेशकों ने मौके देखे और निवेश किया, जिसके माच्र में थोड़ा कम निवेश आया।

 

 

मार्च में इक्विटी से पैसा निकला

फंड्स इंडिया की विद्या बाला के अनुसार मार्च में इक्विटी से काफी पैसा निकला जिसके चलते इनफ्लो में गिरावट नजर आ रही है। इसके दो कारण रहे एक तो स्‍टॉक मार्केट में गिरवाट थी, दूसरा सरकार ने लॉग टर्म कैपिटल गैन टैक्‍स लगाया था। हालांकि अप्रैल में यह मामले शांत पड़ गए और फिर से निवेश बढ़ने लगा।

 

गोल्‍ड फंड से निकला पैसा

वहीं गोल्‍ड फंड से पैसा निकला है। जहां मार्च में 436 करोड़ रुपए निकला वहीं अप्रैल में गोल्‍ड फंड से 54 करोड़ रुपए निकला। लेकिन डेट फंड में निवेश अाया है। इन फंड में 1.16 लाख करोड़ रुपए का निवेश आया।

 

 



prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट