Home » Market » StocksCCI fines Jet Airways InterGlobe Aviation and SpiceJet

अनफेयर बिजनेस में फंसी जेट, स्पाइसजेट और इंडिगो; CCI ने लगाया जुर्माना

कॉम्पिटीशन कमीशन ऑफ इंडिया (सीआईआई) ने अनफेयर बिजनेस पर जेट एयरवेज, इंटरग्लोब एविएशन और स्पाइसजेट पर कुल 54 करोड़ रुपए क

1 of

 

नई दिल्ली. कॉम्पिटीशन कमीशन ऑफ इंडिया (सीआईआई) ने अनफेयर बिजनेस पर जेट एयरवेज, इंटरग्लोब एविएशन और स्पाइसजेट पर कुल 54 करोड़ रुपए का जुर्माना लगाया है। कार्गो ट्रांसपोर्ट पर फ्यूल सरचार्ज की फिक्सिंग के मामले में दोषी पाए जाने पर प्राइवेट एयरलाइंस पर यह कार्रवाई की गई है।  एंट्री ट्रस्ट बॉडी ने तीनों एयरलाइंस को एंटी कॉम्पिटीटिव प्रैक्टिसेज ‘रोकने और बचने’ के निर्देश भी दिए हैं।

 

जेट एयरवेज पर लगा सबसे ज्यादा फाइन

सीसीआई की आधिकारिक रिलीज के मुताबिक, जेट एयरवेज पर जहां 39.81 करोड़ रुपए का फाइन लगाया गया है, वहीं इंटरग्लोब एविएशन और स्पाइसजेट पर क्रमशः 9.45 करोड़ रुपए और 5.10 करोड़ रुपए का फाइन लगाया गया है। इंटरग्लोब एविएशन देश में इंडिगो नाम से एयरलाइंस ऑपरेट करती है।

 

मिलीभगत से लगाया गया फ्यूल सरचार्ज

सीसीआई ने कहा कि ‘फ्रेट चार्जेस के कंपोनेंट फ्यूल सरचार्ज (एफएससी) की मिलीभगत से फिक्सिंग और रिविजन’ के लिए एयरलाइंस पर पेनल्टी लगाई गई है।

सीसीआई ने एक्सप्रेस इंडस्ट्री काउंसिल ऑफ इंडिया की एयरलाइंस के खिलाफ गुटबंदी की शिकायत पर यह आदेश जारी किया है।

 

ऐसे तय हुआ जुर्माना

रेग्युलेटर के मुताबिक, एयरलाइंस ने एफएससी रेट्स की फिक्सिंग और रिवीजन में मिलीभगत के साथ काम किया, जो कॉम्पिटीशन नॉर्म्स का उल्लंघन है। रिलीज में कहा गया, ‘संबंधित अवधि के दौरान एयरलाइंस की वित्तीय स्थिति पर गौर किया गया और देखा गया कि कुल कार्गो रेवेन्यू में एफएससी की हिस्सेदारी लगभग 20 से 30 फीसदी है। इस क्रम में कमीशन ने बीते तीन साल के टर्नओवर के औसत की 3 फीसदी की दर से पेनल्टी लगाई गई।’

 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट