बिज़नेस न्यूज़ » Market » Stocksसीए, सीएस पर भी अब एक्शन लेगा सेबी, लगा सकता है जुर्माना

सीए, सीएस पर भी अब एक्शन लेगा सेबी, लगा सकता है जुर्माना

चार्टर्ड एकाउंटेंट, कंपनी सेक्रेटरी, कॉस्ट अकाउंटेंट और वैल्यूअर्स अब मार्केट रेग्युलेटर के दायरे में आ सकते हैं।

1 of

नई दिल्ली.  चार्टर्ड एकाउंटेंट, कंपनी सेक्रेटरी, कॉस्ट अकाउंटेंट और वैल्यूअर्स अब मार्केट रेग्युलेटर के दायरे में आ सकते हैं। सेबी द्वारा मानदंडों के नए सेट के अनुसार, लिस्टेड कंपनियों के साथ डिलिंग में कोई कमी आती है तो अब सीए, सीएस, कॉस्ट अकाउंटेंट औऱ वैल्यूअर्स की फीस जब्त करने के साथ उन पर जुर्माना लगा सकता है। 

 

PNB, व्हाट्सऐप मामले में आए नजर में

हाल में पीएनबी, व्हाट्सऐप और फोर्टिस के साथ सत्यम और किंगफिशर धोखाधड़ी से जुड़े कई हाई प्रोफाइलमामलों में ऑडिटर्स और वैल्यूअर्स की भूमिका जांच के तहत आई है। एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि सेबी इस तरह के धोखाधड़ी को रोकने के लिए इस तरह की निगरानी सिक्युरिटीज मार्केट में करने जा रही है। उन्होंने कहा कि इसके लिए अतिरिक्त डिसक्लोजर जरूरतें और ऑडिटर्स द्वारा बनाए स्टेटमेंट्स की जांच के लिए अन्य थर्ड पार्टी की आवश्यकता होगी।

 

सेबी के दायरे में आएंगे सीए, सीएस

इसके साथ ही उन्होंने कहा, शेयरहोल्डर्स के हितों को ध्यान में रखते हुए सेबी के नियमों को अंतिम रूप दिया जा सकता है। इसके तहत चार्टर्ड एकाउंटेंट, कंपनी सेक्रेटरी, कॉस्ट अकाउंटेंट, वैल्यूअर्स और मॉनिटरिंग एजेंसियों की जिम्मेदारी सिक्युरिटीज रेग्युलेशन्स के जरिए तय की जाएगी।

अगर ऐसी संस्थाएं अपने डिलिंग्स में चूक करती हैं तो सेबी गलत तरीके से की गई कमाई जिसमें अर्जित फीस के साथ डिफॉल्ट की तारीख शामिल है पर सालाना 12 फीसदी की दर से ब्याज वसूलेगा।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Don't Miss