Home » Market » StocksStock Market: Bombay Stock Exchange on Wednesday revised the circuit limits

सर्किट लिमिट में बड़ा फेरबदल, BSE ने 487 स्टॉक्स के लिमिट बदले

बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) ने गुरुवार को 487 कंपनियों की सर्किट लिमिट में बदलाव की है।

1 of

नई दिल्ली.  बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) ने 487 स्टॉक्स की सर्किट लिमिट में बदलाव किया है। नई सर्किट लिमिट तत्काल प्रभाव से ही लागू हो गई हैं। इनमें ऊर्जा ग्लोबल, मिश्र धातु निगम (मिधानी), टाटा टेलीसर्विसेस (महाराष्ट्र) औऱ रेलिगेयर एंटरप्राइजेस शामिल हैं। इसके अलावा पार्श्वनाथ डेवलपर्स, IL&FS इंजीनियरिंग एंड कंस्ट्रक्शन, संख्य इंफोटेक, नू टेक इंडिया, थंगमईल ज्वैलरी, एमटी एडुकेयर के स्टॉक्स में सर्किट लिमिट में बदलाव हुए हैं। बीएसई ने यह कदम सर्विलांस एक्शन के तहत उठाया है।

 

क्या है सर्किट लिमिट

सर्किट लिमिट का अर्थ किसी स्टॉक या इंडेक्स में उतार-चढ़ाव के उस स्तर से है, जिसे पार करने की स्थिति में उसमें ट्रेडिंग रोक दी जाती है। यानी अगर किसी इंडेक्स या स्टॉक में पांच फीसदी का सर्किट फिल्टर लगाया गया है तो उसमें 4.99 फीसदी का उतार या चढ़ाव होते ही ट्रेडिंग स्थगित हो जाती है।

 

 

इन ग्रुप के स्टॉक्स की सर्किट लिमिट में बदलाव

बीएसई ने सर्किट लिमिट में बदलाव की जानकारी एक्सचेंज के ट्रेडिंग मेंबर्स को दे दी है। अपने सर्विलांस एक्शन के तहत एक्सचेंज ने अनेक कंपनियों के प्राइस बैंड को रिवाइज किया है। नई सर्किट लिमिट आज से ही लागू हो गई है। T, Z, P, ST, MT, ZP और XT ग्रुप के स्टॉक्स पर 5 फीसदी की सर्किट लिमिट लगा दी है।

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट