Advertisement
Home » मार्केट » स्टॉक्सBSE Launches Commodities Segment on 1st October

BSE ने लॉन्च किया कमोडिटी डेरिवेटिव ट्रेडिंग, 1 साल तक नहीं लगेगा ट्रांजैक्शन चार्ज

सोने के वायदा का लॉट साइज 1 किलो और चांदी का 30 किलो है।

BSE Launches Commodities Segment on 1st October

नई दिल्ली। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) ने 1 अक्टूबर से कमोडिटी डेरिवेटिव ट्रेडिंग शुरू की है। एक्सचेंज ने सोने और चांदी में वायदा कारोबार शुरू किया है। सोने के वायदा का लॉट साइज 1 किलो और चांदी का 30 किलो है। फिलहाल दोनों का डिलिवरी सेंटर अहमदाबाद है। एक्सचेंज ने अगले एक साल के लिए कमोडिटी में ट्रांजैक्शन चार्ज पूरी तरह से खत्म कर दिया है।

 

142 मेंबर कमोडिटी सेगमेंट से जुड़े

142 मेंबर कमोडिटी सेगमेंट से जुड़े हैं। आगे क्रूड और बेस मेटल में भी वायदा की तैयारी है। साथ ही एग्री कमोडिटी में भी उतरने की योजना है। अगले 3-4 साल में 50-60 कमोडिटी में वायदा की योजना है।

Advertisement

 

कमोडिटी डेरिवेटिव्स ट्रेडिंग के लॉन्च के दौरान बीएसई के एमडी और सीईओ आशीषकुमार चौहान ने कहा कि 1 अक्टूबर, 2018 से बीएसई के कमोडिटी डेरिवेटिव्स में शामिल होने से इस सेक्टर में मौजूद कई अन्य प्रतिभागियों को भी अवसर मिलेगा। कमोडिटी बाजार में शामिल होने और उनमें कारोबारी संबंध को भी मजबूत करने में मदद मिलेगी। कमोडिटी बाजारों में कीमतों का निर्धारण के लिए बीएसई की बेहतर तकनीक का उपयोग किया जाता है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Advertisement