Home » Market » StocksSensex may slip to 32,000 by December: BofAML

दिसंबर तक गिरकर 32000 के स्तर पर आ सकता है सेंसेक्स, BofAML ने जताई आशंका

मैक्रो इकोनॉमिक्स के बिगड़ते हालात का हवाला देते हुए फॉरेन ब्रोकरेज बैंक ऑफ अमेरिका मेरिल लिंच (BofAML) ने घरेलू मार्केट

1 of


मुंबई. मैक्रो इकोनॉमिक्स के बिगड़ते हालात का हवाला देते हुए फॉरेन ब्रोकरेज बैंक ऑफ अमेरिका मेरिल लिंच (BofAML) ने घरेलू मार्केट को लेकर सतर्क रहने की सलाह दी है। उसका अनुमान है कि दिसंबर तक सेंसेक्स गिरकर 32000 का लेवल टच कर सकता है।
बजट के बाद के खराब दौर के बाद मार्केट ने अप्रैल में लगभग 5 फीसदी की ग्रोथ दर्ज की और बुधवार को यानी 2 मई को सेंसेक्स 35,176 पर बंद हुआ।

 

 

शेयर बाजारों में गिरावट का जोखिम
बोफाएमएल ने अपनी ग्लोबल रिसर्च रिपोर्ट में कहा, ‘भले ही भारत के माइक्रोइकोनॉमिक्स फैक्टर्स में सुधार देखने को मिल रहा है, लेकिन मैक्रोइकोनॉमिक्स फैक्टर्स में कमजोरी दिख रही है। हमारा मानना है कि आने वाले समय में मैक्रोइकोनॉमिक्स का ज्यादा असर दिखेगा और भारतीय शेयर बाजारों में गिरावट का जोखिम नजर आ रहा है। तेल की ऊंची कीमतों से घाटा बढ़ेगा और चुनावों में राजनीतिक अनिश्चितता बढ़ेगी।’
रिपोर्ट के मुताबिक, ‘अर्निंग्स कमजोर रही हैं, इसलिए हम मार्केट को लेकर सतर्क हैं और हमारा दिसंबर के लिए सेंसेक्स का टारगेट 32,000 प्वाइंट है।’
 

 

 

सीमेंट, बिजली की बढ़ रही है डिमांड
ब्रोकरेज के मुताबिक, सीमेंट की डिमांड, इलेक्ट्रिसिटी कन्जम्प्शन, रिटेल लेंडिंग, रूरल कन्जम्प्शन में सुधार देखने को मिल रहा है। बोफाएमएल ने कहा, ‘बिजली की डिमांड धीरे-धीरे बढ़ रही है। एफएमसीजी कंपनियों ने भी डेली कंज्यूमर प्रोडक्ट्स मजबूत वॉल्यूम ग्रोथ दर्ज की है।’
 

 

फिर भी कमजोर हैं कॉर्पोरेट अर्निंग्स
हालांकि कॉर्पोरेट अर्निंग्स कमजोर रही हैं, जिसके चलते मार्केट को लगातार डाउनग्रेड का सामना करना पड़ रहा है। बोफाएमएल ने कहा, ‘पब्लिक सेक्टर के बैंकों के अगली कुछ तिमाहियों के दौरान ऊंची प्रोविजनिंग और नॉन परफॉर्मिंग एसेट्स में बढ़ोत्तरी के चलते आगे भी दबाव में रहने का अनुमान है।’

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट