बिज़नेस न्यूज़ » Market » StocksAxis Bank बोर्ड ने शिखा शर्मा का कार्यकाल घटा कर किया 7 माह, RBI ने उठाए थे सवाल

Axis Bank बोर्ड ने शिखा शर्मा का कार्यकाल घटा कर किया 7 माह, RBI ने उठाए थे सवाल

एक्सिस बैंक की प्रबंध निदेशक और सीईओ शिखा शर्मा का नया कार्यकाल 3 साल से घटा कर 7 माह कर दिया गया है।

1 of

 

मुम्‍बई. एक्सिस बैंक की प्रबंध निदेशक और सीईओ शिखा शर्मा का नया कार्यकाल 3 साल से घटा कर 7 माह कर दिया गया है। यह फैसला एक्सिस बैंक के बोर्ड ने लिया है। इस बात का आग्रह बैंक बोर्ड से खुद शिखा ने किया था, जिसे बैंक के बोर्ड ने स्‍वीकार कर लिया है। उनका नया कार्यकाल 1 जून से शुरू होकर 31 दिसबंर 2018 तक चलेगा। लेकिन यह कार्यकाल तभी बढ़ेगा जब भारतीय रिजर्व बैंक इस प्रस्‍ताव को मंजूरी देगा। इसके पहले आरबीआई शिखा शर्मा के चौथी बार अप्वाइंटमेंट पर सवाल उठा चुका है।

 

शि‍खा शर्मा की करि‍यर ग्रोथ 

1980  एमबीए करने के बाद आईसीआईसीआई बैंक जॉइन कि‍या। इस दौरान वे उस टीम का हि‍स्‍सा थीं जो कि‍ रि‍टेल बि‍जनेस को सेट करने में जुटी थी। 
1992 डेपुटेशन पर आईसीआईसीआई और जेपी मॉर्गन के जॉइंट वेंचर में काम करने के लि‍ए भेजा गया। 
2000  शि‍खा आईसीआईसीआई प्रू की फाउंडि‍ंग सीईओ बनींं और 9 साल तक इसकी हेड बनी रहीं। 
अप्रैल 2009 शि‍खा शर्मा ने हेड के रूप में एक्‍सि‍स बैंक जॉइन कि‍या। 
नवंबर 2010 इनाम सि‍क्‍योरि‍टीज को खरीदने के बाद एक्‍सि‍स बैंक इंटरनेट बैंकि‍ंग बैंक क्षेत्र में बड़ा नाम हो गया।
2012 उनके कार्यकाल के पहले 3 साल में बैंक के CAGR का 20 फीसदी नेट प्रॉफि‍ट रहा।
जुलाई 2017 एक्‍सि‍स बैंक ने 385 करोड़ में फ्रीचार्ज को खरीद लि‍या।  
8 दि‍संबर 2017  एक्सिस बैंक निदेशक मंडल ने आरबीआई को सूचि‍त कि‍या कि‍ शिखा शर्मा को फि‍र से 3 साल के लि‍ए एमडी और सीईओ बनाए रखना चाहता है। यह कार्यकाल 1 जून 2018 से शुरू होगा। 
2 अप्रैल आरबीआई ने एक्‍सि‍स बैंंक से पूछा कि‍ शि‍खा शर्मा को चौथा कार्यकाल क्‍यों दि‍या जा रहा है? 
9 अप्रैल एक्‍सि‍स बैंक ने घोषि‍त कि‍या कि‍ शि‍खा शर्मा का कार्यकाल 31 दि‍संबर 2018 को समाप्‍त हो जाएगा।  

 

रेग्‍युलेटरी फाइलिंग में दी जानकारी

बैंक ने इस बात की जानकारी एक रेग्‍युलेटरी फाइलिंग में दी है। इसके अनुसार उनका तीसरा टर्म 31 मई 2018 को खत्‍म हो रहा है। रेग्‍युलेटरी फाइलिंग के अनुसार बैंक के बोर्ड ने पिछले साल 8 दिसबंर को अपनी बैठक में शिखा शर्मा को 1 जून 2018 के बाद तीन साल के टर्म फिर से देने का प्रस्‍ताव किया था, जिसे आरबीआई की मंजूरी के लिए भेजा गया था। ऐसे प्रस्‍ताव आरबीआई के मंजूरी के बाद ही लागू माने जाते हैं।

 

 

शिखा शर्मा ने खुद की रिक्‍वेस्‍ट

एक्सिस बैंक के अनुसार बैंक की प्रबंध निदेशक और सीईओ शिखा शर्मा ने खुद ही बैंक के बोर्ड से आग्र‍ह किया है उनका कार्यकाल 1 जून से 31 दिसबंर तक के लिए ही रिवाइज्‍ड किया जाए। हालांकि बैंक ने अपनी रेग्‍युलेटरी फाइलिंग में यह नहीं बताया है कि उन्‍होंने ऐसा आग्रह क्‍यों किया है। रेग्‍युलेटरी फाइलिंग के अनुसार बैंक के बोर्ड ने उनका आग्रह स्‍वीकार कर लिया है, लेकिन यह आरबीआई की मंजूरी के बाद ही लागू माना जाएगा।

 

 

तेजी से बढ़ा NPAs और गिरा प्रॉफिट

बैंक के NPAs में पिछले कुछ सालों से तेज इजाफा हुआ है। बैंक का मार्च 2015 में जहां NPAs 4,110 करोड़ रुपए था, वहीं यह मार्च 2017 में बढ़कर 21,280 करोड़ रुपए हो गया है। इस प्रकार दो साल में ही बैंक का एनपीए करीब 5 गुना बढ़ गया है। वहीं बैंक का प्रॉफिट इस दौरान 7,357.8 करोड़ रुपए से गिरकर 3,679.2 करोड़ रुपए पर आ गया।

 

 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट