Home » Market » Stocksएप्‍पल की सहयोगी कंपनियाें के शेयर को भी लगा झटका - Apple associate companies also share fallen

iPhone X के खराब बिक्री आंकड़ों की चर्चा से एप्‍पल का शेयर टूटा, सहयोगी कंपनियों को भी नुकसान

एप्‍पल और उसके एशियाई देशों की सप्‍लायर कंपनियों के शेयर में मंगलवार को लगातर दूसरे गिरावट दर्ज की गई है।

1 of

 

न्‍यूयार्क. एप्‍पल और उसके एशियाई देशों की सप्‍लायर कंपनियों के शेयर में मंगलवार को लगातर दूसरे गिरावट दर्ज की गई है। ताइवान के एक अखबार में छपी खबर के अनुसार एप्‍पल के iPhone X की बिक्री उम्‍मीद के मुताबिक नहीं हो पा रही है। इसी के बाद कंपनी के शेयरों में गिरावट दर्ज की गई। मंगलवार को एक समय एप्‍पल के शेयर में 3 फीसदी तक की गिरावट देखी गई। 10 अगस्‍त के बाद कंपनी के शेयरों में सबसे बड़ी गिरावट है। 
 

इन सप्‍लायरों के शेयर गिरे
एप्‍पल को आपूर्ति को करने वाली कंपनी जीनियस इलेक्‍ट्रॉनिक आप्टिकल के शेयर में करीब 2.4 फीसदी की गिरावट मंगलवार को देखी गई। दो दिनों में मिलाकर इस कंपनी का शेयर करीब 11.4 फीसदी गिर चुका है। वहीं पेगाट्रोन के शेयर में भी गिरावट देखी गई, यह 3.2 प्रतिशत तक टूट गया। हालांकि एप्‍पल के मुख्‍य सप्‍लायर फोक्‍सकॉन के शेयर में इन दो दिनों में ज्‍यादा गिरावट नहीं दर्ज की गई। 

 

 

 

ताइवान के इकोनॉमिक डेली में छपी खबर 
ताइवान के अखबार इकोनॉमिक डेली ने इस संबंध में एक खबर छापी है। इस खबर के अलावा कुछ अन्‍य विश्‍लेषकों ने इस बात की आशंका जताई है कि iPhone X की बिक्री उम्‍मीद के मुताबिक नहीं हो रही है। इन रिपोर्ट्स के अनुसार पहले तिमाही में बिक्री कम रह सकती है। ताइवान के अखबार ने खबर में लिखा है कि एप्‍पल का पहले बिक्री का लक्ष्‍य 5 करोड़ यूनिट का था जिसे घटाकर 3 करोड़ यूनिट किया जा सकता है। हालांकि अखबार ने इस जानकारी के स्रोत का खुुलासा नहीं किया है। हालांकि एप्‍पल अपने iPhone X की तिमाही बिक्री के आंकड़े जारी नहीं करती है। इस फोन की बिक्री इसी साल नवबंर में शुरू हुई थी। 


 
 चिंताएं बढ़ने वाली हैं
Sinolink सिक्योरिटीज की एनालिस्‍ट झांग बिन ने एक रिपोर्ट में कहा है कि इस अवधि में हैंडसेट शिपमेंट 1 करोड़ रह सकता है, जो पहले के 3.5 करोड़ के अनुमान की तुलना में कम है। झांग ने कहा कि आने वाले समय में iPhone X की वजह से एप्‍पल के मार्केट की चिंताएं बढ़ने वाली हैं। 
 
5 मिलियन तक रह सकती है गिरावट
न्‍यूयॉर्क की रिसर्च सेंटरजेएल वॉरेन कैपिटल LLC की ओर से कहा गया कि साल 2018 के पहले क्‍वार्टर में iPhone X के शिपमेंट यानी निर्यात 30 मिलियन से घटकर 25 मिलियन रह सकता है, यानी करीब 5 मिलियन की गिरावट रह सकती है। इसके अलावा यह अनुमान लगाया गया है कि दुनिया के कई शहरों में Apple के सप्‍लायर  इस प्रोडक्‍ट की डिमांड भी कम कर सकते हैं। 
 
दिलचस्‍प इनोवेशन की कमी 
रिसर्च फर्म ने आगे कहा कि iPhone X के हाई प्रासस होने की वजह से डिमांड में कमी आई है। इसके अलावा एप्‍पल के इस प्रोडक्‍ट में दिलचस्‍प इनोवेशन की कमी भी है। रिसर्च फर्म के मुताबिक हाई पब्‍लिसिटी और प्रोमोशन के बावजूद iPhone X की डिमांड में गिरावट कंपनी के लिए झटका है। 
 
10वीं एनिवर्सिरी पर हुआ था लॉन्‍च 
 - इसी साल सितंबर में एप्‍पल ने iPhone X की पहली झलक दिखाई थी।  999 डॉलर की शुरुआती कीमत के इस प्रोडक्‍ट को कंपनी की 10वीं एनिवर्सरी पर लॉन्च किया गया । 
- इस फोन की खूबियों की बात करें तो इसमें फेस आईडी फीचर है। इसकी मदद से यूजर आईफोन को अपने चेहरे से अनलॉक कर सकेगा।
- ये डिवाइस को पूरी तरह से सिक्योर रखेगा और साथ ही डिजिटल पेमेंट के लिए एपल-पे को भी सपोर्ट करेगा। इसकी सबसे बड़ी खासियत है कि ये अंधेरे में भी चेहरे की पहचान कर लेगा।
- वहीं ग्लास फिनिशिंग के साथ 64GB और 256GB के दो वैरिएंट हैं। 
- कंपनी ने इस फोन की मार्केटिंग को लेकर अब तक का सबसे एग्रेसिव प्लान बनाया था और ये पहले ही दिन करीब 60 देशों में फैले स्टोर्स में मिलना शुरू हो गया। 
 
 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट