Home » Market » StocksApple hits 1 trillion dollar stock market valuation

Apple का मार्केट कैप 1 लाख करोड़ डॉलर के पार, इस मुकाम पर पहुंचने वाली दुनिया की दूसरी कंपनी बनी

टेक कंपनी एप्पल 1 लाख करोड़ डॉलर (68 लाख करोड़ रुपए) की मार्केट कैप वाली अमेरिका की कंपनी बन गई है।

Apple hits 1 trillion dollar stock market valuation

नई दिल्ली.  आईफोन बनाने वाली अमेरिकी कंपनी एप्पल (Apple) ने एक इतिहास रच दिया है। टेक कंपनी एप्पल 1 लाख करोड़ डॉलर (68 लाख करोड़ रुपए) की मार्केट कैप वाली अमेरिका की पहली और दुनिया की दूसरी कंपनी बन गई है। इससे पहले नवंबर 2007 में शंघाई के शेयर बाजार में पेट्रोचाइना का मार्केट वैल्युएशन इस स्तर पर पहुंचा था।  गुरुवार को एप्पल का शेयर 207.05 डॉलर पर बंद हुआ। इसके साथ ही कंपनी की मार्केट कैप 1 लाख करोड़ डॉलर हो गई। Exxon Mobil, प्रॉक्टर एंड गैंबल औऱ AT&T कंपनियों की कुल मार्केट कैप से एप्पल का मार्केट वैल्यू ज्यादा है।

 

7 महीने में शेयर 22% बढ़ा

जनवरी 2018 से अब तक एप्पल के शेयर में 22% तेजी आई है। 12 महीने में ये 34% चढ़ा है। गुरुवार की तेजी के बाद शेयर अब तक के हाई लेवल पर पहुंच गया। कंपनी का मार्केट कैप 9 साल में करीब 900 फीसदी बढ़ चुका है। मई 2009 में एप्पल का वैल्युएशन 121 अरब डॉलर था जो अब 1000 अरब डॉलर हो गया है। 24 जनवरी 2013 को शेयर में गिरावट की वजह से मार्केट कैप एक ही दिन में 59.6 अरब डॉलर घट गया था। एप्पल 7 साल से लगातार दुनिया की नंबर 1 कंपनी बनी हुई है। 12 दिसंबर 1980 को एप्पल अमेरिकी शेयर बाजार में लिस्ट हुई। उस दिन मार्केट कैप 1.56 अरब डॉलर था।

 

1970 में हुई थी एप्पल की स्थापना

साल 1970 में स्टीव जॉब्स ने एप्पल की स्थापना की थी और 1980 में कंपनी शेयर बाजार में लिस्ट हुई थी। 1980 में लिस्टेड कंपनी बनने के बाद से अब तक एप्पल ने 50 हजार फीसदी की बढ़ोत्तरी दर्ज की गई है। जॉब्स की 2011 में कैंसर से मौत हो गई थी और उनके बाद टिम कुक सीईओ का पद संभाल रहे हैं, जिनकी अगुआई में कंपनी का मुनाफा दोगुना हो गया है।

 

जून तिमाही में 32 फीसदी बढ़ा मुनाफा

अप्रैल-जून तिमाही में कंपनी का मुनाफा 32% बढ़कर 79,000 करोड़ रुपए रहा। रेवेन्यू 17% बढ़कर 3.6 लाख करोड़ रुपए हो गया। आईफोन की बिक्री से रेवेन्यू में 20% बढ़ोतरी हुई। कंपनी ने 4.13 करोड़ आईफोन बेचे। हालांकि ये जून 2017 की तिमाही से 1% और मार्च 2018 की तिमाही से 21% कम है। लेकिन आईफोन की औसत कीमत में 20% इजाफे की वजह से रेवेन्यू बढ़ा है। एप्पल वॉच, होमपॉड स्पीकर और दूसरे हार्डवेयर की बिक्री 37% बढ़कर 25,000 करोड़ रुपए हो गई। एप्पल ने मंगलवार को नतीजों का ऐलान किया। बुधवार को इसके शेयर में 6% तेजी बेहतर नतीजों की वजह से ही आई थी।

 

पेट्रोचाइना 1 लाख करोड़ डॉलर मार्केट कैप पार करने वाली पहली कंपनी

नवंबर 2007 में पेट्रोचाइना कंपनी ने 1 ट्रिलियन डॉलर के मार्केट कैप का आंकड़ा छुआ था। तब शंघाई के शेयर बाजार में उसके शेयर में तीन गुना की बढ़ोतरी हुई थी। लेकिन एक ही दिन में कंपनी इस मार्केट कैप से नीचे आ गई। मार्च 2008 तक वह 500 अरब डॉलर पर आ गई। आज वह अलीबाबा से भी पीछे है। पेट्रोचाइना चीन की सबसे बड़ी तेल और गैस उत्पादक कंपनी है। इसका मौजूदा मार्केट वैल्युएशन सिर्फ 194 अरब डॉलर है।

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट