Home » Experts » MarketLTCG नहीं, बॉन्‍ड यील्‍ड है मार्केट में गिरावट का कारण - Ajai Kejriwal says Not LTCG Bond Yield is the reason for the fall in the market

LTCG नहीं, बॉन्‍ड यील्‍ड है मार्केट में गिरावट का कारण : केजरीवाल

स्‍टॉक मार्केट में बजट 2018 के बाद गिरावट का कारण LTCG नहीं, बल्कि बॉन्‍ड यील्‍ड का बढ़ना है।

LTCG नहीं, बॉन्‍ड यील्‍ड है मार्केट में गिरावट का कारण - Ajai Kejriwal says Not LTCG  Bond Yield is the reason for the fall in the market

नई दिल्‍ली. स्‍टॉक मार्केट में बजट 2018 के बाद गिरावट का कारण लॉन्‍ग टर्म कैपिटल गेन टैक्‍स (LTCG) नहीं, बल्कि बॉन्‍ड यील्‍ड का बढ़ना है। जहां तक LTCG की बात है तो यह एक सेंटिमेंट भर है। वैसे भी स्‍टॉक मार्केट लगातार ऊपर जा रहा था, जिसमें एक करेक्‍शन ड्यू हो गया था, जो अब शुरू हो गया है। यह ज्‍यादा दिन नहीं चलेगा और बाजार जल्‍द ही सामान्‍य हो जाएगा।

 

 

करेक्‍शन का उठाएं फायदा

मेरा मानना है कि लोगों को भारत की ग्रोथ स्‍टोरी पर भरोसा करना चाहिए और स्‍टॉक मार्केट में अच्‍छे शेयर में निवेश करना चाहिए। यही लोग हैं जो शेयर्स को अब से ज्‍यादा दाम पर खरादने को तैयार हो गए थे, लेकिन अब डर रहे हैं। यह ठीक नहीं है। यही मौका जब अच्‍छे स्‍टॉक को कम दाम पर खरीदा जा सकता है।

 

 

लॉन्‍ग टर्म कैपिटल गेन टैक्‍स से ज्‍यादा नुकसान नहीं

मेरा मानना है कि यह बहुत ज्‍यादा प्रभावित नहीं करेगा। साल में एक लाख रुपए तक की लॉन्‍ग टर्म कैपिटल गैन इनकम पर कोई टैक्‍स नहीं लगेगा। यह छूट आयकर देने वाले हर वर्ग के लोगों को मिलेगी, चाहे, वह इनकम के किसी भी ब्रैकेट में आते हों। सरकार ने इस मामले में आमलोगों सहित सभी इक्विटी निवेशकों का खयाल रखा है।

 

 

आर्निंग ग्रोथ आती दिख रही

मेरा मानना है कि काफी समय बाद कंपनियों की अर्निंग ग्रोथ दिखने लगी है। अगले वित्‍तीय साल में यह साफ साफ नजर आने लगेगी और बाजार फिर से अच्‍छा हो जाएगा। इसी लिए मेरा मानना है कि इस गिरावट में ससझदारी के साथ निवेशकों को अपना पोर्टफोलियो बनाना शुरू कर देना चाहिए।

 

(च्‍वॉइस ब्रोकिंग के प्रेसीडेंट अजय केजरीवाल हुई moneybhaskar.com के विनय कुमार मिश्र से बातचीत के आधार पर)

 

 

यह भी पढ़ें : बड़े काम का है टैक्स सेविंग म्युचुअल फंड, जानें निवेश की A B C D

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट