Home » Market » Stocksएक किताब की कीमत में खरीद सकते हैं 50 फरारी, ये हैं दुनिया की सबसे महंगी किताबें.50 red ferrari cars ca

एक किताब की कीमत में खरीद सकते हैं 50 फरारी, ये हैं दुनिया की सबसे महंगी किताबें

दुनिया में कुछ किताबें ऐसी हैं जिनकी कीमत इतनी है कि इस कीमत में 50 रेड फरारी कार खरीदी जा सकती है।

1 of

नई दिल्ली. हर साल हजारों किताबें लिखीं और पढ़ी जाती हैं। लोग बुक रिलीज से पहले ही इन्हें खरीदने के लिए बुकिंग कराते हैं। लेकिन दुनिया में कुछ किताबें ऐसी हैं जिनकी कीमत इतनी है कि इस कीमत में 50 रेड फरारी कार खरीदी जा सकती है। आगे पढ़ें- और कौन-कौन सी किताबें हैं दुनिया में सबसे महंगी...

 

 

200 करोड़ रु की है यह किताब

 

दुनिया की सबसे महंगी किताब 'दि कोडेक्स लिसेस्टर' है। बुक्सटर वेबसाइट के मुताबिक, इसकी कीमत 3 करोड़ डॉलर (200 करोड़ रुपए) है। लियोनार्डो द विंसी का यह सबसे प्रसिद्ध साइंटिफिक जर्नल है। इसमें 72 पेज हैं और लियोनार्दो द विंसी की हस्तलिखित पांडुलिपि है। इस जर्नल में उनका हर चीज पर महान चिंतन है, जो जीवाश्म से लेकर पानी के मूवमेंट तक, जिससे चंद्रमा प्रकाशित होता है। माइक्रोसॉफ्ट के फाउंडर और दुनिया के दूसरे सबसे अमीर शख्स बिल गेट्स ने इसे 200 करोड़ रुपए में खरीदकर दुनिया में सबसे महंगी किताब खरीदने का रिकॉर्ड बनाया था। उन्होंने इस किबात को स्कैन किया और इसकी डिजिटल कॉपी बनाई।

 

खरीद सकते हैं 50 फरारी

देश में रेड फरारी की कीमत तकरीबन 4 करोड़ रुपए के पास है। वहीं इस किताब की कीमत 200 करोड़ रुपए है। यानी इस किताब की कीमत में 50 रेड फरारी कारें खरीदी जा सकती हैं।

 

 
आगे पढ़ें- दूसरी सबसे महंगी किताब

 

यह भी पढ़ें- गैराज से शुरू किया था बिजनेस, अब हर साल कमा रहा है 650 करोड़

मैग्ना कार्टा

कीमत- 137.8 करोड़ रुपए

 

मैग्ना कार्टा, इंग्लैंड का एक कानूनी परिपत्र है जो सबसे पहले 1215 में जारी हुआ था। यह लैटिन भाषा में लिखा गया था। मैग्ना कार्टा में इंग्लैंड के राजा जॉन ने सामंतो को कुछ अधिकार दिए, कुछ कानूनी प्रक्रियाओं के पालन का वचब दिया और स्वीकार किया कि उनकी इच्छा कानून के सीमा में बंधी रहेगी। मैग्ना कार्टा ने राजा की प्रजा के कुछ अधिकारों की रक्षा की स्पष्ट रूप से पुष्टि की, जिनमें से बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका उल्लेखनीय है।

 

आगे पढ़ें- 

सेंट कथबर्ट गॉस्पल

कीमत- 1.43 करोड़ डॉलर (92.95 करोड़ रुपए)

 

यह स्टोनीहर्स्ट गोस्पेल या सेंट जॉन के सेंट कथबर्ट गॉस्पल के रूप में भी जाना जाता है। यह  8वीं शताब्दी में लैटिन भाषा में लिखा गया एक पॉकेट गॉस्पल है। इस किताब में सिर्फ 138 पन्ने हैं और पेज साइज 92 मिलीमीटर है। यह उस समय का सबसे सुरक्षित किताब है। साल 2012 से यह ब्रिटिश लाइब्रेरी का प्रॉपर्टी बन गया है।

 

आगे पढ़ें- चौथी महंगी किताब

Bay Psalm Book

कीमत- 1.41 करोड़ डॉलर (91.65 करोड़ रुपए)

 

यह किताब यूनाइटेड स्टेट्स के रूप में जाना जाता है। प्रिंट होने वाली यह पहली किताब है और इसे 1640 में कैम्ब्रिज में बनाया गया था। अब इसकी कुल 11 कॉपी देश के विभिन्न यूनिवर्सिटीज में बांटी गई है। हार्वर्ज और येल यूनिवर्सिटी के साथ न्यूयॉर्क पब्लिक लाइब्रेरी और द लाइब्रेरी ऑफ कांग्रेस में भी इसकी कॉपी है। अमेरिकी फाइनेंसर डेविड रूबेन्सटेन ने इस किताब की प्रिंटेड कॉपी 1.41 करोड़ रुपए में खरीदी थी।

 

आगे पढ़ें- पांचवीं महंगी किताब

रोथस्चिल प्रेयर बुक

कीमत- 1.34 करोड़ डॉलर (87.1 करोड़ रुपए)

 

यह एक महत्वपूर्ण फ्लेमिश इलूमनैटड पांडुलिपि किताब है, जो कई कलाकारों द्वारा संकलित है। वेबसाइट के मुताबिक, ऑस्ट्रेलियाई बिजनेसमैन केरी स्टोक्स ने इस किताब को न्यूयॉर्क के क्रिस्टी से खरीदा था। यह अब ऑस्ट्रेलिया की राष्ट्रीय पुस्तकालय में प्रदर्शन के लिए रखा है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट