Home » Market » StocksMalaysia's IHH Healthcare Berhad to invest Rs 4,000 crore in Fortis

IHH हेल्थकेयर को मिलेगी फोर्टिस की कमान, 4000 करोड़ रुपए का करेगी निवेश

IHH, फोर्टिस में 4,000 करोड़ रुपए का निवेश करेगी।

Malaysia's IHH Healthcare Berhad to invest Rs 4,000 crore in Fortis

नई दिल्‍ली. कैश की किल्‍लत से जूझ रही फोर्टिस हेल्थकेयर के बोर्ड ने मलेशिया की आईएचएच हेल्थकेयर बेरहाड के निवेश प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। आईएचएच, फोर्टिस में 4,000 करोड़ रुपए का निवेश करेगी। यह इन्वेस्टमेंट 170 रुपए प्रति शेयर के हिसाब से प्रिफरेंशियल अलॉटमेंट के जरिए होगा। इसके बाद आम निवेशकों से 26 फीसदी शेयर खरीदने के लिए ओपन ऑफर लाया जाएगा। 

 

 

बीते 3 जुलाई को कंपनी ने दो बिड प्रस्‍ताव आईएचएच और टीपीजी-मणिपाल कंसोर्टियम से मिले थे। मुंजाल-बर्मन भी संयुक्‍त रूप से फोर्टिज को खरीदने की होड़ में थे। जोकि पहले प्रिफरेंशियल बोलीदाता थे। जबकि रेडिएंट लाइफ केयर इससे बाहर हो गई थी। 

 

लेनी होगी CCI की मंजूरी 

फोर्टिस ने अपने स्‍वीकृत निवेश प्रस्‍ताव में कहा है कि आईएचएच 170 रुपए प्रति शेयर के हिसाब से प्रिफरेंशियल अलॉटमेंट के जरिए 4000 करोड़ रुपए निवेश करेगी।

न्यूज एजेंसी कोजेन्सिस के मुताबिक आईएचएच हैल्थ फोर्टिस हैल्थकेयर के लिए 19700 करोड़ रुपए का ओपन ऑफर भी लाएगी।

 

फोर्टिस बोर्ड से निवेश प्रस्‍ताव के लिए मंजूरी के बाद अब आईएचएच हेल्थकेयर की ओर से फोर्टिस हेल्थ और फोर्टिस मलार के लिए ओपन ऑफर लाया जाएगा। इस सौदे के लिए शेयरधारक और सीसीआई की मंजूरी लेनी होगी।

 

फोर्टिस और फोर्टिस मालार के स्टॉक में अच्छी तेजी 

इस खबर के बाद फोर्टिस के शेयर में अच्छी तेजी दर्ज की गई, जो खबर लिखे जाने तक 3 फीसदी की तेजी के साथ 146 रुपए पर ट्रेड कर रहा है।

वहीं फोर्टिस ग्रुप की एक अन्य कंपनी फोर्टिस मालार का शेयर लगभग 6 फीसदी की तेजी से साथ 55 रुपए पर ट्रेड कर रहा है।

 

फोर्टिस के 2500 करोड़ के कर्ज का बोझ अपने ऊपर लेगी आईएचएच 

प्रस्ताव के मुताबिक आईएचएच, फोर्टिस के 2,500 करोड़ रुपए के कर्ज की जिम्मेदारी लेगी। बाकी रकम के जरिए आरएचटी, एसआरएल प्राइवेट का अधिग्रहण किया जाएगा और मौजूदा जरूरतों के लिए राशि का इस्तेमाल किया जाएगा।  

 

कंपनी ने कहा है कि उसे पर वित्‍तीय सलाहकार (स्‍टैंडर्ड चार्टर्ड बैंक और आर्पवूड कैपिटल) और कानून सलाहकार फर्म (लूथरा एंड लूथरा लॉ ऑफिसेस और सायरिल अमरचंद मंगलदास) की सिफारिशों के आधार पर दोनों ही बोलीदाताओं की योग्‍यता पर विचार करने के बाद यह फैसला किया।

 

कॉरपोरेट गवर्नेंस को मजबूती देने पर रहेगा कंपनी का जोर 

फोर्टिस बोर्ड के चेयरमैन रवि राजगोपाल ने कहा कि निदेशक बोर्ड के पुनर्गठन के बाद ऑडिटेड नतीजे जारी कर कंपनी ने एक महत्वपूर्ण लक्ष्य हासिल किया है। उन्होंने कहा कि भविष्य में कंपनी का लक्ष्य कॉरपोरेट गवर्नेंस को मजबूती देने और पारदर्शिता पर रहेगा। कंपनी इस दिशा में हर मुमकिन कोशिश करेगी।

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट