विज्ञापन
Home » Market » ForexPulwama Attack : What is the value of Pakistani Rupees

भारत के सामने आधी भी नहीं है पाकिस्तानी रुपए की औकात, जानें क्या है कीमत 

विदेशी मुद्रा के संकट से जूझ रहा है पाकिस्तान

Pulwama Attack : What is the value of Pakistani Rupees

After Pulwama Attack : बेशक पाकिस्तान (Pakistan) आतंकी हमले कर भारत को कमजोर करने की कोशिश कर रहा है, लेकिन हकीकत यह है कि आर्थिक तौर पर पाकिस्तान, भारत के आगे कहीं नहीं ठहरता। पाकिस्तानी रुपए (Pakistan rupee) की कीमत भारत के आगे लगभग आधी है और डॉलर के मुकाबले तो पाकिस्तान कहीं नहीं ठहराता। 16 फरवरी को फॉरेक्स मार्केट में पाकिस्तानी रुपए की कीमत भारतीय रुपए (Indian rupee) के मुकाबले मात्र 51 पैसे रही। जबकि यूएस डॉलर (US dollar) के मुकाबले पाकिस्तानी रुपए की कीमत 139.60 रुपए रही। विदेशी मुद्रा के मामले में पाकिस्तान की हालत लगातार खराब हो रही है। 


नई दिल्ली. बेशक पाकिस्तान (Pakistan) आतंकी हमले कर भारत को कमजोर करने की कोशिश कर रहा है, लेकिन हकीकत यह है कि आर्थिक तौर पर पाकिस्तान, भारत के आगे कहीं नहीं ठहरता। पाकिस्तानी रुपए (Pakistan rupee) की कीमत भारत के आगे लगभग आधी है और डॉलर के मुकाबले तो पाकिस्तान कहीं नहीं ठहराता। 16 फरवरी को फॉरेक्स मार्केट में पाकिस्तानी रुपए की कीमत भारतीय रुपए (Indian rupee) के मुकाबले मात्र 51 पैसे रही। जबकि यूएस डॉलर (US dollar) के मुकाबले पाकिस्तानी रुपए की कीमत 139.60 रुपए रही। विदेशी मुद्रा के मामले में पाकिस्तान की हालत लगातार खराब हो रही है। 

 

विदेशी मुद्रा संकट से जूझ रहा है पाकिस्तान 
पाकिस्तान लगातार विदेशी मुद्रा संकट से जूझ रहा है। गत 2 दिसंबर 2018 को पाकिस्तान की मुद्रा सबसे निचले स्तर तक गिर गई। एक डॉलर के मुकाबले पाकिस्तानी रुपये की विनिमय दर 144 रुपये प्रति डालर थी। पाकिस्तानी रुपये में यह गिरावट पाकिस्तान की इमरान खान के नेतृत्व वाली नई सरकार के सत्ता में 100 दिन पूरे होने के एक दिन बाद आई है। जबकि इमरान खान की सरकार इन सौ दिनों में देश में निवेश बढ़ाने और उसे विकास के रास्ते पर लाने की उपलब्धि गिना रही थी। 

 

चीन से मांग चुका है मदद
विदेशी मुद्रा संकट से जूझ रहे पाकिस्तान ने हाल ही में मुद्रा कोष से राहत पैकेज की मांग की । इस पर मुद्रा कोष ने पाकिस्तान से चीन से मिलने वाली वित्तीय सहायता की पूरी जानकारी मांगी है। इसके साथ ही अर्थव्यवस्था की मजबूती के वास्ते ईंधन के दाम बढ़ाने और कर दरों में वृद्धि करने को कहा है। पाकिस्तान की एक्सचेंज कंपनियों के संघ के महासिचव जफर प्राचा ने कहा कि आईएमएफ के साथ कोई भी समझौता होने से पहले गिरावट जारी रहने की उम्मीद है।

 

 नए कानून पर विचार 

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने अपने देश में धन शोधन (मनी लॉन्ड्रिंग समेत अन्य भ्रष्टाचार गतिविधियों) से प्रभावी रूप से निपटने के लिए एक नया कानून बनाए जाने की वकालत कर रहे हैं। उनका कहना है कि ऐसी गतिविधियों से आर्थिक तंगी से जूझ रही पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था पर और भी बुरा असर पड़ रहा है। पाकिस्तान के अखबार एक्सप्रेस ट्रिब्यून की एक खबर में कहा गया है कि ऐसे कानून का मसौदा एक सप्ताह में तय कर लिया जाएगा। इसमें हवाला, हुंडी और अन्य गैर-कानूनी लेन देन एवं भ्रष्ट गतिविधियों से निपटने के मौजूदा प्रावधानों को मजबूत बनाया जाएगा। 
 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन