Home » Market » ForexRupee open in negative mode at 68.90 per dollar

Forex Market: रुपए की सबसे कमजोर ओपनिंग, 10 पैसे कमजोर होकर 68.90 प्रति डॉलर पर खुला

मंगलवार को रुपया 10 पैसे कमजोर होकर 68.90 प्रति डॉलर पर खुला, जो रुपए की सबसे कमजोर ओपनिंग है।

Rupee open in negative mode at 68.90 per dollar

नई दिल्ली.  कमजोर ग्लोबल संकेतों और मैक्रो-इकोनॉमिक चिंताओं की वजह से रुपए में गिरावट बढ़ गई है। मंगलवार को रुपया 10 पैसे कमजोर होकर 68.90 प्रति डॉलर पर खुला, जो रुपए की सबसे कमजोर ओपनिंग है। एक्सपर्ट्स का मानना है कि रुपया आज फिर 69 प्रति डॉलर का स्तर पार कर अपना रिकॉर्ड लो बना सकता है। इसके पहले सोमवार को डॉलर के मुकाबले रुपया 34 पैसे की गिरावट के साथ 5 साल के लो लेवल 68.80 के स्तर पर क्लोज हुआ। इसके पहले, 28 अगस्त 2013 को रुपया इस लेवल पर दिखा था।   

 

 

आरबीआई के दखल की गुंजाइश कम होने के साथ इम्पोर्टर्स द्वारा डॉलर की डिमांड और सट्टा ट्रेडर्स की घबराहट से रुपए में गिरावट बढ़ रही है। सोमवार को कारोबार के दौरान रुपए में रिकवरी आई थी और मजबूत होकर 68.33 के हाई पर पहुंच गया था। हालांकि यह मजबूती थोड़ी देर ही कायम रही। दोपहर को रुपया 68.81 के निचले स्तर पर आ गया।   

 

इस साल 7% से ज्यादा कमजोर हो चुका है रुपया 

रुपए ने बीते साल डॉलर की तुलना में 5.96 फीसदी की मजबूती दर्ज की थी, जो अब 2018 की शुरुआत से लगातार कमजोर हो रहा है। इस साल अभी तक रुपया लगभग 7 फीसदी से ज्यादा टूट चुका है। पिछले हफ्ते रुपए ने 69 प्रति डॉलर का स्तर तोड़कर ऑलटाइम लासे बनाया था। इससे पहले रुपए ने 28 अगस्त, 2013 को 68.80 का लाइफटाइम लो टच किया था। वहीं, 24 नवंबर 2016 को रुपया का ऑलटाइम क्लोजिंग लो 68.73 था।   

 

सीएडी बढ़ने की आशंका से रुपए पर प्रेशर 

क्रूड की ऊंची कीमतों से भारत के करंट अकाउंट डेफिसिट और महंगाई बढ़ने की आशंका से इन्वेस्टर्स में घबराहट फैल गई। कुछ दिनों की सुस्ती के बाद क्रूड की कीमतें चढ़ने के भी संकेत मिले। अमेरिका द्वारा अपने सहयोगी देशों से नवंबर की डेडलाइन तक ईरान से क्रूड का इंपोर्ट रोकने की बात कहने से अब क्रूड की कीमतों में तेजी देखने को मिल सकती है। वहीं, आरबीआई द्वारा अपने द्वैमासिक फाइनेंशियल स्टैबिलिटी रिपोर्ट में बैंकिंग सेक्टर की धुंधली तस्वीर पेश किए जाने से करंसी मार्केट में घबराहट फैल गई। 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट