Home » Market » ForexForex Market: Rupee breaches 72 a dollar mark for first time, Forex Market market live update

Forex Market: रुपए में रिकॉर्ड गिरावट, पहली बार 72/प्रति डॉलर का स्तर तोड़ा

Forex Market: रुपए में गिरावट थमने का नाम नहीं ले रही है। डॉलर के मुकाबले रुपया पहली बार 72 के स्तर को पार गया है।

Forex Market: Rupee breaches 72 a dollar mark for first time, Forex Market market live update

नई दिल्ली.  Forex Market:  रुपए में गिरावट थमने का नाम नहीं ले रही है। डॉलर के मुकाबले रुपया पहली बार 72 के स्तर को पार गया है। रुपए ने 72.09 का निचला स्तर छुआ है। रुपए में गिरावट से बाजार पर दबाव बढ़ गया है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के चीन पर अतिरिक्त टैरिफ लगाए जाने की चिंता से रुपए पर दबाव बना। मई 2016 के बाद रुपए में यह लगातार सातवें दिन गिरावट है। हालांकि रुपए की शुरुआत बढ़त के साथ हुई थी। रुपया 13 पैसे बढ़कर 71.62 के स्तर पर खुला।

 

18 पैसे गिरकर 71.75 के स्तर पर बंद हुआ रुपया

बुधवार को रुपया 18 पैसे टूटकर 71.75 के स्तर पर बंद हुआ। ऑयल इम्पोर्टर्स और बैंकों द्वारा डॉलर की अचानक खरीददारी बढ़ने से रुपया 40 पैसे टूट गया और यह 71.96 के रिकॉर्ड निचले स्तर तक लुढ़क गया था। हालांकि, रुपया कारोबार के आखिरी घंटों में इस गिरावट से उबरने में कामयाब रहा और करीब 20 पैसे की रिकवरी आई। डॉलर के मुकाबले रुपया 18 पैसे बढ़कर 71.40 के स्तर पर खुला था। वहीं, डॉलर के मुकाबले रुपया कल 37 पैसे की कमजोरी के साथ 71.58 के स्तर पर बंद हुआ था।

 

रुपए में गिरावट से घबराने की जरूरत नहीं- जेटली

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बुधवार को कहा कि रुपए की गिरती कीमत से भारत जैसी इकोनॉमी को इतनी जल्दी घबराने की जरूरत नहीं है। जेटली ने कहा कि गिरते रुपए के पीछे कोई घरेलू नहीं बल्कि विदेशी कारण हैं। 


रुपए की ट्रेडिंग रेंज

केडिया कमोडिटी के डायरेक्टर अजय केडिया के अनुसार डॉलर के मुकाबले रुपया आज 71.27 से 72.48 की रेंज में ट्रेड कर सकता है।

 

6 ट्रेडिंग सेशन में रुपया 165 पैसे टूटा

क्रूड ऑयल में तेजी से डॉलर में मजबूती और रुपए में दबाव देखने को मिला है। वहीं बीते दिनों में अमेरिका और चीन के बीच ट्रेड वॉर, तुर्की और अर्जेंटीना में करंसी संकट ने रुपए की कमर तोड़ दी है। पिछले 6 ट्रेडिंग सेशन में रुपया 165 पैसे टूटा है। पिछले एक महीने में रुपया 5 फीसदी टूटा है। वहीं छह महीने में रुपया 9.5 फीसदी तक फिसल गया है। इस साल अब तक रुपए में करीब 12 फीसदी तक की कमजोरी देखने को मिली है। 

 

73 डॉलर का दिख सकता है स्तर

एंजेल ब्रोकिंग कमोडिटी के डिप्टी वाइस प्रेसिडेंट रिसर्च,  अनुज गुप्ता का कहना है कि तुर्की और अर्जेंटीना जैसी इमर्जिंग मार्केट की करंसी में कमजोरी, क्रूड की कीमतें हाई बनी रहने और डॉलर की डिमांड बढने से रुपए पर दबाव है। वहीं, यूएस फेड द्वारा ब्याज दरें बढ़ाए जाने से यह 73 डॉलर के लेवल पर जा सकता है।

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट