विज्ञापन
Home » Market » Commodity » Gold SilverIndian homes have 25k tonnes of gold reserves, worth over Rs 80 lakh crore

गोल्ड रिजर्व / भारतीय घरों में है 25 हजार टन सोना, इसकी कीमत 81.8 लाख करोड़ रुपए

यह रकम देश की जीडीपी के 40 फीसदी से भी ज्यादा है।

Indian homes have 25k tonnes of gold reserves, worth over Rs 80 lakh crore
  • पिछले कई वर्षों में सोने की घटती मांग के बाद भी बीते दशकों में देश में सोने का भंडारण बढ़ा है।

नई दिल्ली.

गोल्ड के प्रति भारतीयों का लगाव किसी से छुपा नहीं है। अगर निवेश की बात आती है तो भारतीय सबसे ज्यादा सोने की खरीदारी करते हैं। यही वजह है कि दुनिया में सबसे ज्यादा गोल्ड भारतीयों के पास है। World Gold Council (WGC) के मुताबिक भारतीय घरों में 24 से 25 हजार टन सोने का भंडार है। सोमवार को दिल्ली सर्राफा बाजार में सोने की कीमत के हिसाब से इतने सोने की कीमत 81.8 लाख करोड़ रुपए होगी। यह रकम देश की जीडीपी में से 40 फीसदी से भी ज्यादा है।

 

ज्यादा भी हो सकती है इस गोल्ड रिजर्व की कीमत

फाइनेंशियल एक्सप्रेस के मुताबिक रिजर्व बैंक केे पास मौजूद सोने के भंडार (608.8 टन) और 10 फीसदी इंपोर्ट ड्यूटी को ध्यान में रखा जाए तो, भारत में मौजूद गोल्ड स्टॉक की कीमत और भी ज्यादा निकलेगी। पिछले कई वर्षों में सोने की घटती मांग के बाद भी बीते दशकों में देश में सोने का भंडारण बढ़ा है। वर्ल्ड गोल्ड काउंसिल की मैनेजिंग डायरेक्टर (भारत) सोमासुंदरम पीआर के मुताबिक दो वर्ष पहले एक सर्वे में पता चला था कि भारतीय घरों में 23-24 हजार टन सोना मौजूद है। अब तक यह रिजर्व 24-25 हजार टन तक पहुंच गया होगा।

 

गोल्ड स्कीम्स नहीं लुभा पाईं लोगों को

2015 के आखिर में लॉन्च की गईं मोनेटाइजेशन, बॉन्ड और सॉवरीन कॉइन जैसी गोल्ड स्कीम्स उम्मीद के मुातबिक प्रदर्शन नहीं कर पाईं। इन स्कीम्स के जरिए सिर्फ खरीदा गया सोना देश में सालाना सोने की खपत का सिर्फ 2 फीसदी है। जनवरी से मार्च के बीच भारत में सोने की डिमांड 5.2 फीसदी बढ़ी। वर्ल्ड गोल्ड काउंसिल के मुताबिक 2018 में गोल्ड की डिमांउ 760 टन रही थी, जिसकी तुलना में इस साल गोल्ड डिमांड 750-850 टन रह सकती है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन
Don't Miss