Home » Market » Commodity » Gold SilverRBI drops Axis Bank from list of bullion importers

सोना-चांदी का आयात नहीं कर पाएगा एक्सिस बैंक, RBI ने दिया झटका

अब एक्सिस बैंक देश में सोने-चांदी का इंपोर्ट नहीं कर पाएगा।

1 of


मुंबई. अब एक्सिस बैंक देश में सोने-चांदी का इंपोर्ट नहीं कर पाएगा। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) ने 1 अप्रैल, 2018 से शुरू हुए वित्त वर्ष के लिए बुलियन इंपोर्टर्स की लिस्ट से एक्सिस बैंक के नाम को हटा दिया है। यह इसलिए भी अहम है कि एक्सिस बैंक देश का प्राइवेट सेक्टर का तीसरा बड़ा लेंडर है। हालांकि सोमवार की जारी लिस्ट में एक्सिस बैंक को जगह नहीं मिलने कोई वजह पता नहीं चली है। रॉयटर्स के मुताबिक आरबीआई के स्पोक्समैन ने इस मसले पर फिलहाल कोई टिप्पणी करने से इनकार कर दिया।  

 

एक्सिस बैंक को झटका, दूसरे बैंकों को फायदा
बुलियन इंपोर्टर्स की लिस्ट से हटाए जाने को एक्सिस बैंक के लिए बड़े झटके के तौर पर देखा जा रहा है, क्योंकि बैंक को हाल के कुछ महीनों में बैड लोन्स के मसले पर ज्यादा रेग्युलेटरी स्क्रूटनी का सामना करना पड़ रहा है।
अन्य बैंकों के तीन बुलियन डीलर्स ने कहा कि इस फैसले से यस बैंक, एचडीएफसी बैंक, बैंक ऑफ नोवा स्कोटिया और कोटक महिंद्रा बैंक सहित अन्य लीडिंग बुलियन इंपोर्टर बैंकों को अपना मार्केट शेयर बढ़ाने में खासी मदद मिलेगी।

 

 

लिस्ट में 16 बैंकों के नाम, 2 अन्य के भी नाम कटे
लिस्ट के मुताबिक आरबीआई ने वित्त वर्ष 2018-19 में बुलियन इंपोर्ट के लिए 16 बैंकों को अनुमति दी है। एक्सिस बैंक के अलावा करुर वैश्य बैंक और साउथ इंडियन बैंक को भी इस लिस्ट में जगह नहीं मिली, जो पिछले वित्त वर्ष की लिस्ट में शामिल थे।
एक वरिष्ठ बैंकर ने कहा कि करुर वैश्य ने बीते तीन साल से सोने का इंपोर्ट नहीं किया है। साउथ इंडियन बैंक के एक स्पोक्समैन ने कहा कि बैंक ने 2014 से ही गोल्ड का इंपोर्ट नहीं किया है।

 

 

एक्सिस के खिलाफ चल रही है ज्यादा बैड लोन्स की जांच
इसे एक्सिस बैंक के लिए इसलिए भी बड़ा झटका माना जा रहा है, क्योंकि ज्यादा बैड लोन के चलते जांच का सामना करना पड़ रहा है। इस मसले पर आरबीआई ने उस पर फाइन भी लगाया था।
इसके अलावा एक्सिस बैंक उन कंपनियों की लिस्ट में भी शामिल है, जिनके खिलाफ मार्केट रेग्युलेटर सेबी अहम फाइनेंशियल इन्फोर्मेशन लीक मामले की जांच कर रहा है।

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट