Home » Market » Commodity » Gold Silverknow about the man who is richest than mukesh ambani before 6 years

टोने-टोटके के चलते डुबोया करोड़ों का सोना, कभी अंबानी से अमीर था यह शख्स

छह साल पहले तक यह शख्स भारत के सबसे अमीर मुकेश अंबानी से भी ज्यादा दौलतमंद था।

1 of

 

नई दिल्ली. छह साल पहले तक यह शख्स भारत के सबसे अमीर मुकेश अंबानी से भी ज्यादा दौलतमंद था और 35 अरब डॉलर (2.3 लाख करोड़ रुपए) की वेल्थ के साथ दुनिया के अमीरों की लिस्ट में 7वें नंबर था। उसके लिए अचानक हालात ऐसे बिगड़े कि वह टोने-टोटके के चक्कर में पड़ गया और उसने अपने डूबते बिजनेस एम्पायर को बचाने के लिए करोड़ों रुपए के सोने के सिक्के समुद्र में बहा दिए।

 

यह भी पढ़ें-अंबानी से 19 गुनी दौलत संभालता है यह शख्स, प्लेन में कटते हैं साल के 250 दिन

 

जेल भी जाना पड़ा

हम आइके बैटिस्टा की बात कर रहे हैं, जो एक समय ब्राजील के सबसे अमीर शख्स रहे थे। उन पर मनीलॉन्डरिंग और करप्शन के आरोप भी लगे। इसी साल जनवरी में उन्हें जेल जाना पड़ा और 30 अप्रैल को ही उन्हें जेल से रिहा कर दिया गया।

 

मुकेश अंबानी से भी था अमीर

हम एक समय ब्राजील के सबसे अमीर शख्स रहे आइके बैटिस्टा की बात कर रहे हैं। फोर्ब्स के मुताबिक बैटिस्टा 2011 में लगभग 35 अरब डॉलर (2.30 लाख करोड़ रुपए) की वेल्थ के साथ दुनिया के 7वें अमीर थे, जबकि उस समय मुकेश अंबानी की वेल्थ लगभग 22 अरब डॉलर थी। हालांकि बैटिस्टा के लिए हालात ऐसे बिगड़े की उनका बिजनेस एम्पायर डूबता चला गया।

 

आगे भी पढ़ें

 

 

 

डूबने लगा बैटिस्टा का बिजनेस एम्पायर

महज एक साल में ही उनका बिजनेस एम्पायर डूबने के कगार पर पहुंच गया था। इसकी वजह दुनिया भर में क्रूड की कीमतें टूटना थीं। अनुमान के मुताबिक 2013 में महज एक साल के भीतर क्रूड की कीमतें आधीं रह गई थीं। इसका बैटिस्टा पर खासा असर पड़ा।बैटिस्टा का बिजनेस मुख्य रूप से गैस और ऑयल एक्सप्लोरेशन, गोल्य व आयरन ओर की माइनिंग से जुड़ा था।

हालत यह हो गई थी कि 2013 में उनकी लगभग पूरी वेल्थ खत्म हो गई थी और उन्होंने बड़े कॉरपोरेट कर्ज का डिफॉल्ट किया। इसे उस दौर में लैटिन अमेरिका का सबसे बड़ा डिफॉल्ट बताया जाता है। कुछ मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक उस साल उनकी वेल्थ 1 अरब डॉलर से भी कम रह गई थी।

 

आगे भी पढ़ें

 

 

 

 

समुद्र की रानी को खुश करने के लिए डुबोया करोड़ों का सोना

हालांकि बैटिस्टा को अपनी वेल्थ वापस मिलने का पूरा भरोसा था। हालांकि इस भरोसे के पीछे उनकी कोई स्ट्रैटजी नहीं बल्कि अंधविश्वास था। उन्हें टोने-टोटकों पर भी भरोसा था।

कुछ मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इस बीच उनकी मुलाकात एक सूफी और पादरी से हुई। उनकी सलाह पर बैटिस्टा ने समुद्र में 1.30 लाख पाउंड (1.06 करोड़ रुपए) को सोने के सिक्के बहा दिए थे। बैटिस्टा का अधिकांश बिजनेस समुद्र से जुड़ा था, जहां वह ऑयल और गैस का एक्सप्लोरेशन करते थे।

 

आगे भी पढ़ें

 

 

 

फूलों से सजाकर भेजा था जहाज

बैटिस्टा ने समुद्र की रानी को खुश करने के लिए खास तरीका अपनाया था। उन्होंने इसके लिए अपने यॉट पर एक सेरेमनी का आयोजन किया। इसके बाद फूलों से सजी हुई एक छोटी बोट में सोने के सिक्के भरे। इसके साथ ही बोट में परफ्यूम, शैंपेन आदि काफी सामान रखे गए। प्रेयर के बाद इस बोट को समुद्र के बीचोंबीच डुबो दिया गया।

 

 

आगे भी पढ़ें

 

 

 

मनीलॉन्डरिंग और करप्शन के भी लगे आरोप

बैटिस्टा पर मनीलॉन्डरिंग, घूस देने और करप्शन के आरोप भी लगे। इसी साल जनवरी में उनकी गिरफ्तारी भी हुई। हालांकि 30 अप्रैल को उन्हें जेल से रिहा कर दिया गया।

जज ने फैसला सुनाते हुए कहा कि बैटिस्टा पर किसी तरह की हिंसा और धमकी देने का कोई आरोप नहीं है। ऐसे में उन्हें हाउस अरेस्ट रखकर मुकदमा चलाया जा सकता है।

 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट