विज्ञापन
Home » Market » Commodity » EnergyUsing these methods in the use of AC in scorching summer, save electricity bill

बचत / चिलचिलाती गर्मियों में एसी का इस्‍तेमाल भी करें और बिजली का बिल भी बचाएं

एसी की सर्विसिंग, कूलिंग टाइम, वेंटिलेशन समेत कई तरीकों से कम कर सकते हैं बिजली खपत

Using these methods in the use of AC in scorching summer, save electricity bill
  • अगर थोड़ी टेक्निक का इस्‍तेमाल किया जाए तो आप ज्‍यादा देर तक ठंडी हवा खा सकते हैं वो भी पैसे की बचत करने के साथ। सबसे जरूरी चीज है सर्विसिंग।

नई दिल्‍ली. चिलचिलाती गर्मियों से बचने के लिए एसी का उपयोग करना मजबूरी हो जाता है लेकिन बिजली बिल का टेंशन भी होता है। लेकिन हम थोड़ी सी सावधानी और इन तरीकों को अपनाएंगे तो बिजली की बचत कर पाएंगे। ऊर्जा की बचत अंतत: देश की इकोनॉमी में काम आएगी। 

 

1. सबसे जरूरी है सर्विसिंग 


अगर थोड़ी टेक्निक का इस्‍तेमाल किया जाए तो आप ज्‍यादा देर तक ठंडी हवा खा सकते हैं वो भी पैसे की बचत करने के साथ। सबसे जरूरी चीज है सर्विसिंग। अगर आप टाइम से एसी की सर्विसिंग कराते हैं तो इससे बिजली खपत कम होती है। इसके अलावा समय-समय पर एसी यूनिट और वेंट्स की आप खुद भी सफाई करते रहें, इनमें ज्‍यादा धूल न जमने दें। टाइमर और प्रोग्रामेबल थर्मोस्‍टेट का उपयोग कर आप एसी के इस्‍तेमाल को कम कर सकते हैं। एसी चलाते वक्‍त टाइमर ऑन रखें। साथ ही प्रोग्रामेबल थर्मोस्‍टेट से आप घर पर न रहते हुए भी एसी पर कंट्रोल रख सकते हैं। 

यह भी पढ़ें : रिलायंस Jio का रिचार्ज हो सकता है महंगा, गीगा फाइबर के लिए पैसों की है जरूरत

2. ऑटो ऑफ का ऑप्शन ऑन करें


अधिकांश कंपनियों की ऐसी में ऑटो ऑफ का ऑप्शन होता है। जैसे रात के वक्त कमरा ठंडा हो जाए तो ऑटोमैटिक एसी बंद हो जाता है। और जैसे ही कमरे का तापमान तय मानक से ऊपर जाने लगता है तो अपने आप एसी चालू हो जाता है। इसी तरह, जैसे सुबह 4 से 6 के बीच वातावरण में ठंडक घुल जाती है तो टाइमर सेट कर उस समय एसी बंद किया जा सकता है। 

यह भी पढ़ें : चीनी दूध को मोदी सरकार की ना, बढ़ाया प्रतिबंध

3. खराब क्वालिटी की वायरिंग से ज्यादा खपत होती है बिजली की 


घर की इंटरनल वायरिंग में हमेशा अच्‍छी क्‍वालिटी के वायर और स्विच का इस्‍तेमाल करें। खराब क्‍वालिटी की वायरिंग से बिजली की खपत अधिक होती है। हमेशा अधिक स्‍टार वाला एसी या इलेक्‍ट्रॉनिक उपकरण खरीदें, क्‍योंकि ये बिजली की खपत कम करते हैं।

यह भी पढ़ें : धोनी की ब्रांड वैल्यू से इस कंपनी ने चार साल में 300 गुना ज्यादा कमाई की, निवेशकों की हुई चांदी

4. प्राकृतिक वेंटिलेशन को अपनाएं


शहरों में वेंटिलेशन की एक बड़ी समस्‍या है। लेकिन अगर संभव हो तो मौसम के हिसाब से प्राकृतिक वेंटिलेशन पर भी ध्‍यान दें। अगर बाहर मौसम अच्‍छा है तो एसी को बंद कर खिड़कियों और दरवाजों से आने वाली हवा से घर को ठंडा रखने की कोशिश करें।

यह भी पढ़ें : फिल्म 'स्पेशल 26' की तर्ज पर आयकर विभाग के छापे डाले, ठगे 70 लाख रुपए

 

5. पर्दे कर सकते हैं मदद


पर्दों को केवल सजावट का सामान न समझें। इनसें गर्मी और बिजली का बिल दोनों कम करने में मदद मिल सकती है। अच्‍छे पर्दे तेज धूप में आपके घर को गर्म होने से बचाएंगे। इसके लिए जूट के पर्दे या चिक एक अच्‍छा विकल्‍प हैं, इनमें खुद भी कूलिंग क्षमता होती है।

यह भी पढ़ें :  दिग्विजय परिवार के पास साध्वी से 855 गुना ज्यादा है दौलत

6. सोलर एनर्जी है बढ़िया विकल्‍प


सोलर एनर्जी सस्‍ती बिजली का बहुत ही बढि़या विकल्‍प है। इसके लिए सरकार सब्सिडी भी दे रही है। घर पर सोलर पैनल लगवाने से सीधे आप ऊर्जा के सबसे बड़े स्रोत से जुड़ जाते हैं, जो आपकी बिजली के बिल की चिंता को लगभग खत्‍म कर देता है।  

यह भी पढ़ें: अनछुए पहलु / कभी खंभों पर केबल के तार खींचते थे, अब बनाया राजधानी का विजन डॉक्यूमेंट

7. बिल का करें ऑनलाइन भुगतान


डिजिटल भारत में आप अपने बिजली का बिल चुकाने के लिए ऑनलाइन पेमेंट का सहारा लीजिए। कई ऑनलाइन पेमेंट एप्‍स, कैशबैक ऑफर दे रही हैं। ऑनलाइन बिल के माध्‍यम से आप कैशबैक प्राप्‍त कर कुछ बचत कर सकते हैं।

 

यह भी पढ़ें: दिग्विजय ने जिन राजा भोज का जिक्र किया, उन्होंने एक हजार साल पहले बसाया था देश का सबसे प्लांड शहर

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन