Home » Market » Commodity » EnergyPetrol And Diesel Price Decreased On Tuesday

Petrol Price: लगातार 13वें दिन घटे तेल के दाम, दिल्ली व मुंबई में 3 रुपए से ज्यादा सस्ता हुआ पेट्रोल

Petrol Price: पेट्रोल 20 पैसे तो डीजल 8 पैसे प्रति लीटर हुआ सस्ता

Petrol And Diesel Price Decreased On Tuesday

नई दिल्ली। देशभर में पेट्रोल और डीजल के दामों में लगातार गिरावट से आम आदमी को राहत मिल रही है। लगातार 13वें दिन तेल की कीमतों में कटौती हुई है। मंगलवार को पेट्रोल 20 पैसे सस्ता हुआ वहीं डीजल के दामों में 7 पैसे गिरावट दर्ज की गई। इसके साथ ही राजधानी में पेट्रोल 79.55 रुपए प्रति लीटर और डीजल 73.78 रुपए प्रति लीटर मिल रहा है। वहीं आर्थिक शहर मुंबई में 20 पैसे प्रति लीटर की कमी के साथ  पेट्रोल 85.04 रुपए प्रति लीटर हो गया है। डीजल के दाम 8 पैसे प्रति लीटर कर गिरावट के साथ 77.32 रुपये प्रति लीटर हो गया। इससे पहले सोमवार को पेट्रोल की कीमतों में 30 पैसे की कमी और डीजल के दामों में 20 पैसे की गिरावट दर्ज की गई थी। हम बता दें कि तेल के दाम में लगातार कटौती होने से सोमवार को तीन सप्ताह बाद पहली बार पेट्रोल का भाव 80 रुपये प्रति लीटर से नीचे आया है।

 

देश के 4 महानगरों में पेट्रोल की कीमतें (30 अक्टूबर का रेट)

शहर

कीमत

दिल्ली

79.55 रुपए

कोलकाता

81.43 रुपए

मुंबई

85.04 रुपए

चेन्नई

82.65  रुपए

 देश के 4 महानगरों में डीजल की कीमतें

शहर

नई कीमत (30 अक्टूबर का रेट)

दिल्ली

73.78 रुपए

कोलकाता

75. 63 रुपए

मुंबई

77.32 रुपए

चेन्नई

78.00 रुपए

 

जानें कहां कितना सस्ता हुआ पेट्रोल

पिछले 13 दिनों से तेल की कीमतों में लगताार गिरावट से देशभर में पेट्रोल और डीजल सस्ता हुआ है। राजधानी दिल्ली में पेट्रोल 3 रुपए 17 पैसे सस्ता तो डीजल 1.81 पैसे सस्ता हुआ है। मुंबई में पिछले पेट्रोल 13 दिनों में 3 रुपए 25 पैसे  और डीजल 2.03 पैसे सस्ता हुआ है। वहीं कोलकाता में पेट्रोल  3 रुपए 22 पैसे और डीजल 1.91 पैसे सस्ता हुआ है। चेन्नई की बात करें तो यहां पेट्रोल 3 रुपए 43 पैसे सस्ता हुआ है और 2.04 रुपए सस्ता हुआ है।

कच्चे तेल के दाम में तीन सप्ताह से अधिक समय से नरमी का रुख बना हुआ है। कच्चे तेल में नरमी के कारण ही पेट्रोल और डीजल के दाम में कमी आई क्योंकि भारत अपनी तेल की जरूरतों का करीब 80 फीसदी आयात करता है। 

तेल का आयात सस्ता होने से देश में जहां पेट्रोल और डीजल समेत अन्य पेट्रोलियम उत्पादों की कीमतें घटती हैं, वहीं तेल आयात के लिए डॉलर की जरूरत कम होने से देसी मुद्रा रुपये की गिरावट को थामने में मदद मिलती है।

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट