Home » Market » Commodity » EnergyLPG price hiked by Rs 1.76 per cylinder

LPG की कीमतें बढ़ीं, नॉन सब्सिडाइज सिलेंडर 35.50 रु और सब्सिडाइज 1.76 रु हुआ महंगा

सब्सिडी युक्त रसोई गैस (LPG) बुधवार से 1.76 रुपए प्रति सिलिंडर महंगा हो गया है।

LPG price hiked by Rs 1.76 per cylinder

 

नई दिल्ली. सब्सिडी युक्त रसोई गैस (LPG) बुधवार से 1.76 रुपए प्रति सिलिंडर महंगा हो गया है। कीमतों में यह बढ़ोत्तरी नए बेस प्राइस के चलते टैक्स में हुए बदलाव के कारण की गई है। वहीं ग्लोबल रेट्स में बढ़ोत्तरी के चलते दिल्ली में बिना सब्सिडी वाले एलपीजी सिलिंडर की कीमतों में 35.50 रुपए की बढ़ोत्तरी की गई है।

 

 

दिल्ली में सिलिंडर की नई कीमतें

देश की सबसे बड़ी फ्यूल रिटेलर इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (IOC) ने एक बयान में कहा कि इस बदलाव के बाद दिल्ली में सब्सिडी युक्त एलपीजी सिलिंडर की कीमत 498.02 रुपए हो जाएगी, जबकि अभी तक इसकी कीमत 496.26 रुपए थी। वहीं बिना सब्सिडी वाले एलपीजी सिलिंडर की कीमतें दिल्ली में 35.50 रुपए बढ़कर 789.50 रुपए प्रति सिलेेंडर हो जाएंगी। यह बढ़ोत्तरी जुलाई में सिलिंडर की कीमत में 55.50 रुपए की बढ़ोत्तरी के मद्देनजर की गई है।

 

सीधे खाते में आती है सब्सिडी

सभी एलपीजी कंज्यूमर्स को एलपीजी की खरीद मार्केट प्राइस पर करनी होती है। हालांकि सरकार एक साल में हर परिवार को 14.2 किलोग्राम के 12 सब्सिडाइज्ड सिलिंडर देती है, लेकिन सब्सिडी का भुगतान सीधे यूजर्स के बैंक अकाउंट्स में किया जाता है।

सब्सिडी के एवज में दिया जाने वाला भुगतान एलपीजी के एवरेज इंटरनेशनल बेंचमार्क और फॉरेन एक्सचेंज रेट में होने वाले बदलाव पर निर्भर करता है। जब भी अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कीमतें बढ़ती हैं, तो सरकार को ज्यादा सब्सिडी उपलब्ध करानी पड़ती है। हालांकि टैक्स नियमों के तहत एलपीजी पर जीएसटी की गणना फ्यूल के मार्केट रेट पर की जाती है। सरकार कीमतों के एक हिस्से पर सब्सिडी देने का विकल्प चुन सकती है, लेकिन टैक्स का भुगतान मार्केट रेट पर ही करना होगा। कीमतों में बढ़ोत्तरी की यही वजह है।

 

 

जीएसटी के चलते बढ़ीं कीमतें

आईओसी ने कहा, ‘कीमतों में बढ़ोत्तरी की मुख्य वजह घरेलू नॉन सब्सिडाइज्ड एलपीजी की संशोधित कीमत पर लगने वाले जीएसटी के चलते की गई है।’ इससे पहले 1 जुलाई को कीमतों में बढ़ोत्तरी की गई थी, जो प्रति सिलेंडर 2.71 रुपए रही थी।

तेल कंपनियां पिछले महीने के एवरेज बेंचमार्क रेट और फॉरेन एक्सचेंज रेट के आधार पर हर महीने की पहली तारीख को एलपीजी की कीमतों में बदलाव करती है।

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट