Home »Market »Commodity »Agri» Skymet Says Monsoon Rains Likely To Be Below Normal This Year

स्काइमेट का अनुमान; लगातार चौथे साल कमजोर रह सकता है मानसून, सामान्य की संभावनाएं 50%

नई दिल्‍ली.मौसम का अनुमान बताने वाली प्राइवेट एजेंसी स्‍काइमेट ने इस साल भी देश में मानसून सामान्‍य से कम (95 फीसदी) रहने की संभावना जताई है। एजेंसी के मुताबिक मानसून सामान्‍य रहे इस‍की सिर्फ 50 फीसदी ही संभावनाएं हैं। यदि ऐसा हुआ तो यह लगातार चौथा साल होगा जब देश में सामान्‍य से कम मानसून रहेगा। एजेंसी ने लॉन्‍ग पीरिएड एवरेज यानी एलपीए के आधार पर किए गए आंकलन में 5 फीसदी कम या ज्‍यादा होने की संभावना भी जताई है। हालांकि, अभी सरकारी एजेंसी भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) की ओर से आगामी मानसून को लेकर कोई अनुमान जारी नहीं किया गया है।
 
जल्‍द हो सकती है प्री मानसून बारिश
स्‍काइमेट की रिपोर्ट के मुताबिक, प्री-मानसून बारिश उत्‍तर-पूर्वी भारत में जल्द ही शुरू हो सकती है। प्री-मानसून बारिश अरुणाचल प्रदेश, असम और सिक्किम में हो सकती है। मेघालय के कुछ हिस्सों में भी इसका असर देखा जा सकता है। एजेंसी ने जून से सितंबर के बीच 887 मिलिमीटर बारिश का अनुमान है। लेकिन इसमें कमी भी हो सकती है।
 
यह है अनुमान
बारिश का स्‍तर (मानसून प्रतिशत)
संभावना (प्रतिशत में)
अधिक (110)
00
सामान्‍य (105 से 110)
10
सामान्‍य (96 से 104)
50
सामान्‍य से कम (90 से 95)
25
सूखा (90 फीसदी से कम)
15
 
स्‍काइमेट ने बताया अलनीनो का असर
स्‍काइमेट एजेंसी के आकलन के अनुसार इस साल मानसून सीजन में अलनीनो का असर भी देखा जा सकता है। हालांकि, एक रिपोर्ट के मुताबिक सिर्फ अलनीनो प्रभाव बारिश और फसलों पर असर नहीं डालेगा। ऑस्‍ट्रेलिया ब्‍यूरो ऑफ मेटिरियोलॉजी के मुताबिक 2017 में अल नीनो प्रभाव बढ़ने की संभावना है।
 
अगली स्‍लाइड में जानिए- पिछले तीन साल में हुई बारिश
 
 

Recommendation

    Don't Miss

    NEXT STORY