Home » Market » Commodity » AgriSebi proposes to allow MFs portfolio managers in commodities सेबी ने मांगी कमोडिटी मार्केट में म्‍युचुअल फंड के निवेश पर रा

म्‍युचुअल फंड को मिल सकती है कमोडिटी डेरिवेटिव्‍स में निवेश की छूट, सेबी ने मांगे कमेंट

सेबी ने प्रस्‍ताव किया है म्‍युचुअल फंड और पोर्टफोलियो मैनेजर्स को कमोडिटी डेरिवेटिव्‍स में निवेश की छूट दी जा सकती है।

1 of

 

नई दिल्‍ली. सेबी ने म्‍युचुअल फंड और पोर्टफोलियो मैनेजर्स को कमोडिटी डेरिवेटिव्‍स में निवेश की छूट देने का प्रस्ताव रखा है, जिससे उनके पास निवेश का विकल्‍प बढ़ जाएं। सेबी को कमोडिटी मार्केट को रेग्युलेट करने का अधिकार दो साल पहले ही मिला है। सेबी इसके माध्यम से कमोडिटी मार्केट में सुरक्षा के साथ निवेश को बढ़ावा देना चाहता है। इसके लिए साल की शुरुआत में भी सेबी ने निवेश के कुछ नियमों में ढील दी थी।

 

यह भी पढ़ें : बिना लोन के भी ले सकते हैं कार, 2 लाख रुपए पड़ेगी सस्ती

 

 

FMC का हुआ सेबी में विलय

इससे पहले कमोडिटी मार्केट का रेग्युलेटर FMC था, लेकिन बाद में इसका सेबी में मर्जर कर दिया गया। इसके बाद सेबी ने कई कदम उठाए हैं जिससे लॉन्ग टर्म इन्‍वेस्‍टर्स को यहां पर निवेश की छूट मिली।

 

सेबी ने जारी किया कंसल्‍टेशन पेपर

सेबी ने कंसल्‍टेशन पेपर जारी कर इस पर लोगों से सलाह मांगी है। सेबी ने कहा है लोग इस मुद्दे पर दिसबंर के अंत तक अपने कमेंट दे सकते हैं। हालांकि इस पेपर में यह साफ नहीं है यह निवेशक एग्री और नॉन एग्री में से किस कैटेगरी के लिए है।

 

कमोडिटी डेरिवेटिव्‍स में नहीं है संस्‍थागत निवेशक

अभी कमोडिटी डेरिवेटिव्‍स मार्केट में कोई भी संस्‍थागत निवेशक नहीं है। इसके चलते इस मार्केट में पर्याप्‍त लिक्विडिटी नहीं है। इसके चलते सही तरीके से कमोडिटी की प्राइस डिस्‍कवरी नहीं हो पाती है। हालांकि इससे पहले कई कमेटियों ने सिफारिशें की हैं कि इस मार्केट में विदेशी संस्‍थागत निवेशक और घरेलू संस्‍थागत निवेशकों को मौका दिया जाए।

 

 

यह भी पढ़ें : पहली सैलरी से बनाएं 1 लाख का फंड, ये हैं 3 बेस्ट ऑप्शन

 

 

 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट