बिज़नेस न्यूज़ » Market » Commodity » Agriधान की MSP 200 रु प्रति क्विंटल बढ़ा सकती है सरकार, इस हफ्ते हो सकती है घोषणा

धान की MSP 200 रु प्रति क्विंटल बढ़ा सकती है सरकार, इस हफ्ते हो सकती है घोषणा

चालू वर्ष के लिए कॉमन ग्रेड धान के लिए MSP 1,550 रु/क्विंटल औऱ ग्रेड ए किस्म के लिए 1,590 रु/क्विंटल किया गया था।

Govt may hike paddy MSP by Rs 200 per quintal
 
नई दिल्ली.  सरकार 2019 के आम चुनाव से पहले किसानों को लुभाने के लिए धान का मिनिमम सपोर्ट प्राइस (MSP) 13 फीसदी बढ़ा सकती है। सूत्रों के अनुसार, सरकार 2018-19 के लिए धान का एमएसपी 200 रुपए बढ़ाकर 1,750 रुपए प्रति क्विंटल कर सकती है। इसके अलावा अन्य 13 खरीफ फसलों के एमएसपी भी तेजी से बढ़ने की उम्मीद है।
 
 
खरीफ फसलों पर डेढ़ गुना एमएसपी का फैसला जल्द
सूत्रों के अनुसार, इस संबंध में इस सप्ताह में निर्णय लिए जाने की उम्‍मीद है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले हफ्ते घोषणा की थी कि कैबिनेट आगामी बैठक में खरीफ फसल का मिनिमम सपोर्ट प्राइस उसके प्रोडक्शन कॉस्ट का कम से कम 1.5 गुना तक बढ़ाने को मंजूरी देगी। एमएसपी बढ़ाने के फैसले में देरी की वजह इससे बजट पर पड़ने वाले बोझ का आकलन है।
 
CACP की सिफारिश के मुकाबले ज्यादा हो सकती है MSP
एग्रीकल्‍चर मिनिस्ट्री ने खरीफ फसलों के लिए हायर एमएसपी का प्रस्ताव सरकार की एडवाइजरी बॉडी सीएसीपी (CACP) की सिफारिश के मुकाबले ज्यादा किया है। बंपर प्रोडक्शन की वजह से ज्यादा फसलों के उपज के दाम घटने से किसानों की नाराजगी को देखते हुए एमएसपी बढ़ाने का प्रस्ताव किया है। सरकार ने इस साल आम बजट में कहा था कि वह फसलों का एमएसपी कॉस्ट ऑफ प्रोडक्शन का कम से कम 1.5 गुना करेगी। यह 2014 के आम चुनावों में बीजेपी का चुनावी वादा था।
 
200 रुपए प्रति क्विंटल MSP बढ़ाने का प्रस्ताव
सूत्रों के अनुसार, क्रॉप ईय़र 2018-19 के लिए धान (कॉमन ग्रेड) का एमएसपी 200 रुपए प्रति क्विंटल बढ़ोतरी का प्रस्ताव दिया गया है। चालू वर्ष के लिए कॉमन ग्रेड धान के लिए एमएसपी 1,550 रुपए प्रति क्विंटल औऱ ग्रेड ए किस्म के लिए एमएसपी 1,590 रुपए प्रति क्विंटल तय किया गया था।
आम तौर पर, एमएसपी को बुआई की शुरुआत से ठीक पहले घोषित किया जाता है, ताकि किसानों को वह फसल चुनने में मदद मिल सके, जो वे बोना चाहते हैं। खरीफ फसलों की बुआई दक्षिण-पश्चिम मानसून की शुरूआत और अक्टूबर से कटाई शुरू होती है।
 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट