Home » Market » Commodity » Agrigovernment approved raising import duty on wheat to 30 per cent from the current 20 per cent

सरकार ने गेहूं पर इंपोर्ट ड्यूटी बढ़ाकर की 30%, जल्‍द जारी होगा नोटिफिकेशन

सरकार ने गेहूं की इम्‍पोर्ट ड्यूटी को 20 फीसदी से बढ़ाकर 30 फीसदी कर दिया है।

1 of
 
नई दिल्‍ली. देश में उम्मीद से ज्यादा गेहूं की खरीद को देखते हुए सरकार ने गेहूं पर इम्‍पोर्ट ड्यूटी 20 फीसदी से बढ़ाकर 30 फीसदी कर दी है। इस बात की जानकारी फाइनेंस मिनिस्‍ट्री के एक अधिकारी ने दी है। न्‍यूज एजेंसी कोजेन्सिस के अनुसार इस संबंध में जल्‍द ही नोटिफिकेशन जारी किया जाएगा। 

 
उम्‍मीद से ज्‍यादा रही गेहूं की खरीद
सरकार ने यह फैसला इस सीजन में गेहूं की उम्‍मीद से ज्‍यादा खरीद के चलते लिया गया है। इसके चलते चिंता जताई जा रही थी कि फूड कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया अगर आयात ऐसा ही बढ़ता रहा तो इसे ठीक से स्‍टॉक नहीं कर पाएगा। 
 
 
पहले बढ़ा चुकी है चने पर इंपोर्ट ड्यूटी  
सरकार ने इससे पहले देश में चने के रिकॉर्ड उत्पादन को ध्यान में रखते हुए इसके आयात को बढ़ाकर 60 फीसदी कर दिया था। यह बढ़ोत्‍तरी मार्च में की गई थी। राजस्व विभाग की ओर से जारी अधिसूचना के मुताबिक, चने पर इंपोर्ट ड्यूटी 50 फीसदी से बढ़ाकर 60 फीसदी कर दी थी।  इससे पहले फरवरी के पहले सप्ताह में सरकार ने चना पर इंपोर्ट ड्यूटी 30 फीसदी से बढ़ाकर 50 फीसदी कर दी थी।  
 
 
चने का रकबा बढ़ा
इस साल देश में चने का रकबा 1.07 करोड़ हेक्टेयर है, जोकि पिछले फसल वर्ष 2016-17 के 99.54 लाख हेक्टेयर से 8.13 फीसदी ज्यादा है। केंद्रीय कृषि मंत्रालय की ओर से जारी फसल वर्ष 2017-18 (जुलाई-जून) के दूसरे अग्रिम उत्पादन अनुमान के मुताबिक देश में चने का रिकॉर्ड उत्पादन 1.11 करोड़ टन होने का आकलन किया गया है, जोकि पिछले साल से 18.33 फीसदी अधिक है। पिछले साल देश में चने का उत्पादन 93.8 लाख टन हुआ था, जबकि पिछला रिकॉर्ड उत्पादन 2013-14 का 95.3 लाख टन है। 
 
 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट