Home » Market » Commodity » AgriFM Arun Jaitley lights the lamp to launch the 1st Agri options in Guar Seed

इकोनॉमिक ग्रोथ का फायदा किसानों तक पहुंचाने की कोशिश: जेटली

वित्‍त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि भारतीय अर्थव्‍यवस्‍था के लिए एग्री सेक्‍टर की शीर्ष प्राथमिकता है।

1 of

नई दिल्‍ली. वित्‍त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि भारतीय अर्थव्‍यवस्‍था के लिए एग्री सेक्‍टर की शीर्ष प्राथमिकता है। हमारी कोशिश है कि इकोनॉमिक ग्रोथ का फायदा समाज के हर तबके खासकर किसानों को मिले। जेटली ने रविवार को कमोडिटी एक्‍सचेंज एसीडीईएक्‍स पर ग्‍वार सीड में ऑप्‍शन ट्रेडिंग लॉन्‍च किया। आम बजट से पहले जेटली ने कहा कि देश की आर्थिक वृद्धि को तब तक 'तर्कसंगत और समानता वाला' नहीं ठहराया जा सकता, जब तक कि एग्री सेक्‍टर में इसका लाभ स्पष्ट रूप से न दिखने लगे। 

 


जेटली ने कहा कि कहा कि भारत दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्थाओं में से एक है। इसका लाभ विभिन्न क्षेत्रों को मिल रहा है। ज्यादातर लोग एग्रीकल्‍चर पर निर्भर हैं। यदि एग्रीकचर सेक्‍टर क्षेत्र को ग्रोथ का लाभ नहीं दिखता है, तो यह उचित नहीं होगा। 

 

ऑप्‍शन ट्रेडिंग से मिलेगा सही दाम 

वित्त मंत्री ने कहा कि कुछ स्थानों पर अधिक प्रोडक्‍शन की वजह से हम कीमतों में गिरावट की समस्या का सामना कर रहे हैं। किसानों को उनकी उपज की वाजिब कीमत नहीं मिल रही है। किसानों को इस स्थिति से बाहर लाने के लिए पिछले कुछ सालों में कई कदम उठाए गए हैं। जेटली ने कहा कि ऑप्‍शन ट्रेडिंग भी इसी दिशा में उठाया गया कदम है। शुरुआत में विकल्प ऑप्‍शन ट्रेडिंग छोटा कदम लगेगा, लेकिन आने वाले दिनों में इसके बारे में जागरूकता बढ़ने के बाद इससे किसानों को फायदा होगा। 

 

ग्रोथ रेट 6.5% रहने का अनुमान 

केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय (सीएसओ) के ताजा आंकड़ों के अनुसार वित्त वर्ष 2017-18 में देश की जीडीपी ग्रोथ रेट चार साल के निचले स्तर 6.5 फीसदी पर आने का अनुमान है। यह मोदी सरकार के टर्म की सबसे निचली ग्रोथ रेट होगी। सीएसओ का अनुमान है कि चालू वित्त वर्ष में एग्रीकल्‍चर और इससे जुड़े सेक्‍टर की ग्रोथ रेट घटकर 2.1 फीसदी पर आ जाएगी, जो इससे पिछले वित्त वर्ष में 4.9 प्रतिशत रही थी। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट