बिज़नेस न्यूज़ » Insurance » Travel Insuranceट्रैवल इंश्‍योरेंस लेते वक्‍त रखें इन बातों का ध्‍यान

ट्रैवल इंश्‍योरेंस लेते वक्‍त रखें इन बातों का ध्‍यान

गर्मियों की छुट्टियां आते ही हर कोई घूमने की प्लानिंग करने लग जाता है।

Keeping these tips in mind while taking travel insurance
 
नई दिल्‍ली। गर्मियों की छुट्टियां आते ही हर कोई घूमने की प्लानिंग करने लग जाता है। कुछ लोग देश के भीतर घूमना पसंद करते हैं तो कुछ विदेशी टूर पर निकल जाते हैं।  लेकिन इस दौरान अधिकतर लोग ट्रैवल इंश्‍योरेंस लेना जरुरी नहीं समझते हैं। वहीं जो लोग इस इश्‍योरेंस को लेते हैं वो भी कुछ जरुरी बातों का ध्‍यान नहीं देते हैं। हम आपको इस रिपोर्ट में बताएंगे कि किन जरुरी बातों का ध्‍यान रखना जरुरी है।  
 
सबसे पहले जानिए ट्रैवल इंश्योरेंस जरूरी क्‍यों 
 
यह इंश्योरेंस देश या विदेश यात्रा के दौरान मेडिकल खर्चों, ट्रिप कैंसिल होने, सामान खोने, फ्लाइट के दुर्घटनाग्रस्त होने या अन्य नुकसान की सूरत में आपको सुरक्षा प्रदान करता है। ऐसे में यात्रा के दौरान आने वाली तमाम परेशानियों से बचने के लिए ट्रैवल इंश्योरेंस एक बेहतर विकल्प है।
 
कहां से लें ट्रैवल  इंश्‍योरेंस 
 
अगर आप चाहें तो ट्रैवल इंश्‍योरेंस किसी भी इंश्‍योरेंस कंपनी से खरीद सकते हैं। इसके लिए आप ऑथराइज्‍ड इंश्‍योरेंस एजेंट्स या ब्रोकर से संपर्क कर सकते हैं। इसके अलावा ऑनलाइन प्‍लेटफॉर्म पर भी बजाज एलियांज जनरल इंश्योरेंस जैसी कई बड़ी कंपनियां हैं जो यात्रियों को ट्रैवल इंश्‍योरेंस मुहैया कराती हैं। बजाज एलियांज के हेल्थ एडमिनिस्ट्रेशन टीम के हेड भास्कर निरुरकर के मुताबिक ऑनलाइन ट्रैवल इंश्‍योरेंस पॉलिसी की प्राइसिंग में भी कोई अंतर नहीं है। 
 
विदेश यात्रा में सबसे जरुरी 
 
विदेश यात्रा में ट्रैवल इंश्योरेंस लेना सबसे जरुरी होता है क्‍योंकि विदेश में मेडिकल खर्च जेब पर भारी पड़ता है। इसके लिए टिकट बुकिंग के वक्त एयरलाइस या एजेंट ट्रैवल इंश्योरेंस का विकल्प देते हैं। 
 
इन बातों का रखें ध्‍यान 
 
आमतौर पर इंश्‍योरेंस कंपनियां पॉलिसी में यात्रा के दौरान के हर तरह के संकट को कवर करती हैं। लेकिन इसके बावजूद इंश्‍योरेंस कराते वक्‍त आपको इस बात का ध्‍यान रखना होगा कि आपकी पॉलिसी में एक्सीडेंट, हाइजैकिंग, बीमारी का खर्च, सामान की गुमशुदगी और चोरी शामिल है या नहीं। इसके अलावा पासपोर्ट की चोरी, फ्लाइट में देरी और टिकट कैंसिलेशन भी पॉलिसी में कवर होते हैं। वहीं अगर आपके पास एऩ्युअल ट्रैवल पॉलिसी है तो अलग से ट्रैवल प्लान खरीदने की जरूरत नहीं होती है। ट्रैवल इंश्योरेंस में फैमिली/ इंटरनेश्नल ट्रैवल इंश्योरेंस लें। 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Ask Your Questions
Any query related to insurance?
Ask us
*
*
*
*
4
+
5
=