Home » Insurance » Home InsuranceLandlord Insurance policy covers home owners from financial losses

किराये पर दे रहे हैं घर तो करा लें लैंडलॉर्ड इंश्‍योरेंस

लैंडलॉर्ड इंश्‍योरेंस पॉलिसी मकान किराये पर देने वाले मकान मालिक के फाइनेंशियल लॉस को कवर करती है

1 of
 
नई दिल्‍ली। लैंडलॉर्ड इंश्‍योरेंस एक खास तरह की होम इंश्‍योरेंस पॉलिसी है, जो अपना मकान किराये पर देने वाले मकान मालिक के फाइनेंशियल लॉस को कवर करती है। इस पॉलिसी में आग और संबद्ध खतरे, चोरी और जानबूझ कर पहुंचाए गए नुकसान शामिल हैं। 

 
क्‍या है लैंडलॉर्ड इंश्‍योरेंस पॉलिसी 
 
बैंक बाजार डॉट कॉम के मुताबिक,  कहा जाता है कि प्रॉपर्टी ऐसी संपत्ति है, जिसकी कीमत बढ़ती रहती है। यही वजह है कि लोग प्रॉपर्टी खरीद लेते हैं और किराये पर देकर महीना कमाई भी करते हैं। लेकिन कई दफा प्रॉपर्टी किराया पर देना नुकसानदायक साबित हो सकता है। ऐसी स्थिति से बचाने का काम लैंडलॉर्ड इंश्‍योरेंस पॉलिसी करती है। 
 
कौन से नुकसान हैं शामिल 
लैंडलॉर्ड इंश्‍योरेंस पॉलिसी में बिल्डिंग के स्‍ट्रक्‍चर के डैमेज होने, घर में आग, चोरी, तूफान, तोड़फोड़ या किरायेदार द्वारा किए गए नुकसान को शामिल किया जाता है। यदि पूरी तरह नुकसान हो जाता है तो आपकी लैंडलॉर्ड इंश्‍योरेंस पॉलिसी आपकी पूरी प्रॉपर्टी के रिप्‍लेसमेंट कॉस्‍ट को कवर करती है। 
 
कितने कवर ले सकते हैं आप 
लैंडलॉर्ड इंश्‍योरेंस पॉलिसी के तहत आप कई तरह-तरह के अलग-अलग कवर ले सकते हैं या आप सभी कवर एक साथ ले सकते हैं। जैसे कि - 
- बीमा कंपनी देगी किराया 
- यदि आपकी रेंटल प्रॉपर्टी आग या तूफान की वजह से रहने लायक नहीं रह गई है तो लैंडलॉर्ड इंश्‍योरेंस में लॉस ऑफ इनकम भी कवर  है। यानी कि आपको बीमा कंपनी किराये के सामान बीमा कवर का भुगतान करेगी। 
 
लायबिलिटी इंश्‍योरेंस 
अगर किराये पर दिए गए आपके मकान में किसी तरह की दुर्घटना होने पर तीसरे व्‍यक्ति (किरायेदार या अन्‍य) को नुकसान पहुंचाता है। उससे जुड़े खर्च, मुकदमा आदि का कवर भी इस पॉलिसी के तहत उपलब्‍ध है। इसे लायबिलिटी इंश्‍योरेंस कवर का जाता है। यदि आप मकान मालिक के रूप में किरायेदार या अन्‍य के नुकसान के लिए ज़िम्मेदार पाए जाते हैं, तो लैंडलॉर्ड बीमा पॉलिसी आपको कवर करेगी। उदाहरण के लिए, यदि आप अपने मकान में एक पाइप ठीक करा रहे हैं और यह किरायेदार के मूल्यवान दस्तावेजों को नष्ट कर देता है, तो किरायेदार आपके खिलाफ मुकद्मा दायर कर सकता है। ऐसे मामलों में, लैंडलॉर्ड इंश्‍योरेंस आपके खर्च को कवर करेगा।
 
एड-ऑन कवरेज 
लैंडलॉर्ड इंश्‍योरेंस लेते वक्‍त आप कुछ अतिरिक्‍त कवरेज को शामिल कर सहे हैं। जैसे कि नेचुरल डिजास्‍टर इंश्‍योरेंस, इम्‍प्‍लॉयर लॉयबिलिटी इंश्‍योरेंस, रेंट गारंटी और लैंड कंटेंट इंश्‍योरेंस को शामिल कर हैं। यह ऐड-ऑन कवर आपकी जरूरत के मुताबई कई अन्‍य सुधिाएं भी उपलब्‍ध कराती है। 
 
लैंडलॉर्ड इंश्‍योरेंस का महत्व और लाभ
यह पॉलिसी प्राकृतिक आपदाओं, चोटों, दुर्घटनाओं और अन्य लॉयबि‍लिटी आदि से होने वाले वित्तीय नुकसान के खिलाफ आपकी रक्षा करती है। 
यह किराए के नुकसान के लिए क्षतिपूर्ति करती है। 
आपकी प्रॉपर्टी की रिपेयर और रिप्‍लेसमेंट भी कवर किया जाता है। 
आपका किरायेदार आपकी संपत्ति को नुकसान पहुंचाता है, तो आप लैंडलॉर्ड इंश्‍योरेंस क्‍लेम कर सकते हैं। 
सामान्य हो इंश्‍योरेंस में आपकी किराये की संपत्ति के नुकसान और क्षति को शामिल नहीं किया जाता। 
 
सभी बीमा कंपनी देती हैं पॉलिसी 
अगर आप लैंडलॉर्ड इंश्‍योरेंस लेना चाहते हैं तो लगभग सभी बड़ी बीमा कंपनियां यह पॉलिसी देती हैं। आप इन बीमा कंपनियों की वेबसाइट पर जाकर इस पॉलिसी के लिए अप्‍लाई कर सकते हैं।   
 
आगे पढ़ें ...
इनसे तय होता है प्रीमियम 
प्रॉपर्टी का आकार क्‍या है 
प्रॉपर्टी की उम्र कितनी है 
प्रॉपर्टी की भौगोलिक स्थित क्‍या है 
कितने मकान किराये पर दिए गए हैं 
आपने सेफ्टी अरेजमेंट किए हैं या नहीं 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Ask Your Questions
Any query related to insurance?
Ask us
*
*
*
*
4
+
5
=