Home » Insurance » Health Insurancecritical illness plan if your family have cancer history

फैमिली में किसी को हो चुका है कैंसर तो खरीदें यह खास बीमा प्लान, 5 हजार रुपए प्रीमियम में मिल जाएगा 15 लाख का कवर

बेसिक हेल्‍थ इन्‍श्‍योरेंस प्‍लान नहीं है काफी

1 of

नई दिल्‍ली। अगर आपकी फैमिली में कैंसर, दिल की बीमारी या डायबिटीज जैसी बीमारियों की हिस्‍ट्री रही है तो क्रिटिकल इलनेस प्‍लान आपके काम का हो सकता है। फैमिली में बीमारी की हिस्‍ट्री होने से परिवार के सदस्‍यों को बीमारी होने की ज्‍यादा संभावना रहती है। ऐसे में आप खुद को और अपने परिवार को क्रिटिकल इलनेस प्‍लान से कवर कर सकते हैं जिससे कोई गंभीर बीमारी होने पर इसका हलाज आसानी से हो सके और आर्थिक दिक्‍कतों का सामना न करना पड़े। 

 

बेसिक हेल्‍थ इन्‍श्‍योरेंस प्‍लान नहीं है काफी 

 

आम तौर पर लोग बेसिक हेल्‍थ इन्‍श्‍योरेंस प्‍लान 4 या 5 लाख रुपए का लेते हैं। लेकिन गंभीर बीमारी जैसे कैंसर या किडनी फेल्‍योर होने पर इलाज के लिए इतनी रकम पर्याप्‍त साबित नहीं होती है। ओरिएंटल इन्‍श्‍योरेंस के रिटायर्ड डीजीएम एनके सिंह का कहना है कि अगर आपकी फैमिली में बीमारी की हिस्‍ट्री है तो बेसिक हेल्‍थ कवर के साथ क्रिटिकल इलनेस प्‍लान भी लेना चाहिए। इससे कोई गंभीर बीमारी होने पर पैसों के लिहाज से बड़ी मदद मिलती है। 

 

आगे पढें-

क्रिटिकल इलनेस प्‍लान की जरूरत क्‍यों 
 

अगर आपकी फैमिली में बीमारी की हिस्‍ट्री है तो आपको क्रिटिकल इलनेस प्‍लान लेना चाहिए। इसके अलावा अगर आपकी उम्र 40 वर्ष हो गई है तो आपको क्रिटिकल इलनेस प्‍लान लेने पर गंभीरता से विचार करना चाहिए। इसका कारण यह है कि 40 वर्ष की उम्र के बाद गंभीर बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है। अगर आप किसी गंभीर बीमारी का शिकार हो जाते हैं तो क्रिटिकल इन्‍श्‍योरेंस प्‍लान आपको फाइनेंशियल सपोर्ट देता है। किसी भी व्‍यक्ति को अगर गंभीर बीमारी हो जाती है तो उसके लिए जीवन सामान्‍य नहीं रह जाता हैं। वह लंबे समय तक काम करने के लायक नहीं रह जाता है। ऐसे में उसकी इनकम का सोर्स भी खत्‍म हो जाता है। ऐसी सिचुएशन में क्रिटिकल इलनेस प्‍लान बड़े काम का साबित हो सकता है। क्रिटिकल इलनेस प्‍लान में बीमारी डायग्‍नोस होने पर एक तय राशि मिल जाती है। इससे व्‍यक्ति अपना इलाज करा सकता है र्और आपकी दूसरी जरूरतों को भी पूरा कर सकता है। 

 

क्रिटिकल इलनेस प्‍लान के फायदे 
 

क्रिटिकल इलनेस प्‍लान बीमारी का पला चलने पर एक फिक्स अमाउंट उपलब्ध कराते हैं। इस अमाउंट का इस्‍तेमाल बीमारी के इलाज और मरीज की देखभाल, कर्ज के भुगतान, इनकम का सोर्स खत्‍म हो जाने पर उसकी भरपाई के लिए किया जा सकता है। क्रिटिकल इलनेस प्‍लान के प्रीमियम पर सेक्‍शन 80 सी के तहत टैक्‍स छूट भी मिलती है। 

3 से 5 हजार रुपए सालाना प्रीमियम में मिल जाएगा 15 लाख का कवर 

 

निजी क्षेत्र की साधारण बीमा कंपनी आईसीआईसीआई लोंबार्ड जनरल इन्‍श्‍योरेंस के चीफ, अंडरराइटिंग एंड क्‍लेम्‍स, संजय दत्‍ता ने moneybhaskar.com को बताया कि आपने बेसिक हेल्‍थ इन्‍श्‍योरेंस कवर नहीं लिया है तब भी आप क्रिटिकल इलनेस प्‍लान ले सकते हैं। एक 35 साल की उम्र का व्‍यक्ति अगर अपनी वाइफ और दो बच्‍चों के लिए 15 लाख सम एश्‍योर्ड का क्रिटिकल प्‍लान लेता है तो उसे सालाना 3 से 5 हजार रुपए में यह प्‍लान मिल जाएगा। यह प्‍लान बेसिक हेल्‍थ इन्‍श्‍योरेंस कवर की तुलना में सस्‍ता पड़ता है। 


क्रिटिकल इलनेस प्‍लान में कौन सी बीमारियां होती हैं कवर 

 

आम तौर पर क्रिटिकल इलनेस प्‍लान में दिल की बीमारी , मल्‍टीपल सिरोसिस, स्‍ट्रोक, कैंसर, मेजर ऑर्गन ट्रांसप्‍लांट, किडनी फेल्‍योर, बाईपास सर्जरी और पैरालिसिस जैसी बीमारियां कवर होती हैं। कुछ बीमा कंपनियों के क्रिटिकल इलनेस प्‍लान में इससे ज्‍यादा बीमारियां भी कवर हो सकती हैं। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Ask Your Questions
Any query related to insurance?
Ask us
*
*
*
*
4
+
5
=