Trending News Alerts

ट्रेंडिंग न्यूज़ अलर्ट

    Home »Industry »Textile» The Government Has Set Up Six Focus Incubation Centres At A Cost Of Rs 17.4 Crore

    इन्‍क्‍यूबेशन सेंटर बनने से टेक्निकल टेक्‍सटाइल को मिलेगा बूस्‍ट

    इन्‍क्‍यूबेशन सेंटर बनने से टेक्निकल टेक्‍सटाइल को मिलेगा बूस्‍ट
     
     
    नई दिल्‍ली। सरकार ने 17.4 करोड़ रुपए की लागत से छह फोकस इन्‍क्‍यूबेशन सेंटर की स्‍थापना की है। सरकार की इस पहल का मकसद नए एंटरप्रेन्‍योर्स को इनोवेटिव टेक्निकल टेक्‍सटाइल प्रोडक्‍ट्स डेवलप करने में मदद करना और इस सेक्‍टर की मैन्‍युफैक्‍चरिंग को बढ़ावा देना है। टेक्‍सटाइल्‍स मिनिस्‍टर संतोष गंगवार ने शुक्रवार को ये जानकारियां दीं।
     
     
    टेक्‍नोटेक्‍स 2016 की तैयारी
     
    टेक्‍नोटेक्‍स 2016 की तैयारी के दौरान मिनिस्‍टर ने कहा कि देश के सामाजिक और आर्थिक मोर्चों पर टेक्निकल टेक्‍सटाइल्‍स बड़ी भूमिका निभा सकती है। उन्‍होंने कहा कि ये सेंटर ‘प्‍लग एंड प्‍ले’ मॉडल के तहत इनोवेटिव टेक्निकल टेक्‍सटाइल प्रोडक्‍ट्स के उत्‍पादन में एंटरप्रेन्‍योर्स की मदद करेंगे। मिनिस्‍टर ने कहा कि इन्‍क्‍यूबेशन सेंटर के निर्माण से टेक्‍सटाइल्‍स में मेक इन इंडिया को बढ़ावा मिलेगा।
     
    मैन्‍युफैक्‍चरिंग हब बनाना है इसका मकसद
     
    तीन दिवसीय टेक्‍नोटेक्‍स 2016 की शुरुआत 21 अप्रैल को मुंबई में होने जा रही है। इसका लक्ष्‍य टेक्निकल टेक्‍सटाइल्‍स के क्षेत्र में भारत को मैन्‍युफैक्‍चरिंग हब बनाना है। टेक्निकल टेक्‍सटाइल्‍स पर होने जा रही इस पांचवीं इंटरनेशनल ए‍ग्‍जीबिशन एंड कॉन्‍फ्रेंस में टेक्निकल टेक्‍सटाइल्‍स की अपार क्षमता के दोहन पर बल दिया जाएगा। कॉन्‍फ्रेंस में टेक्निकल टेक्‍सटाइल्‍स की बढ़ती विविधता और इनोवेटिव यूज को देखते हुए इसके विस्‍तार पर फोकस किया जाएगा।
     
    427 करोड़ की चल रही है एक स्‍कीम
     
    टेक्‍सटाइल्‍स सेक्‍टर के बारे में बताते हुए मिनिस्‍टर ने कहा कि देश के उत्‍तरी-पूर्वी क्षेत्र में जियोटेक्निकल टेक्‍सटाइल्‍स के उपयोग को बढ़ावा देने के लिए सरकार द्वारा पिछले साल मार्च में 427 करोड़ रुपए की एक स्‍कीम लॉन्‍च की गई थी।
     
    स्‍कीम से रोड़ कंस्‍ट्रक्‍शन को बढ़ावा
     
    स्‍कीम के तहत रोड़ कंस्‍ट्रक्‍शन, स्‍लोप स्‍टैबिलाइजेशन और जल भंडारों में जियोटेक्‍सटाइल्‍स के उपयोग को बढ़ावा दिया जा रहा है। गंगवार ने कहा कि 8.17 करोड़ रुपए की कुल लागत से 44 प्रदर्शन केंद्रों के निर्माण की स्‍वीकृति दी गई है। 

    Recommendation

      Don't Miss

      NEXT STORY