Home » Industry » StartupsTop Indian startups on hiring spree: Report

टॉप इंडि‍यन स्‍टार्टअप्‍स ने कीं जमकर भर्ति‍यां, फ्रेश ग्रेजूएट्स को मि‍ले सबसे ज्‍यादा मौके

टॉप स्‍टार्टअप्‍स की ओर से जमकर भर्ति‍यां की गई हैं और इसमें आधी से ज्‍यादा नौकरि‍यां फ्रेश ग्रेजूएट्स को दी हैं।

Top Indian startups on hiring spree: Report

नई दि‍ल्‍ली। भारत की टॉप स्‍टार्टअप्‍स कंपनि‍यों की ओर से जमकर भर्ति‍यां की गई हैं और इसमें आधी से ज्‍यादा नौकरि‍यां फ्रेश ग्रेजूएट्स को दी हैं। ये नौकरि‍यां 1 अरब डॉलर से ज्‍यादा की वैल्‍यूएशन वाली हैं जि‍नहें यूनि‍कॉर्न कहा जाता है। ग्‍लोबल जॉब साइट Indeed  के ताजा आंकड़ों के मुताबिक, चार यूनि‍कॉर्न - स्‍नैपडील, पेटीएम, शॉपक्‍लूज और फ्लि‍पकार्ट ने 90 फीसदी नौकरि‍यां दी हैं।   

 

फ्रेश ग्रेजूएट्स को मि‍ला चांस

 

Indeed इंडि‍या के एमडी शशि‍ कुमार ने कहा कि‍ Indeed की ताजा स्‍डटी यह बताती है कि‍ यूनि‍कॉर्नस की ओर से की गई सभी नौकरि‍यों में से आधी से ज्‍यादा (57 फीसदी) फ्रेश ग्रेजूएट्स को मि‍ली हैं। यह लाखों यंग फ्रेशर्स के लि‍ए प्रोत्‍साहि‍त करने वाला है जो अपने करि‍यर की शुरुआत यंग कंपनि‍यों के साथ कर रहे हैं और स्‍टार्टअप इकोसि‍स्‍टम का हि‍स्‍सा बन रहे हैं। 

 

कॉन्‍ट्रैक्‍ट पर हायरिंग

 

कुमार ने आगे कहा कि‍ हमारी जॉब फ्लेक्‍सि‍बि‍लि‍टी पर की गई इससे पहले की स्‍टडी यह भी बताती है कि‍ इन कंपनि‍यों में कॉन्‍ट्रैक्‍चुअल हायरिंग का ट्रेंड है। यह उन लोगों के लि‍ए बेहतर है जो वर्क और लाइफ दोनों के बीच बैलेंस बनाना चाहते हैं।  

 

स्‍नैपडील ने करी सबसे ज्‍यादा भर्ति‍यां 

 

टोटल जॉब पोस्‍टिंग में स्‍नैपडील सबसे आगे रही। स्‍नैपडील की ओर 53 फीसदी जॉब पोस्‍टिंग हुई। इसके बाद 23 फीसदी के साथ पेटीएम का नंबर है। इस लि‍स्‍ट में शॉपक्‍लूज ( 11 फीसदी), फ्लि‍पकार्ट (4 फीसदी), जोमैटो (4 फीसदी), ओला कैब्‍स (3 फीसदी) और इनमोबि‍ (2 फीसदी) आदि‍ शामि‍ल हैं। इसमें टॉप 4 कंपनि‍यां की टोटल हायरिंग में 90 फीसदी की हिस्‍सेदारी है। वहीं, इसमें अधि‍कांश कंपनि‍यां दि‍ल्‍ली-एनसीआर की है, इसलि‍ए यहां सबसे ज्‍यादा जॉब पोस्‍टिंग हुई है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट