Home » Industry » StartupsRoom for student provided by startup Your Space

स्टूडेंट्स से मिले आइडिया पर खड़ी कर दी कंपनी, पहले ही साल Your Space ने कमा लिए 5 करोड़

Student को रूम किराए पर देने वाली कंपनी Your Space को शुभा लाल करन कोशिश और निधि कुमरा ने शुरू किया है।

1 of
 
नई दिल्‍ली. स्‍टूडेंट की रहने की जगह की दिक्‍कतों से मिले आइडिया से तीन लोगों ने Your-Space नाम से स्‍टार्टअप शुरू किया और आज यह 5 करोड़ रुपए का रेवेन्‍यू जेनरेट कर रहा है। वर्ष 2018-19 के लिए रेवेन्‍यू का टारगेट 20 करोड़ रुपए का तय किया है। कंपनी ने विभिन्‍न शहरों में 7 नई प्रॉपर्टी के साथ टाइअप करके छात्रों के लिए 1000 बेड की और व्‍यवस्‍था की है।
 

2016 में शुरू किया था स्‍टार्टअप

इस स्‍टार्टअप की शुरुआत 2016 में हुई थी। शुभा लाल, करन कोशिश और निधि कुमरा इन तीन लोगों ने मिलकर इसे शुरू किया था। इस स्‍टार्टअप ने अपने शुरुआत दौर में ही 10 लाख डॉलर का फंड एंजल इन्‍वेस्‍टर और HNIs से जुटा लिया था। इस निवेश के बाद Your-Space ने और प्रॉपर्टी साथ जोड़ी हैं। इस वक्‍त कंपनी के पास 11 प्रॉपर्टी हैं, जिनमें 1200 से कमरे उपलब्‍ध हैं।

 

तेजी से बढ़ रही स्‍टूडेंट के लिए कमरों की मांग

प्रॉपर्टी सलाहकार कंपनी JLL India के अनुसार स्‍टूडेंट हाउसिंग सेक्‍टर में कमरों की मांग तेजी से बढ़ रही है। इस कंपनी ने सलाह दी है कि अगर कंपनियों को रेजिडेंशियल सेक्‍टर में गिरावट की मार से बचना है तो उन्‍हें इस क्षेत्र में काम करना चाहिए। भारत में इस सेक्‍टर में मांग काफी तेजी से बढ़ रही है।
 

नए सेशन में 7 प्रॉपर्टी जोड़ी

Your-Space स्‍टार्टअप की एक को-फाउंडर लाल ने बताया कि जुलाई से शुरू शिक्षा सत्र के दौरान 7 नई प्रॉपर्टी और जोड़ी हैं। इन सभी में को-लिविंग की सुविधा उपलब्‍ध है। यह प्रॉपर्टी दिल्‍ली एनसीआर, मुम्‍बई, चंडीगढ़, जलंधर और पुणे में हैं। इन सभी प्रॉपर्टी में कुल मिला कर 1000 बेड उपलब्‍ध हैं।
 
30 हजार रुपए तक है किराया
उन्‍होंने बताया कि उनके पास उपलब्‍ध प्रॉपर्टी में 10 हजार से लेकर 30 हजार रुपए प्रति माह तक के कमरे और बेड उपलब्‍ध हैं। यह किराया लोकेशन के आधार कम ज्‍यादा है। उन्‍होंने बताया कि इस किराए में बिजली का बिल शामिल नहीं है।
 
आगे पढ़ें : रेवेन्‍यू 5 करोड़ से बढ़ाकर 20 करोड़ करने का इरादा
 


 

 

रेवेन्‍यु चार गुना बढ़ाने का टारगेट

लाल का कहना है कि 7 नई प्रॉपर्टी जुड़ने के बाद उन्‍हें उम्‍मीद है कि वर्ष 2018-19 के दौरान कंपनी 20 करोड़ रुपए का रेवेन्‍यू टारगेट हासिल कर लेगी। पिछले साल कंपनी को 5 करोड़ रुपए का रेवेन्‍यू मिला था।
 

शिक्षा सत्र की शुरुआत में जोड़ते हैं नई प्रॉपर्टी

उन्‍होंने कहा कि कंपनी नए शिक्षा सत्र की शुरुआत में ही प्रॉपर्टी को जोड़ती है। उनके अनुसार कंपनी विभिन्‍न शहरों में प्रॉपर्टी मालिकों से चर्चा करती रहती है। कंपनी का इरादा अगले वर्ष जयपुर, बंगलुरू, इंदौर और कोटा में नई प्रॉपर्टी जोड़ेगी।
 
आगे पढ़ें : कब होगी फंड की जरूरत
 

 

कंपनी को अगले वर्ष होगी फंड की जरूरत

उन्‍होंने बताया कि कंपनी को अगले साल अपने विस्‍तार के लिए फंड की जरूरत पड़ेगी। उन्‍होंने बताया कि कंपनी लोगों या कंपनी से फिक्‍स लीज या रेवेन्‍यू शेयरिंग मॉडल पर प्रॉपर्टी लेती है। यह समझौता 5 से 12 साल के लिए किया जाता है।
 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट