Home » Industry » StartupsStartup which started by woman on simple idea

इन महिलाओं ने अपने दम पर खड़ा किया करोड़ों का बिजनेस, आइडिया थे बेहद सिंपल

सिंपल आइडिया पर इन महिलाओं ने शुरु किए स्टार्टअप

1 of

नई दिल्ली। कई बार बेहद सिंपल आइडिया कैसे करोड़ों का बिजनेस खड़ा कर सकता है, इसका हमें अंदाजा नहीं होता है। ऐसी कई महिलाएं है जिन्होंने ऐसे सिंपल आइडिया को करोड़ों के बिजनेस में बदल दिया है। यहीं नहीं उन्होंने एक ट्रेंड भी बना दिया, जिसे बाकी लोग भी फॉलो कर रहे हैं। आइए जानते हैं ऐसे कौन सी वह महिलाएं हैं जिन्होंने अपनी एक नई पहचान बनाई है।

 

लिटिल ब्लैक बुक

 

लिटिल ब्लैक बुक की सीईओ सुचिता सलवान एक समय ये सुनकर थक गई थीं कि दिल्ली एक बोरिंग जगह है। उन्हें भी दिल्ली में घूमने के लिए जोमेटो, जस्ट डायल पर सही जगह नहीं मिलती थी जिसके बाद उन्होंने टम्बलर ब्लॉग शुरू किया। वह हर नई जगह को एक्सप्लोर करती और फिर उसके बारे में लिखती थी। उनका यही शौक अब बड़े बिजनेस का रूप ले चुका है। वह अब लिटिल ब्लैक बुक की सीईओ और फाउंडर है। उनका लिटिल ब्लैक बुक सात शहरों की खास जगहों, रेस्टोरेंट से लेकर इवेंट्स के बारे में लिखता है।

 

वेबसाइट को बनाया कमाई का जरिया

 

 

वह वेबसाइट पर विज्ञापन के जरिए पैसा कमाती हैं। वह कई ब्रांड को अपनी वेबसाइट पर प्रमोट करती है। वह एक योगा टीचर से लेकर लोकल रेस्त्रां तक को प्रमोट करती है। अब उनके ब्लॉग के 20 लाख यूजर हैं जिस पर 30 हजार लोकल बिजनेस को फायदा हो रहा है। वह फोर्ब्स 30 अंडर 30 एशिया 2016 की लिस्ट में शामिल हो चुकी हैं।

 

वेंचर कैपिटलिस्ट से मिले फंड्स

 

उन्हें करीब 10 करोड़ रुपए की फंडिंग राजन आनंदन, सचिन भाटिया और वेंचर कैपिटलिस्ट के जरिए मिली। सुचिता सालवान बीबीसी में काम करती थी। उन्होंने अपनी नौकरी छोड़कर लिटिल ब्लैक बुक शुरू की है। उन्हें लिटिल ब्लैक बुक शुरू करने के दो साल बाद इन्वेस्टर मिले।

 

आगे पढ़ें - अन्य स्टार्टअप के बारे में..

चुंबक

 

शुभ्रा गिफ्ट कारोबार में उतरी और उन्होंने अपने चुंबक ब्रांड को आजी काफी फेमस कर दिया है। उनके आउटलेट में इंडियन कल्चर से प्रेरित कई प्रोडक्ट मिल जाएंगे। शुभ्रा कॉरपोरेट जॉब में थी और बिजनेस करने के बारे में कभी नहीं सोचा था। साल 2008 में उन्होंने अपनी बेटी के जन्म के बाद अपने आप को ब्रेक दिया। उन्होंने गिफ्ट बिजनेस के बारे में सोचा और उन्होंने ऐसे ऑप्शन सोचे जो आसानी से नहीं मिलते। उन्होंने करीब एक साल इसके कॉन्सेप्ट, डिजाइन, सप्लायर, प्राइसिंग, रिटेल स्ट्रैटजी पर काम किया और मार्च 2010 में बंगलुरु में अपना पहला स्टोर खोला। ये स्टोर उन्होंने अपने हसबेंड विवेक प्रभाकर के साथ खोला।

 

घर बेचकर शुरु किया बिजनेस

 

उन्होंने अपने बिजनेस को शुरू करने के लिए अपना घर 40 लाख रुपए में बेच दिया। ये एक तरह का जुआं था लेकिन ये चल निकला। हालांकि, शुरूआती छह महीने काफी खराब थे लेकिन बाद में उनके पति ने कंपनी के सीईओ के तौर पर 2011 में ज्वाइन किया। अब उनका प्रोडक्ट रेन्ज में 100 से अधिक प्रोडक्ट शामिल है। वह अपने प्रोडक्ट अपनी वेबसाइट और ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म के जरिए बेचती हैं। उनके देश भर में 17 आउटलेट हैं। उन्होंने करीब 20 लाख डॉलर का फंड सीडफंड इंडिया के जरिए लिया।

 

आगे पढ़ें - अन्य स्टार्टअप के बारे में..

 

योर दोस्त

 

योर दोस्त एक ऑनलाइन काउंसलिंग पोर्टल है। रिचा सिंह ने इसे शुरू किया था। को-फाउंडर और सीईओ रिचा सिंह ने आईआईटी गुवाहाटी से ग्रेजुएशन किया है। वह एक इन्वेस्टमेंट फर्म में काम करती थी। उनके साथ के कुछ लोग डिप्रेशन में थे और उनकी एक होस्टल की लड़की नौकरी नहीं मिलने के कारण सुसाइड कर लिया था। उसके बाद उन्होंने योर दोस्त बनाने के बारे में सोचा। उनका योर दोस्त एक ऑनलाइन पोर्टल है जिस पर एक्सपर्ट काउंसलिंग करते हैं। यहां आपके वर्क और पर्सनल लाइफ से जुड़ी किसी भी प्रॉब्लम की काउंसलिंग की जाती है।

 

ऑनलाइन काउंसलिंग के जरिए कमाए पैसे

 

रिचा सिंह ने दिसंबर 2014 में योर दोस्ट लॉन्च किया। उनकी टैक्स्ट बेस्ड काउंसिंलग फ्री है लेकिन वॉइस और वीडियो काउंसलिंग के लिए 400 से 600 रुपए फीस है। अब उनके साथ 750 एक्सपर्ट हैं। इससे करीब 9 लाख लोगों को फायदा हुआ है। अभी उनके स्टार्टअप में 25 लोग हैं।

 

जेट सेट गो

 

 

कनिका टेकरीवाल को कैंसर था लेकिन उन्होंने न सिर्फ इस बीमारी से लड़कर इससे जीता बल्कि उसके बाद जेट सेटगो भी बनाई। ये इंडिया की पहली चार्टे प्लेन्स का मार्केट प्लेस है। उनकी कंपनी कस्टमर के बिजनेस विजिट से लेकर डेस्टिनेशन वेडिंग के लिए प्राइवेट जेट और हेलिकॉप्टर बुक करती है। कई बार उन्हें आसमान का उबर भी कहा जाता है। उन्होंने साल 2014 में जेट सेट गो बनाया। उन्होंने विदेश से एमबीए किया है। उनकी क्लाइंट लिस्ट में बिजनेस एक्जीक्यूटिव, पॉलिटिशन और टूरिस्ट शामिल है। उनके पास फाल्कान से लेकर हाकर्स एयरक्राफ्ट हैं।

 

 

 

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट